Made with  in India

Buy PremiumDownload Kuku FM

आख़िरी ख़्वाहिश अध्याय -19

Share Kukufm
आख़िरी ख़्वाहिश अध्याय -19 in  | undefined undefined मे |  Audio book and podcasts
676Listens
“यात्रा कैसी थी?” उसने मेरे चेहरे को दुलारते हुए पूछा। “मैं ड्‍यूटी पर था।” “ठीक है! मुझे पता है कि इसका मतलब क्या है। यह विद्यार्थियों के लिए एक यात्रा थी और मेरे लिए नहीं।” मेरे कहने का मतलब वह हमेशा समझ लेती थी और उसमें मेरे लिए बोलने का साहस था। मैं मुसकराया, लेकिन कुछ बोला नहीं।, सुनिए प्यार भरी कहानी| writer: अजय के. पांडेय Voiceover Artist : Ashish Jain Author : Ajay K Pandey
Read More
Transcript
View transcript

ऍम मेरी कॉलेज की छुट्टियाँ लगभग समाप्त हो गयी थी । मेरी माँ दक्षिण अफ्रीका से लौट रही थीं । उन्हें आस्था की गर्भवस्था की खबर मिले लेकिन उन्होंने उसे फोन करने की परवाह नहीं की । आस्था को हर एक दिन छोडकर अस्पताल जाना पडता था । छेडी चार और सी डी थ्री परीक्षण उसके लिए अनिवार्य सप्ताह में दो बार । इस बीच प्रगति अच्छी थी । उसकी हालत स्थिर थी और उसमें चिंता का कोई संकेत नहीं दिखाया । वो जरूर ही करती, कमजोर महसूस करती । और मैंने उसे जितना संभव था उतना खाना पकाने, सफाई, कपडे धोने और किराने की खरीदारी में मदद की । डॉक्टर रचना ने हमारी बहुत मदद की और कोई भी भेदभाव नहीं कर रहा था । मुझे खुशी है कि कि हर कोई उससे सामान्य इंसान की तरह व्यवहार कर रहा था । मुझे विशेष रूप से वे सभी चिकित्सा नुस्खे और रिपोर्ट छपाने थे जिनमें बीमारी का नाम लिखा था । उस ने बहुत ज्यादा नहीं पूछा । वो घर पर शांति से रह रही थी । जिस तरह की लडकी वो थी, उसे पूरे समय घर पर रहने भी मुश्किल होती थी । हालांकि उस नहीं कोई भी अंशकालिक नौकरी करने का कोई अनुरोध नहीं किया तो भी उसकी मुख्य चिंता पारिवारिक खर्च थे । नियमित उपचार के दो सप्ताह बाद भी उसके सीडी फोर अकाउंट में कोई सुधार नहीं था और बहुत कम था । इससे डॉक्टर चिंतित थे और उन्होंने सख्त आहार के साथ टीकाकरण, उसके रक्तचाप की निगरानी और हर दूसरे दिन उसके रक्त का नमूना लेने की सिफारिश की । फॅमिली खुलने वाला था और आस्था के लिए ये सभी चीजें अकेले संभालना बहुत मुश्किल था । मैंने डॉक्टर वजह से इस मामले पर चर्चा की और उन्होंने उसके लिए पूर्णकालिक नर्स की नियुक्ति का सुझाव दिया । आस्था अपने स्वास्थ्य से अधिक खाॅन डॉक्टर की सिफारिश से अच्छा भी नहीं क्योंकि हम एक पूर्णकालिक नर्स रखने का जोखिम नहीं उठा सकते थे । लेकिन मेरा फॅमिली चुनौती के लिए तैयार था । इस बार ये भी ऍम मैं एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल में भागना नहीं चाहता था और ना ही हताश होना । मैं डॉक्टर वजह से कोई एजेंसी बताने को कहा जो घर पर नजर उपलब्ध करवाती हूँ । अगले दिन में फॅमिली के अंदर बैठा था । इसका प्रचार वाक्य कर रहा था, हम आपकी देखभाल करते हैं, उससे छोटा सा कार्यालय था । इसमें छोटा के दिन और एक खुला वेटिंग एरिया शामिल था । चालीस वर्षीय व्यक्ति अंदर बैठा था । ऍम पर इंतजार कर रही थी, नौकरी की तलाश में भी हो सकती