target audienceयदि आप के पास अच्छा कॉन्टेंट और कहानियां सुनाने की बेहतरीन कला है, तो पॉडकास्ट बनाना आप को लाखों लोगों तक पहुंचाने में मदद कर सकता है। ऑडियंस के साथ आपका रिश्ता यहां सबसे ज्यादा मायने रखता है। आप अपना कॉन्टेंट अपनी ऑडियंस के लिये ही तैयार करते हैं, आप अपने जैसा सोचने वालों को इकट्ठा करते हैं या आप उन लोगों से जुड़ते हैं जो आपके बारे में और आपके ज्ञान को जानना चाहते हैं। आपका कॉन्टेट कोई स्वादिष्ट रेसिपी, किसी के दिमाग को पढ़ना, या कोई भी विषय हो सकता है। हर विषय का अपना एक टारगेट ऑडियंस होता है।

ऑडियंस होना क्यों जरूरी है?

यदि आप गौर करें तो ऊपर बतायी हर स्तिथि में आप की ऑडियंस आप के पॉडकास्ट के सफर में सबसे अहम भूमिका निभाती है। अपने लिये एक बड़ी संख्या में ऑडियंस लाने में मेहनत तो लगेगी क्योंकि यही वो लोग होंगे जो कि आखिर तक आप के साथ बने रहेंगे। ये आप को उस लेवल तक ले जाने में मदद करेंगे, जहां आप अपनी मेहनत को ले जाना चाहते हैं।

तो अब इस आर्टिकल में आपको अपनी ऑडियंस और उसकी जरूरतों को पहचानने के बारे में बतायेंगे जिससे आपके लिसनर को तो फायदा होगा ही साथ ही आपके पॉडकास्ट को भी काफी लोकप्रियता मिलेगी।

हम अपने ऑडियंस के बारे में क्या समझ सकते हैं

पहली बार सोचने पर आपको ये काफी मुश्किल लग सकता है कि आप अपने ऑडियंस के पसंद को कैसे पहचानेंगे। लेकिन इसका साधारण-सा जवाब ये है कि आपकी ऑडियंस को बस अपने विषय से संबंधित और अच्छा कॉन्टेंट चाहिए।

इसके अलावा, यह पूरी तरह आप पर निर्भर करता है कि आप कैसे अपने ऑडियंस की इच्छा को पूरा करते हैं। आप को अपने ऑडियंस के लिये अर्थपूर्ण कॉन्टेंट लेकर आना होगा। क्योंकि जो भी कॉन्टेंट आप बनायेंगे वो आपके लिये टारगेट ऑडियंस लेकर आयेगा, और वो ऑडियंस ऐसा कॉन्टेंट ज्यादा सुनना चाहेगी । इसके अलावा उस विषय, जिस पर आप पॉडकास्ट बना रहे हैं, उसके बारे में और ज्यादा लोग जानना चाहेंगे, साथ ही आप के बोलने के तरीके से भी वो आकर्षित होंगे। तो कोशिश करें कि आप उन्हें मनोरंजक अंदाज में उनकी पसंद का कॉन्टेंट दें।

कॉन्टेंट के आधार पर ऑडियंस को जानना ।

हम जानते हैं कि आप सीधे इस मुद्दे पर आने से डरेंगे। तो चलिये हम आप की मदद करते हैं। आप को ये करना चाहिए कि लोग क्या चाहते हैं, ये जानें। अपने कॉन्टेंट को फिर उसी हिसाब से बनाये।
जैसे कि आप ऐसे बहुत से अलग अलग प्लेटफार्म्स इस्तेमाल कर सकते हैं, जिनसे आप को ये पता चलेगा कि इस वक्त कौन से मुद्दे या टॉपिक ट्रेन्ड में हैं। और इस समय ऑडियंस किस प्रकार का कॉन्टेंट चाह रही है।

