Made with  in India

Buy PremiumDownload Kuku FM
37 : भोजन करने का ढंग in  | undefined undefined मे |  Audio book and podcasts

37 : भोजन करने का ढंग in Hindi

Share Kukufm
8 K Listens
AuthorHarish Darshan Sharma
लोक कहावतों में शतायु जीवन के सूत्र - दैनिक जीवन के लिए उपयोगी युक्तियाँ| writer: मुमताज खान Producer : KUKU FM Voiceover Artist : Harish Darshan Sharma Author : Mumtaz Khan Voiceover Artist : Harish Darshan Sharma
Read More
Transcript
View transcript

भोजन करने का ढंग खूब चबाकर लीजिए । हर भोजन का स्वाद जल का सेवन कीजिए । एक दो घंटे बाद भगवान कभी कहता है कि अपना भोजन आराम से खूब चबा चबाकर स्वर्ण लेते हुए करिए और भोजन करने के दो घंटे बाद जल का सेवन करिए । स्पष्टिकरण खूब चबा चबाकर भोजन करने से हमारे मुख की लार्गन दिया सक्रिय हो जाती है, जिससे लार का मुख्य में पर्याप्त मात्रा में स्वजन होता है, जो पाचन क्रिया में सहायक होती है । भोजन के बीच में या तुरंत बाद में पानी पीने से उधर की जगह नहीं शांत हो जाती है, जिससे पाचन क्रिया पर विपरीत प्रभाव पडता है । लाभ भोजन खूब चबा चबाकर करने से पाचन क्रिया सुचारु रूप से होती है तथा भोजन में उपलब्ध पोषक तत्व आसानी से शरीर को प्राप्त होते हैं । जल सेवन एक दो घंटे बात करने से उधर में अम्लता नहीं बढती सारांश भोजन खूब जवाब जब अगर खाना चाहिए बिना चबाए जल्दी जल्दी भोजन करना पाचन के लिए हानिकारक है हूँ ।

Details

Producer

लोक कहावतों में शतायु जीवन के सूत्र - दैनिक जीवन के लिए उपयोगी युक्तियाँ| writer: मुमताज खान Producer : KUKU FM Voiceover Artist : Harish Darshan Sharma Author : Mumtaz Khan Voiceover Artist : Harish Darshan Sharma
share-icon

00:00
00:00