Made with  in India

Buy PremiumDownload Kuku FM

Part 10

Share Kukufm
Part 10 in  | undefined undefined मे |  Audio book and podcasts
577Listens
अंधेरी रात में, धमाकों के बीच, अपने ही साथियों की आंख में धूल झोंक कर गंथर भाग निकला… चलने-चलते उस ने पे-मास्‍टर सार्जेंट को घायल कर दिया और रूपयों की तिजोरी अपने साथ ले ली। लेकिन गंथर ने ऐसा क्‍यों किया? एम जर्मन सैनिक की सच्‍ची कहानी जिस ने अपनी सेना के विरूद्ध जिहाद छेड़ा। Publisher - Vishv Books Writer - Ganther Bahneman
Read More
Transcript
View transcript

फॅस । एक घंटे के बाद हम सीधी सलीम में पहुंच गए थे । ये नक्शों में उजागर स्थान अंकित था । यहाँ एक शेख की कब थी? और यह स्थान बार से दस मील दूर था जब शेख ही सफेद कब्र चमक ने लगे । बिल उमर ने मुझे रफ्तार कम करने का संकेत दिया । बनी ना मार्ग सही है । कब्र निकट ही थी पता हमने मार्क छोड दिया और कुछ दूर का चक्कर लगाकर कब्र से निकट आ गए तो सुप्रीम ने टामी गन उठा ली और दिन उमर का कुछ बताने के बाद नीचे उतर पडा और कब्र की ओर बढने लगा । मैंने किसी प्रकार का शब्द नहीं सुना । केवल ड्रीम के चलने की ध्वनि सुनाई पड रही थी लेकिन स्थान में अंधेरा था । चारों ओर सन्नाटा है । कहीं दूर एक उल्लू बोला और मैं सतर्क हो गया । मेरा हाथ आना यहाँ से अपनी ल्यूगर पिस्टल पर चला गया । मैंने उमर ने मेरे कंधे पर हाथ रखते हुए कहा सब ठीक है घबराने की आवश्यकता नहीं है । ये ड्रीम अंधेरे में गुम हो गया था और अब दिखाई नहीं पड रहा था । डाॅन मुझे ब्रेन के खडे होने के स्थान पर पता लगा क्योंकि उसने टॉर्च जलाकर कुछ संकेत दिया था । शीघ्र ही पत्थरों पर अनेक वोटों की ध्वनि उसी दिशा में सुनाई पडी । अंग्रेस बिना उमर नहीं धीरे से बताया, मैंने उत्तर में अपना सहलाया, फिर अपनी स्थिति को संभालने का प्रयास में क्या? परन्तु मैं अपने को अधिक आश्वस्त करने में असमर्थ रहा हूँ । ये भय नहीं था परंतु एक विचित्र प्रकार की उत्तेजना थी । जब टॉर्च फिर जली तो बेनो मरने गाडी स्टार्ट करने को कहा और उसने टॉर्च जलाने वाली दिशा में बढने का संकेत दिया । शांत वातावरण में मोटर के इंजन के धनी मुझे आश्चर्यजनक रूप से गूंजती हुई प्रतीत हुई । बहन तो ये मेरी भावना मात्र थी । देना उमर के होट मेरे गानों के पास आ गए । उसने मुझे गाडी से ना उतरने की सलाह दी । उसके शब्दों ने मुझे अपनी स्थिति से फिर अवगत करवा दिया और मैं आराम से सीट पर फैल कर बैठ गया । एक बार फिर टॉर्च की रोशनी चली जिसने सही दिशा में बढने का संकेत दिया और मैंने इब्राहीम के सिर पर बंधे कपडे को पहचान लिया । बस बगल में दो अन्य व्यक्ति खडे थे और जब मैंने उनके सामने गाडी खडी कर दी तो बेन उमर गाडी से नीचे कूद पडा । धीरे से सलाम वालेकुम बढाए गए । मैं गाडी में ही बैठा हुआ था तथा एक अंग्रेज मेरी और बढा और उसने हाथ बढाते हुए मच्छर सलाम वालेकुम कहा मैंने जल्दी से उत्तर दिया और हाथ में ला दिया । मैंने उमर तथा लाइब्रेरी हमने ऐसा प्रकट किया कि ड्राइवर