मान लें कि आप एक शेफ हैं। आपके पास ऐसी बहुत-सी रेसिपी हैं जो आप बना सकते हैं पर आपको समझ नहीं आ रहा कि शुरू कहां से करें। तो इसके लिये, अपनी डिश को अलग-अलग कैटेगरी में बांट दीजिये, जैसे कि आसान डिश, फ्यूजन डिश, भारतीय डिश या कॉन्टिनेंटल डिश। अब अपनी कैटेगरी के अनुसार देखें कि ऑडियंस के हिसाब से क्या सही होगा। अपनी आसान डिश वाली कैटेगरी में भी कुछ वर्गों को टारगेट करें, जैसे वर्किंग वुमन, व्यस्त माँ, आदि।

अपनी काबिलियत के आधार पर, अपने कॉन्टेंट को सही दिशा में सही लिसनर्स तक पहुंचाइये।

फीडबैक:फीडबैक

अगर आप अपने प्रोजेक्ट को शुरू कर चुके हैं, तो आप ने कुछ भरोसेमंद ऑडियंस तो जुटा ही लिए होंगे, तो उनसे पूछिये। उनसे फीडबैक लेना और ये जानना, कि आखिर वो क्या चाहते हैं, हमेशा एक सही सलाह होती है। ये सलाह आप को अपने लिसनर के हिसाब से कॉन्टेंट बनाने में मदद करेगी। आप बहुत सारे तरीकों से फीडबैक ले सकते हैं।

कमेंट्स :

बहुत से प्लेटफार्म अपने यूजर को कमेंट्स करने और बात करने की सुविधा देते हैं। कुकु एफएम पर रोजाना करीब 650 औसत कमेंट्स आते हैं। फीडबैक के लिये कमेंट्स काफी प्रभावी तरीका है।

सोशल मीडिया :

आज सारी दुनिया सोशल मीडिया से परिचित है। किसी के लिए भी ये कॉन्सेप्ट नया नहीं है। सोशल मीडिया को अगर सही तरीके से इस्तेमाल किया जाये तो ये एक उपयोगी टूल साबित हो सकता है।

आपका पॉडकास्ट :

अपने पॉडकास्ट पर लोगों से फीडबैक मांगें। अपने यूजर को एक ई मेल आई डी दें और उसपर उनको फीडबैक देने के लिये कहें।

अपनी ऑडियंस को नाराज न होने दें।

आप को हर एक व्यक्ति की हर एक बात पर ध्यान देना जरूरी नहीं है। आप को अपने आप को प्रथमिकता देनी चाहिए और अपने हिसाब से काम करना चाहिए। स्वाभाविक और जुनून से बनाया गया कॉन्टेंट आपकी पहचान बनाने में सहायक होगा।

इसके अलावा, इन तीन परिवर्तनकारी चीजों पर भी विशेष ध्यान दें:

1. लोगों को जोड़ना
2. शिक्षित करना
3. मनोरंजन करना

अगर आप जानते हैं कि आप का कॉन्टेंट इन तीनों में से कोई भी एक चीज कर रहा है, तो आप बिल्कुल सही रास्ते पर हैं । आप को बस अपने कॉन्टेंट में धीरे-धीरे कुशलता लानी है और आप जल्दी ही कामयाब होंगे।

इसके अलावा और भी ऐसे कई तरीके हैं, जो आप के कॉन्टेंट को आगे बढ़ा सकते हैं। जैसे कि किसी एसे प्लेटफार्म पर होना जहां पहले से ही लाखों लोग जुड़े हों। जैसे कि कुकु एफएम पर तकरीबन 25 लाख लिसनर्स हैं। ऐसे प्लेटफार्म आपके कॉन्टेंट को लाखों लोगों तक पहुंचाने में मदद करते हैं।

आप भी लाखों लोगों तक कुकु एफएम के साथ अपनी बात पहुंचा सकते हैं। हम आपकी यात्रा के लिये आपको शुभकामनाएं देते हैं।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *