Made with  in India

Buy PremiumDownload Kuku FM
भाग - 13 in  | undefined undefined मे |  Audio book and podcasts

भाग - 13 in Hindi

Share Kukufm
261 Listens
AuthorRJ Gaurav Mehta
"विकसित होती टेक्‍नोलॉजी एक दिन इस स्तर पर आ जायेगी कि मनुष्य और रोबोट में अंतर खत्म हो जाएगा। मनुष्य और रोबोट का यह मिलन, भविष्य में सही होगा या गलत, यह तो भविष्य के गर्भ में है, लेकिन‌ दोनों के मिलन को लेकर जो कहानियां रची गयी है वह आप 'रोबोटोपिया' में सुन सकते हैं। इस कहानी संग्रह में कुल नौ कहानियां है। रोजिना एक रोबोट है, क्या एक रोबोट से बलात्कार संभव है? क्या उसके लिए अपराधी को कानूनी सजा दी जा सकती है? मनुष्य और रोबोट के ऐसे संबधों को उजागर करती है 'रोबोटोपिया'। सुनें इस अद्भूत कहानी संग्रह को केवल कुकू एफएम पर।"
Read More
Transcript
View transcript

मयंक स्टडी में बैठा हुआ था । प्रिया उसके पास आकर खडी हो गई है । अब तक कोई शिकायत नहीं है । मयंक ने उसकी कमर को अपनी बाढ में घेरते हुए पूछा तो ये तुम्हारी ट्रेनिंग का नतीजा है । वो उसकी और करीब से मारते हुए बोली, तुमने क्या उसे कामसूत्र पढाना शुरू कर दिया है? जवाब में मयंग धीरे धीरे मुस्कुराने लगा । थोडा सा ज्ञान हमें भी दे दीजिये । महर्षि वात्स्यायन जी । प्रिया उसके गले में बाहें डालते हुए बोले, हरे आप तो पहले से ही बहुत ज्ञानी है । मैडम डोंट वरी । महर्षि वात्स्यायन अपने पास आने वाले हैं । किसी भी याचक खाली हाथ नहीं लौटाते कहकर उसने प्रिया का चेहरा अपने चेहरे पर झुकाकर उसके होट अपने होठों पर रखेंगे । कुछ देर तक दोनों इसी स्थिति में एक दूसरे का स्वाद लेकर हैं । सारा ज्ञान आज ही देने का इरादा है क्या? प्रिया अलग होते हुए बोली, अब मुझे जाना होगा और भी ढेरों कम है । करने को गया जाओ । प्रिया चली गई । दोनों में से कोई नहीं जानता था कि उनके इन पलों को रोहन खिरकी के उस पार खडा देख रहा था । उसके चेहरे पर अजीब से भाव आए और प्रिया के निकलते ही वह अंदर आ गया । अरे तुम आओ मैं उसे देखकर मुस्कुराया । मुझे आपसे कुछ बात करनी है । रोहन का स्वर्ण सकता था । बोलू जब आप रियाजी को प्यार करते हैं तो मुझे अच्छा नहीं लगता । वो बोला अरे ऐसा क्यों? ऍम हर युक्रेन से पता नहीं । लेकिन मैं चाहता हूँ कि आइंदा से आप उनसे दूर ही रहे हो । डाॅक्टर जो माइंड जो सुन रहा था उस पर यकीन कर पाना उसके लिए मुश्किल था । नॉट बॉल रोहन गंभीर था । मैं उनके साथ रहना चाहता हूँ । हर पल हमें शाह लेकिन आपके रहते हुए ये पॉसिबल नहीं है । तो मैं यहाँ मोहम्मद करने के लिए नहीं लाया गया था । मैं उसके पागल पन पर झुंझला उठा । तब से अबतक हालत बहुत बदल चुके हैं । तो अब तो मुझसे क्या चाहते हो? हम दोनों को अकेला छोड दीजिए । क्या प्रिया भी चाहती है ऑफकोर्स वो पूरे विश्वास से बोला आप चाहे तो खुद ही उनसे पूछ लीजिए । प्रिया प्रिया मयंक ने जोर से प्रिया को आवाज दी तो प्रिया लगभग भागती हुई भीतर आ गई । क्या हुआ तो घबराएं स्वर में बोले रोहन ऍम रहे तो रहा है हमारे साथ । फिर अब क्या हुआ नहीं वह सिर्फ तुम्हारे साथ रहना चाहता है । वोट रोहन ये ऍम प्रिया