को सलाम वालेकुम से अधिक अधिकार नहीं है । उन्होंने मेरी और पीठ फेरकर बातचीत आरंभ करती हूँ । वो भी भाषा बोल रहे थे । दोनों ही दल अपने अपने विचारों को एक दूसरे के सामने स्पष्ट कर देना चाहते थे । अतः मेरी उपस् थिति पर उनका ध्यान नहीं था । वो मैं ज्यादा कर ही मेरी ओर देखते थे । दोनों सैनिक खाकी वर्दी पहने हुए थे और उनके सिरों पर काले बैठे थे । ये उसी ढंग के पैरट थे जैसे जर्मन टैंक रेजीमेंट के सैनिक पहनते थे । मैंने उन के बैठों पर अफसरों के चेन्नई पहचानने का प्रयत्न किया । पहले तो यह संभव न हो सका । एक सैनिक के बगल में ब्रेन अगर थी और दूसरा लम्बा चौडा व्यक्ति संभव कहा नेता था जिसकी पिस्तौल खोल के अंदर रखी हुई थी । अपनी बेटी में उसने तीन हथगोले रखे हुए थे जो कि मेरे विचार में अत्यधिक आवश्यक है । मैं यह समझने में असफल रहा कि आपात स्थिति में या व्यक्ति किस प्रकार अपने बंद खोलने में से पिस्तौल निकालकर शीघ्र गोली चला सकता है । उनकी हाफपैंट ऐसी थी जैसे कि पंजाबी सैनिक पहनते थे । मैं नीचे पैरों तक भी पहुंच जाती थी । मुझे ऐसी हाफ पैंट बहुत पसंद थी क्योंकि रात में उनसे पैर भी गर्म रहते थे । इनको ऊपर मोड देने पर फिर हस्बैंड बन जाती थी । उनकी जर्मन सेना में बहुत मांग थी और अमरीका कोर में अनेक अंग्रेज युद्धबंदी अपनी हाफ पैंट के बिना आते थे क्योंकि जर्मन सैनिक उनकी हाउस पेंट मार्ग में ही ले लेते थे । उस लंबे चौडे अंग्रेज ने रेगिस्तानी भारी बूट पहने हुए थे जबकि दूसरा सैनिक रेट पर चलने वाले साधारण पतले तले के जूते पहने हुए था । मेरे विचार में ये दोनों निरंतर यात्रा करते रहते थे और उनको अपने जूते उतारने का अवसर कम ही मिलता था । बातचीत अरबी भाषा में तेजी से चलती रही और मैं उन अंग्रेजों के अरबी भाषा पर अधिकार की सराहना करता रहा हूँ । मुझे तो ये भी संदेह था कि यह लोग जर्मन भाषा भी इतनी सरलता से बोल सकते हैं और मैं मन ही मन यह सोचकर मुस्कुरा बडा की यदि में इस समय खेल हेडलर चलना दूर तो इन की क्या दशा होगी एक का एक बहन उमर जोर से हंस पढा और बातचीत करता हुआ गाडी केवल बढा अन्य व्यक्ति भी साथ साथ चल रहे थे मेरा हाथ लियो घर पर अनजाने ही आ गया लेकिन उन्होंने परिचित शब्द मोटो लिख लेता मोटर साइकिल जब कहा तो मैं समझ गया कि वह मेरे विषय में बातचीत नहीं कर रहे हैं । तब मेरे बगल में आकर दोनों अंग्रेजों ने पीछे पडी हुई मोटर साइकिल को देखा जिसको अभागे इटालियन ने इन अरबों के लिए छोड दिया था । जब अंग्रेज मेरे बगल से मोटर साइकिल को झांकर देख रहे थे तो मैंने उसके कंधे के निशान को देखकर पहचान लिया कि हम एक माननीय मेजर की संगत में हैं । दस मिनट के बाद बातचीत एका एक समाप्त हो गयी । दूर कहीं मोटर इंजन की ध्वनि सुनाई थी प्रत्येक व्यक्ति ध्वनी को ध्यानपूर्वक सुन रहा था परंतु कोई भी भाई भी नहीं था क्योंकि हम बनी ना मार्ग से लगभग चार सौ गज दूर है । हटा हम सभी उपेक्षाकृत सुरक्षित है परंतु इब्राहीम ने ब्रेन आपने उठा ली और उसका सेफ्टी काॅमन कर दिया । यदि हम सभी बिना हिले डुले अपने स्थान पर खडे रहते तो हमारा पता लगाना कठिन था परन्तु मॉरेस गाडी के सडक से दिखाई देने की संभावना नहीं । एक विशाल ट्रक हमारे पास से होता हुआ आगे निकल गया और उसमें से इटालियन गीत का स्वर सुनाई पडा । फॅमिली धूल उडाती हुई उस दिशा में आगे बढ गई जहाँ पर एक किलो पियन हॉर्स तथा इटालियन उनके बिग्रेट पर पडा हुआ था । अंग्रेजों तथा अरबों ने रखी और जरा भी ध्यान नहीं दिया । वो अपनी बातचीत में लीन रहे । आधे घंटे के बाद बातचीत पूरी हुई फिर सलाह वालेकुम के बाद अंग्रेज चल पडे और शीघ्र ही अंधकार में लोग हो गए । दोनों अभी कुछ समय तक सावधानी से कम लगाए कुछ सुनते रहे और जब कहीं फिर उल्लू के बोलने की आवाज सुनाई पडी तो वहां पर गाडी में बैठ गए । बिना उमर ने मजा किया कभी अंग्रेजों के निकट गए हो । मैंने कहा युद्धकाल में तो नहीं रहा मैं मृतकों कुमार युद्धबंदियों के निकट तो रहा ही हूँ परन्तु मैं उनके साहस की सराहना करता हूँ । खतरों के भीतरी क्षेत्र में अन्य खतरे उठाते हुए भी ये लोग तुम से मिलते हैं । हाँ असैनिक जीवन में मेरा संपर्क अंग्रेजों से रहा है परन्तु में अंग्रेजी बोलते थे । अरे भी नहीं दिन उमर ने गाडी स्टार्ट करने का संकेत दिया । हम चल पडे और रेगिस्तान में आ गए । दूर जेबेल अलग आकर डर के पहाडों की छाया दिखाई दे रही थी । लगभग दो घंटे में हम घाटी में वापस आ गए । मुझे अनुभव हो चुका था कि मुझे बहुत जल्दी यहाँ से निकल जाना चाहिए अन्यथा में खतरे में पड जाऊंगा । मारेस गाडी को खो में खडा कर देने के बाद हमने भोजन किया । अब्दुल हमारी प्रतीक्षा कर रहा था । ये ड्रीम और दिन उमर ने उसको लम्बी चौडी रिपोर्ट दी । उसकी आंखों में संतोष था । मेरी आंखें खोली तो मैंने देखा घडी में दोपहर का समय हो चुका था । मैं उठ कर बैठ गया । मुझे ज्ञात हो गया कि मैं आरामदायक जीवन व्यतीत करने के कारण पहले जैसा सतर्क नहीं रह गया हूँ । आप गुफा में मेरी छुट्टियों के दिन पूरे हो चुके थे । मैंने बिना सोचे समझे अपनी लियो अगर पिस्टल उठा ली । भविष्य में मुझे किसी का सहारा था । दूसरी चीज जो मुझे दिखाई दी । तेल में रंगा हुआ मेरा शरीर था । मुझे याद नहीं था कि ये कैसे छूटेगा । मैं नहीं है मेरी से पूछने का निश्चय किया क्योंकि मेरा शेष जीवन इस भेज में नहीं कर सकता था । मैंने कभी और पैंट पहले मुझे ज्ञात हुआ कि गुफा में आज कुछ असाधारण हलचल है । जब मैं वहाँ गया तो देखा कि बारह भी बैठे हुए हैं, कुछ बंदो को कि नालों का साफ कर रहे थे और उनमें गोलियाँ भर रहे थे । कुछ मशीनगनों में तेल डालकर साफ कर रहे थे और उनमें मैक्सी ने भर रहे थे । सलाम वालेकुम के आधान प्रधान के बाद मैंने उनके चेहरों पर कुछ जिसमें देखा मेरे रंगे हुए मुख्त खातों पर पैरों को देख कर आश्चर्यचकित रह गए । वो ड्रीम ने मुझे इशारे से अंदर बुलाया, जहां कॉफी पी गई और उस ने मुझे बताया कि आज हम डालिन ओके मोटरों के काफिलों पर धावा बोलेंगे, जो की भोजन सामग्री, हथियार और गोला बारूद लेकर देना जा रहा है । तो तुम्हारा मतलब एक मोटर