BlogAbout us

Story

Banner
Story • Drama
रीवेंज ऑफ देव | लेखक - प्रवीण सिंह नेगी

अपने नवजात शिशु को नदी में बहा देने के लिए हिम्मत चाहिए होती है। पर साथ ही सोचिए कितनी बड़ी मजबूरी होगी उन बदनसीब मां बाप की कि अपने नवजात बेटे को भगवान भरोसे नदी में प्रवाह कर दिया। क्या वो बेटा बचेगा? क्या वो लेगा अपने मां बाप के आंसुओं का बदला? कैसा होगा देव का प्रतिशोध? जानने के लिए सुनिए पूरी कहानी |

Banner
Story • Crime
नसीबों का लिखा | लेखिका - प्रीति कर्ण

पिता के देहांत के बाद काजल की सौतेली मां और भाई उसे घर से निकाल देते हैं। मरने से पहले काजल के पिता ने गांव के छोटे ठाकुर शौर्य से अपनी बेटी को संभालने का वचन लिया था इसलिए वे उसे अपने घर ले जाते हैं। लेकिन बुरा वक्‍त काजल का पीछा नहीं छोड़ता है। आखिर क्‍या होता है काजल के साथ? क्‍या उसके जीवन में सवेरा होता है? Voiceover Artist : Ashish Jain Author : Preeti Karn

Banner
Story • Thriller
एक प्यासी रूह | लेखिका - प्रीति बाला व्यास

किस्सा ये जादू की नगरी का है। जंगल में घूमने आए लोग पेड़-पौधों को तोड़ते हैं और जानवरों का शिकार करते हैं। एक शेर के बच्‍चे की मौत हो जाती है। इससे दुखी होकर शेरनी उन लोगों को श्राप देती है कि वे इसी जंगल के माया-जाल में रहेंगे। एक खास नक्षत्र में जन्‍म ली हुई कन्‍या और एक लड़का जब यहां आएंगे तो उन्‍हें इससे मुक्ति मिलेगी। मायाजाल से बने सुंदरवन के सभी पेड़-पौधे और वस्‍तुएं श्रापित हैं। सभी को उस लड़के और लड़की के आने का इंतजार है…तो क्‍या सभी को श्राप से मुक्ति मिल पाएगी? जानने के लिए सुनें एक अनोखी रहस्‍मयी कहानी। Author : Preeti Bala Vyas Voiceover Artist : RJ Manish

Banner
Story • Crime
कातिल हसीना | लेखिका -प्रतिभा सिंह राठौड़

एक गरीब परिवार की बेटी गरिमा आईएस बनना चाहती थी लेकिन समाज और कानून के ठेकेदार लोगों की दरिंदगी और परिस्थितियों के कारण गरिमा बंदूक उठाने पर मजबूर हो जाती है। आगे चलकर वह बीहड़ की कुख्‍यात डकैतों की मुखिया बन जाती है और अपना बदला लेती है, जिन लोगों के कारण उसे डकैत बनना पड़ता है। चंबल की घाटियों और कुख्‍यात डकैतों की कहानी है। Author : प्रतिभा सिंह राठौर Voiceover Artist : RJ Saloni

Banner
Story • Thriller
द ब्लैक डीमन | लेखक - तलहा अली

प्रोफेसर जावेद अपने असिस्टेंट अब्दुल के साथ मोहन नगर के काले जंगलों में भटकते हैं। उन काले जंगलों में जहाँ कभी काले राक्षसों का राज हुआ करता था। प्रोफेसर और अब्दुल उन जंगलों में भटकते हुए राक्षसों के महल तक जा पहुँचते हैं। वहां उन्हें एक स्याह काला ताबूत मिलता है, जिसे प्रोफेसर अपनी लैब ले आते हैं। इस घटना के पन्द्रह माह गुज़रने के बाद एक दिन कुछ ऐसा होता है की प्रोफेसर को अरेस्ट कर लिया जाता है। लेकिन क्यों? क्या किया था प्रोफेसर ने ऐसा? इस कहानी में एक और कड़ी जुड़ती है, जेम्स-बॉन्ड का इतिहास। वो इतिहास जो था उन राक्षसों का काला इतिहास था। रहस्‍य और रोमांच से भरी इस कहानी को आप सुनने के लिए उतावले हो जाएंगे।

Newly Released Story

Literature Story

Culture Story

Motivation Story