चौंककर बोली, आई लव यू प्रिया ऍम वो उसके कंधे पर हाथ रखते हुए बोला, तुम पागल हो गए । प्रिया ने उसका हाथ कंधे से हटाते हुए कहा क्यों तुम भी तो मुझे प्यार करती हूँ, नहीं तो मेरे लिए सिर्फ एक क्लोज फ्रेंड हो । वो बोली आप कोर्स तुम्हारे साथ में मुझे बहुत खुशियाँ दी है, लेकिन ऍम को ही करती हूँ और हमेशा करती रहूंगी तो ये तुम्हारा आखिरी फैसला है । रोहन गुस्से से बोला हाँ अगर तो मैं घर में रहना है तो रहो वरना निकल जाओ । प्रिया ने उसे फटकारते हुए कहा इतनी आसानी से नहीं । मिसेज मल्होत्रा रोहन की आंखों से खून होता रहा था । अगर तो मेरी नहीं हो सकती तो मैं तो मैं किसी का भी नहीं होने दूंगा । प्रिया ने बहुत भाव से मयंक की ओर देखा । तभी रोहन उसपर झपटा और उसे नीचे गिराकर उसका गला घोटने लगा । तो मैं क्या सोचती हूँ कि मेरे इमोशन से खेलती रहोगी और मैं तो मैं योगी जाने दूंगा । आईपीएल के लिए तो वो उसकी जान लेने पर आमादा था । रोहन छोडो प्रिया को मैं दिखा आॅल लेकिन रोहन के कानूनी जैसे सुनना बंद कर दिया था । वो प्रिया का गला दबाया जा रहा था और वह पूरी तरह छटपटा रही थी । उसकी हालत देखकर मयंक बेबसी से चला रहा था । लेकिन जैसे उसकी आवाज गले में घुट रही थी । अचानक पता नहीं कहाँ से उसके शरीर में दैविक शक्ति का संचार हुआ और वो रोहन पे झगडा हूँ । मैंने उसे प्रिया से अलग करके उसकी गर्दन पर लगाम बटन दबा दिया जिससे रोहन डीएक्टिवेट हो गया । तब तक मयंक भी बेहोश होकर फर्श पर गिर चुका था । मैं महम क्या हुआ तो मैं उन दोनों के बीच पडी प्रियां अपना गाना सहलाते हुए उठी । मयंक क्या हुआ तो मैं प्लीज मयंक कुछ तो बोलो डॉक्टर साहब, अब जल्दी आ जाइए । मैं उन को कुछ हो गया है । माइंड की ओर से कोई जवाब न मिलने पर उसने तुरंत डॉक्टर को फोन करके बताया । मयंक को जब होश आया तो उसने अपने आप को हॉस्पिटल के बैठ कर लेता पाया । नीरज उसके सामने खडा था कैसे? हाँ मैं उसने मयंक के सिर पर हाथ फिराते हुए पूछा प्रिया कैसी है? अच्छी है? बाहर डॉक्टर से बात कर रहे हैं । नीरज ने बताया और रोहन उसे जहां से लाया गया था वहीं भिजवा दिया गया है । शायद नेक्स्ट वीक में डिसमेंटल कर दिया जाएगा तो कि अप्रिय को हकीकत का पता चल गया । मैं चिंतित सफर में बोला हाँ, मुझे बताना । बडा । नीरज बोला तो महारे रोहन को डीएक्टिवेट करने के बाद और कुछ समझ में नहीं आ रहा था । लोकप्रिय भी आ गई । प्रिया अंदर आई उस वक्त बहुत खुश नजर आ रही थी तो हम सारे प्रिय मयंक खेद प्रकट करते हुए बोला, मयंक कायम सो हैप्पी । डॉक्टर ने कहा है कि तुम बिल्कुल ठीक हो । पंद्रह दिन की फिजियोथैरपी के बाद तुम फिर से पहले की तरह अपने पैरों पर चलने लग जाओगे । फॅस नीरज ने मयंक की और देखते हुए कहा, ये मेरे कल हुआ । ऐसे मयंक सुनकर खुद हैरान था । जब तुम मेरी जान बचाने के लिए सुपर मैन की तरह वीलचेयर से उठकर रोहन पर झपटे थे और उसे डीएक्टिवेट किया था तो वह क्या काम बडा मेरा कल था । प्रिया ने उसके और बिहार से देखते हुए कहा । कहकर वो उससे लिपट गई और नीरज उन्हें एक कान देने के लिए मुस्कुराते हुए रूम से बाहर चला गया । रोबोट उन कंपनी का डायरेक्टर सुजॉय