से है या मोटरों के काफिले से । मैंने पूछा नहीं नहीं । मोटरों का पूरा एक काफिला, जिसमें चौदह ट्रक हैं, देखना जा रहा है । उसने कहा उसकी बात से मैं आश्चर्य में पड गया परन्तु तुम सारे काफिले को सरलता से नहीं पा सकते हो । तटीय क्षेत्र का पूरा मार्क आते जाते मोटरों के काफिलों से भरा रहता है । एक विशेष काफिले को प्रथक करके किस प्रकार तो मुझ पर आक्रमण कर सकोगे इसी बीच दूसरा काफिला आ सकता है और हमारे दल का सफाया इस स्थिति में पूर्णतः निश्चित है । मैंने कहा हाँ, तुम ठीक कह रहे हो । ये कहते हुए उसने मेरे विद्यालय में कॉफी उडेलती, लेकिन यह काफिला मर्तबा रोड से होकर जाएगा । दो ट्रक मर्यादा में ठहर जाएंगे, कुछ लौंडा में रोक जाएंगे और एक मनीतोबा रोड से होता हुआ जर्मन सैनिक चौकी को, जो कि जयदेश अल जराई में स्थित है, सामान पहुंचाएगा । यहीं तुम्हारे सैनिकों का सिग्नल केंद्र है । ट्रक मार तो बाकी पगडंडी से होते हुए डेरना जाएंगे । अब तक की ताजा रिपोर्ट से हमें यह सूचना मिली है । फॅमिली है गोपनीय सैनिक सूचना दी उस से मैं स्तब्ध रह गया । सैनिक चौकियों की सोचना तथा मोटर काफिलों का प्रस्थान अत्यधिक गुप्त रखा जाता था और होंगा या दाल किस प्रकार छापामार करवाई करता है और इनका गुप्तचर दल कितना विकसित है और इटालियन आर्मी हेडक्वार्टर से इसका कितना निकट संबंध है, क्योंकि काफिलों के आने जाने की प्रत्येक रिपोर्ट इन को दे देता है । ये मुझे पहली बार क्या हुआ? मेरे समझ में आ गया था की है दाल कितना तो संगठित है । मैंने देखा था कि अंग्रेज गश्तीदल से कितना सरलता से इनकी भेंट होती थी और सम्भवता वही इन बातों की इस साल को सूचना देते थे और सक्रिय सहायता भी प्रदान करते थे । इससे एक और बात भी स्पष्ट हो गई की सभी अरबी ऍर इतना करते थे । मैंने देखा था इस प्रकार के भयंकर कार्य नहीं करते । वो ड्रीम ने बताया कि इस काफिले पर हम बाहर से से बीस मील दूर आक्रमण करेंगे जहाँ पर मार तो बार रोड के मोड आरंभ होते हैं और पहाडों की चढाई शुरू होती है । मैं इस मार्ग पर कभी नहीं गया । परंतु इ ब्रेन के बताने के अनुसार और अपने नक्शों का अध्ययन करने के बाद मुझे स्थिति का स्पष्ट ज्ञान हो गया था । वो मोडदार मार्ग और नीचे मुझे स्थान वास्तव में छक्का आक्रमण करने के लिए उपयुक्त है । इस समय मोटरों का ये काफिला कहा है । मैंने पूछा अभी बार से मैं ये ड्रीम ने उत्तर दिया । उनके ड्राइवर ऍम पी रहे हैं तथा चकले में आमोद प्रमोद में व्यस्त हैं । मैंने पूछा बार से में क्या एक ही चकला है? हाँ, यहाँ की वॅायस युद्धकाल में असीमित धन बटोर रही हैं । उसने मुझे बताया हूँ और ये मोटरों का काफिला कब अपने गंतव्य स्थान की ओर प्रस्थान करेगा । मैंने इस सहजभाव से पूछा, जैसे हम मौसम के बारे में बातचीत कर रहे हैं, ठीक छः बजे । आज शाम को तुरंत ही उत्तर मिला । इस सूचना से मेरी नजर तन गई और मैं विचारों में डूबा हुआ रेगिस्तान की ओर देखता रहा हूँ । यह सोचना मारा बाकी सैनिक चौकरी के मेजर को दी गई थी । ये टेलीफोन पर दी गई सूचना है । उसने मेरी उत्तेजना को शांत करने की भावना से मुझे बताया । मैं शांत हो गया तो चित्र स्थिति थी । हर एक इटालियन सेना की गतिविधि से परिचय था । आमिर को तुमको मालूम होना चाहिए । कोई भी सैनिक टेलीफोन वार्ता हमसे छिप नहीं सकती । जो व्यक्ति इन सूचनाओं को नोट करता है, ऍम कबीले का और भी है और हमारे बहुत से संबंधी भी अनेक महत्वपूर्ण पदों पर नियुक्त हैं । अब मुझे ज्ञात हो गया कि बारह अरबी क्यों बंदूकों और मशीनगनों का साफ कर रहे थे । मैंने पूछा की प्रेम तुमलोग दिन के प्रकाश में यह बीस मील की यात्रा कैसे करोगे? ऊपर पहाड पर ऍम सैनिक चौकी हैं । इस के विषय में तुम्हारी क्या योजना है? या तो हो चुका है । अम्मी को इसको हुए कई घंटे भी चुके हैं । ये ड्रीम ने मुझे समझाया । अब्दुल और बेन उमर चालीस व्यक्तियों को लेकर सुबह अंधेरे में ही यहाँ से निकल चुके हैं । वो वास्तव में उसी स्थान पर विश्राम कर रहे हैं जहां आक्रमण की योजना है । यह सब तो हम कर चुके हैं । हमी को हम दिन के प्रकाश में रेगिस्तान में यात्रा नहीं कर सकते हैं और अब तो मैं क्या करना है । मैंने पूछा हाँ वो मैं रात के अंधेरे में जाऊंगा और वापस लौटने वालों की सुरक्षा का प्रबंध मेरे हाथों में । उन्होंने बताया, इस दल की योजना से मैं अचंभे में पड गया । एक दल आक्रमण करने के लिए घंटा वे स्थान पर जा चुका है । दूसरा दल आक्रमणों की वापसी को सुरक्षित करने के लिए तैयारी कर रहा हूँ । सलीना अंडर आ गई और उसने मक्का की ताजी रोटी तथा ठंडा मार हमारे सामने रख दिया । जब हम भोजन कर रहे थे तो इब्राहीम ने मुझसे कहा हूँ हमारी सारी गाडियाँ मेरा मतलब है । मॉरिस तथा दोनों जर्मन ओबेड रख आक्रमण के लिए प्रयोग की जा चुकी है । इसका अर्थ यह है कि तुमने बेडफोर्ड रखी । आज रात को हमें आवश्यकता पडेगी इसलिए मैंने तुम्हारा सामान गाडी से उतारकर सुरक्षित रख दिया है । केवल तुम्हारी मशीनगन वहीं फिट है । आज हमें तुम्हारा ट्रक लेना ही पडेगा । मुझे इस पर क्या आपत्ति हो सकती थी । मैंने उनका आथित्य तथा आश्रय इतने दिनों तक पाया था परन्तु मेरे लिए एक समस्या थी की गाडी टूट जाने या नष्ट हो जाने की दशा में मैं क्या करूंगा? वो सुंदर गाडी है, इतनी नहीं कहा और विशेष रूप से जब तुम ने उसका केबिन हटा लिया है, मैं बहुत उपयोगी बन गई है । निश्चय ही तुम उसको ले सकते हूँ लेकिन मुझे कल इसकी आवश्यकता बढेगी क्यूँ सुप्रीम ने पूछा मुझे यहाँ से जाना है वास्तव में प्रेम अगर तुमको आपत्ति न हो तो मैं भी आज रात को तुम्हारे साथ जाना चाहता हूँ और स्वयं भी इसको चलाऊंगा तो आज रात हमारे साथ जाओगे । ड्रीम ने कहा हाँ मुझे लौटते समय अब्दुल तथा दिन उमर से भेंट करने में प्रसन्नता होगी । इब्राहिम कुछ घर बनाया और एक का एक बडा उदास हो गया जब मैंने कहा की यहाँ लौट आने के बाद मैं अपना सामान उठाकर दिन निकलने से पहले ही चल दूंगा । बेन कुमार तो इससे बडा दुख होगा अम्मी को उसने मुझसे कहा मैं सादा तो यहाँ नहीं रह सकता । मेरा जवाब था ये ड्रीम ने अपना सहलाया । फिर