मेहता अपने ऑफिस में बैठा था । उसके सामने रोहन की डवलपर अक्षय और एक साइड में पडे सोफे पर और रोहन मौजूद थे । सर मैंने पूरे केस को डीपली स्टडी करने के बाद अपनी सारी फाइंडिंग्स टेस्ट में डाल दिया । आशी सुजॅय देते हुए बोली, वे सब फुटेज भी इसमें है जो रोहन की बायोनिक आइस में लगे माइक्रो कैमरे रिकॉर्ड की है । इसे तो मैं बाद में देख लूंगा । तो ये बताओ की पाँच नली तुम्हारा क्या कहना है? इस डिस्मेंटल करना पडेगा और ऍम मेहता ने उससे डिस्क लेकर ड्रॉर में रखते हुए पूछा आई डोंट थिंक सर की इस की जरूरत पडेगी ऍम वो विश्वासपूर्वक बोली फॅमिली ऍम मेहता की स्वर्णिम नाराज की थी । कॅश उसने वही किया जो उसकी प्रोग्रामिंग में फीड किए गए इंस्ट्रक्शंस के अकॉर्डिंग था । अक्षय ने कहा तो क्या तुमने मेहता ने पूछा तो अक्षय नजरें चुराने लगी । बंटवाये क्या जरूरत थी उसमें? लाॅक ऍम स्पोर्ट्स ना कि ऐसे रोबोट लोगों के फैमिली लाइफ के लिए खतरा बन जाए । आॅल हैप्पी ऍम अक्षय ने सफाई दी फॅालो भी जब किसी औरत को खुश करने जाता है तो छोटा ही सही लेकिन थोडा सा तो अफेक्शन शो करता ही है ना । रोहन ने जो किया वो उसकी आर्टिफिशल इंटेलिजेंस में फीड किए गए इंस्ट्रक्शंस के अकॉर्डिंग था । ऍम रिपोर्ट के अकॉर्डिंग ये जब भी मिस्टर एंड मिसेज मल्होत्रा को पांच देखता था । जलस फील करता था । मेहता उलझन भरे स्वर में बोला राइट्स बट जैसी ॅ उसने शायराना अंदाज में जवाब दे । वो कहते हैं ना कि बिना रश के । आप इसको उस शिद्दत के साथ इजहार नहीं कर सकते जो उसे इश्क बनाती है । मैं क्या कोई और वक्त होता तो मैं आपके इस फल सबको जरूर आॅपरेट करता । मेहता व्यंग से मुस्कुराते हुए बोला, बेटा अभी भी एक बेसिक सवाल बाकी है । वो ये कि इसने मिसिस मल्होत्रा पर अटैक कर उन्हें मारने की कोशिश क्योंकि वो तो उनकी और उनसे ज्यादा हमारे किस्मत अच्छी थी कि उनके पति को अच्छा खाना कि भगवान ने इतना कर्ज और स्ट्रेंथ देवी की उन्होंने अपनी वाइफ को बचा लिया । क्या इसका यह एंगर और वाइॅन् भी तुम्हारे फल सब पे में कहीं फिट बैठता है? नाॅट इंडीड जब भी हम कोई रोबोट डेवलप करते हैं, सबसे पहले ये इन शोर करते हैं कि उसके प्रोग्रामिंग में रोबोटिक्स के तीनों बेसिक रूल्स डाल दिए गए हैं, जो उसे किसी भी इंसान को नुकसान पहुंचाने से रिस्ट्रिक्ट करते हैं । फॅसने क्यू प्रिया की जान लेने की कोशिश की आशीष ने अफसोस जाहिर करते हुए कहा इसी बीच रोहन ने अपना हाथों पर उठाया मेहतन राशि दोनों ने हैरानी सौ से देखा फॅस है मुझे दोनो । मेहता ने उसे घूमते हुए पूछा ऍम मेहता की त्योरियां चढ गयी ऍम जिसका मकसद मिसिस मल्होत्रा को नुकसान पहुंचाना बिल्कुल नहीं था । रोहन ने खुलासा किया ये तुम क्या कह रहे हो? आज ही चौक कर बोले यह डॉक्टर आशियां । मैं सो कॉल्ड अटैक को तब से प्लान कर रहा था जब मैसेज मल्होत्रा ने मुझे मिस्टर मल्होत्रा के इस हालत में पहुंचने की कहानी सुनाई थी । इसके बाद रोहन ने उन्हें अपने और प्रिया के बीच हुई उस रात के बातचीत के बारे में बताया जब प्रिया ने उसे मयंक के एक्सीडेंट की दास्तान सुनाते हुए बताया था कि डॉक्टरों का इस विषय में क्या कहना