सोच कर कहा रोमेल तथा तुम्हारी सेना लीबिया के युद्ध में विजय पर विजय प्राप्त कर दी जा रही है और यदि अंग्रेजों ने मिस्र खाली कर दिया तो तुम्हारे छिपने के लिए कोई स्थान ना रहेगा । तब तुम क्या करोगे? उसके विचार मुझ से मिलते जुलते थे । यदि मैं तटीय क्षेत्रों में अधिक दिनों तक ठहरा रहा जहां कि जर्मनों की विजय हो रही थी तो मेरी स्थिति भयंकर हो जाएगी और एस वेशन स्थिति से निकालना मेरे लिए असंभव होगा । मैंने उसे बताया हूँ । मैं आज रात को होने वाले आतंक तथा कोयला हल्का अनुमान लगा सकता था । इस क्षेत्र में हजार और सैनिक फैल जाएंगे और छापामारों के विषय में साधारण सूचना पा लेने पर इस गुफा का सर्वनाश निश्चित है । मैंने सोचा अरब भली भारतीय संगठित थे । उनकी सोचना भी उपयोगी थी । अरे हथियारबंद भी थे लेकिन मेरी दृष्टि में यदि जर्मन हेडक्वार्टर को इसकी सूचना मिल जाती तो इस गुफा की सुरक्षा कदापि संभव नहीं थी । ड्रीम अपने दल की तैयारियों का निरक्षण करने गुफा में चला गया और मैं उस स्थान पर पहुंचा जहाँ मेरा सामान ट्रक से उतार घर रखा गया था । मैंने ट्रक का निरक्षण किया क्योंकि ड्रीम के साथ लौट आने के बाद इतना समय नहीं मिल सकता था । मेरा सामान ठीक ठाक सा जेरी केनों में पानी भरा हुआ था । पेट्रोल के फालतू दिन भी भरे हुए थे और चार गाॅधी रखा हुआ था । मैं अपनी सोने वाली गुफा में लौट आया और बहुत देर तक बैठा हुआ भावी योजना पर विचार करता रहा । मुझे अब बाढ से नगर के बाहर ही बाहर रहते हुए बेंगाजी जाना आवश्यक हो गया था । माताजी के पत्र के समस्या बेंगाजी में ही हाल हो सकती थी । मैं अपनी माता जी के दुःख का अनुमान लगा सकता था क्योंकि उनको मैंने अभी तक कोई सूचना नहीं भेजी थी । आपने पिछले अनुभव से मुझे क्या था की सारी डाक बेंगाजी में ही सेंसर होती हैं और पार्सल भी खोलकर देखे जाते हैं तो तभी मैं विमान द्वारा जर्मन भेजे जाते हैं । मेरे ट्रीपल इस तथा गुप्तचार मेरे पीछे लगे हुए थे । कुछ भी हुई है । जोखिम उठाना मेरे लिए अनिवार्य था क्योंकि यदि मुझे कुछ हो गया तो मेरी माता को यह बता कभी नहीं लग सकता था कि मैं सेना से क्यों भागा । सलीना गुफा में आ गई और मेरे बगल में बैठ नहीं । यह स्पष्ट था कि ड्रीम ने उसको बता दिया था कि आज रात को मैं चला जाऊंगा । कुछ और कहना सुनना शेष नहीं था । वे भी चुप चाप बैठी नहीं बे टीम जैतून का गर्म तेल नहीं कराया गया । उसने अधूरे मन से कहा यह तुमको फिर जर्मन बना देगा क्योंकि तुम जा रहे हो उसको मेरा बहुत पहुंचने में आधा घंटा लगा दो बार और दे लाना पडा तब जाकर मेरे हाथ पैरों कारण छोटा हूँ ।

Details
अंधेरी रात में, धमाकों के बीच, अपने ही साथियों की आंख में धूल झोंक कर गंथर भाग निकला… चलने-चलते उस ने पे-मास्‍टर सार्जेंट को घायल कर दिया और रूपयों की तिजोरी अपने साथ ले ली। लेकिन गंथर ने ऐसा क्‍यों किया? एम जर्मन सैनिक की सच्‍ची कहानी जिस ने अपनी सेना के विरूद्ध जिहाद छेड़ा। Publisher - Vishv Books Writer - Ganther Bahneman
share-icon

00:00
00:00