है? यू मीन हूँ । रोहन की बात सुनकर मेहता की आंखे फैल गई । यस सर, ऍफ ट्रीटमेन्ट नोट आॅवर लेकिन तुमने अब तक ये बात किसी को क्यों नहीं बताई? मेहता ने नर्वस होते हुए कहाँ क्यों के किसी ने अभी तक मेरा एंगल जानने की कोशिश की नहीं की रोहनी शांति से जवाब दिया । सारे एक्स्पर्ट अपने अपने परसेप्शन के साथ अपने अपने कन्क्लूजन निकालने में बिजी थे और पहले से ही मान कर चल रहे थे कि मैं फंक्शन हो चुका हूँ । अरे, तुमने तो मुझे उलझन में डाल दिया यार दो ऍफ और प्रोग्राम फॅस । मेहता ने कहा और अक्षय की ओर घुमा क्यों? मैं क्या राइट्स यू नो रोहन रिजर्ट चाहे जितने अच्छे हो । बाॅलर एक रोबोट की सबसे अनेक टेबल क्वालिटी मानी जाती है । मेहता ने रोहन से कहा, हम किसी के सामने इस बात का जिक्र तक नहीं कर सकते हैं कि तुम ने कितना अच्छा काम किया है । जिस काम के लिए तुम अवॉर्ड डिजर्व करते हो, वही तुम्हारा ॅ खत्म कर सकता है । फॅमिली थिंग कि तुम्हारा क्या किया जाए? बहुत में ले प्लीज । उसका इशारा समझकर रोहन और अक्षय उसके चेंबर से बाहर निकल गए । एक बात बताओ कि रोहन मेहता के चेंबर से बाहर आने के बाद आशीष ने रुककर रोहन को देखा ये डॉक्टर राशियां क्या तुम सचमुच प्रिया को प्यार करने लगे थे? एक मशीन कैसे किसी को प्यार कर सकती हैं? ज्यादा मनो मत आशी नकली गुस्से से उसे घूमते हुए बोली मैं तुम्हारी नस नस पहचानती हूँ । मैंने तुम्हें फिट बॉडी कैंसे रिकॉर्ड की गई सारी फुटेज देखी है तो हमारा उसके साथ बिहेवियर मशीन वाला नहीं था । हालांकि इंस्ट्रक्शंस के अकॉर्डिंग तो तो मैं सिर्फ लव प्रिटेंड करना था । फिर पता नहीं ये कैसे हो गया तो क्या आप मुझे तोड दिया जाएगा? रोहन ने बात बदलते हुए कहा डोंट वरी रोहन । आशीष ने उसे आश्वस्त किया मैं उन्हें यकीन दिला दूंगी कि तुम्हें कोई फॉल्ट नहीं है और उन से रिक्वेस्ट करोंगे की तो मैं डिस्मेंटल करने की बजाय फॅस के लिए मुझे सौंप देते । थैंक डॉक्टर आशियां पर ऐसे नहीं तो मैं भी मेरे लिए कुछ करना होगा । उसने रहस्य भरे स्वर में कहा क्या? रोहन ने असमंजस से उसे देखा तो मेरी शर्त ये है कि एक तो मुझे डॉक्टर आशिया नहीं सिर्फ आशीष बोलोगे । आशी प्यार से रोहन की ओर देखते हुए बोली दूसरी शर्त ये है कि तुम मुझे भी उसी तरह डीपली प्यार करोगे जैसे प्रिया को करते थे और यहाँ तुम्हारा कोई राइवल भी नहीं होगा । कहकर वो हंस पडी और रोहन के बाहर में बाहर डाल दी । रोहण के चेहरे पर भी एक प्यारी सी मुस्कान खेलो थी ।

Details
"विकसित होती टेक्‍नोलॉजी एक दिन इस स्तर पर आ जायेगी कि मनुष्य और रोबोट में अंतर खत्म हो जाएगा। मनुष्य और रोबोट का यह मिलन, भविष्य में सही होगा या गलत, यह तो भविष्य के गर्भ में है, लेकिन‌ दोनों के मिलन को लेकर जो कहानियां रची गयी है वह आप 'रोबोटोपिया' में सुन सकते हैं। इस कहानी संग्रह में कुल नौ कहानियां है। रोजिना एक रोबोट है, क्या एक रोबोट से बलात्कार संभव है? क्या उसके लिए अपराधी को कानूनी सजा दी जा सकती है? मनुष्य और रोबोट के ऐसे संबधों को उजागर करती है 'रोबोटोपिया'। सुनें इस अद्भूत कहानी संग्रह को केवल कुकू एफएम पर।"
share-icon

00:00
00:00