हैं । मैंने सोचा ऍम फोन पर बात करने में व्यस्त नहीं और कुछ ही मिनटों के बाद मुझ पर उसका ध्यान आ गया । सर, मैं कैसा आपकी मदद कर सकती हूँ? क्या घर पर योग्य नर्स उपलब्ध कराने की सेवा देते हैं? जहाँ हम सेवा में अग्रणी हम यहाँ सबसे बडे नर्सिंग परामर्शदाता है । उसने मुझे भरने के लिए कौन दिया? इसमें रोगी का नाम, लिंग, आयु, बीमारी, परामर्श, डॉक्टर बीमारी की प्रकृति संक्रामक क्या नहीं? और यदि ये एक अंक के रोक था जैसे कुछ जरूरी विवरण देने थे । इसमें ऐसे प्रश्न भी शामिल थे जैसे के रोगी को कोई मानसिक बीमारी हैं । घर पर कोई अन्य व्यक्ति उपलब्ध होगा । करोगी स्वयं पेशाब और शौच कर सकता है । वो पीछे छोटा सा नोट था । पुनश्च चाहा कि सब जानकारी गोपनीय रखी जाएगी । ऍम को भरने से पहले मैं यहाँ किसी वरिष्ठ व्यक्ति के साथ बातचीत करना चाहता हूँ । सर कुछ दिन प्रतीक्षा करें । हमारे परामर्श चाहता, आपसे बात करेंगे । परामर्शदाता कौन है? वो डॉक्टर ऍम उस व्यक्ति की तरफ इशारा किया जो क्या दिन के अंदर पारदर्शी दीवार के पीछे बैठा? ना मैं सोच रहा था क्या मुझे उन्हें आस्था की बीमारी के बारे में बताना चाहिए तो कैसे प्रतिक्रिया करेंगे । कुछ दस मिनट के बाद बुलाया गया था ऍम डॉक्टर की तरह से फिर स्पोर्ट पहन रखा था । मैं समझने में सफल रहा कि वह डॉक्टर की तरह कपडे क्यों पहने हुए थे । ऍफ नहीं था नहीं कोई मरीज थे । नमस्कार बीस बैठे उन्होंने सामने रखी कुर्सियों की और औपचारिक रूप से संकेत क्या नमस्कार मैं विजय हूँ ऍम उन्होंने जवाब दिया जैसे कि वह जेम्स बॉन्ड हैं । फॅमिली में मैं अपनी पत्नी के लिए पार्ट टाइम नर्स लेना है । हम दिल्ली एनसीआर में नहीं नर्सिंग में सबसे बडे हैं और हमारी एजेंसी के माध्यम से लगभग एक हजार नर्सें पहले ही सेवा पर हैं । हमारी सभी नर्सें अच्छी तरह से हो गए हैं और उनके पास इंडियन नर्सिंग काउंसिल यानी आईएनसी द्वारा प्रमाणित डिग्री है । बीस प्रतिशत नर्सिंग में डॉक्टर की डिग्री ले रही है । उन्होंने एक सुर में कहा, जैसे उन्होंने इसका दस लाख बार अभ्यास किया हूँ । वाकी बहुत अच्छी बात है । मैं छदम मुस्कराया, हम बहुत किफायती हैं । आप सबसे अच्छे आए हैं तो बढ चढकर बोले जा रहे थे । जैसे को देश में सबसे बडी आउटसोर्सिंग फर्म के मालिक थे । ठीक है मेरा मरीज हम के रोग से पीडित है । उन्होंने बंद कर दी गहरी सांस ली और कहा आप चिंता न करें । हमारी नर्स रोगी के मल मूत्र स्थान से लेकर टीकाकरण और फोर हंड्रेड में भी मदद करेंगे । मरीजों का रिश्तेदारों की तरह मानती है । जी नहीं, मुझे ऐसी चीजों की जरूरत नहीं है । मुझे क्लास की जरूरत है । जो उसे इंजेक्शन और रोजमर्रा की दिनचर्या में मदद करें । उसे उसके रक्तचाप की निगरानी कर रही है । इससे ज्यादा कुछ नहीं आवश्यक है । वर्षों में जा सकती है और अपनी दैनिक गतिविधियों स्वयं कर सकती है । ठीक है, मैं कुछ नर्सों की व्यवस्था कर सकता हूँ जिनसे अभी सेवा के लिए आप बातचीत कर सकते हैं । बीमारी का नाम क्या है? ये ऍम उन्होंने कुछ सेकंड के लिए सोचा । विश्वास करना मुश्किल था कि ये वहीं व्यक्ति था तो कुछ दिन पहले बक बक किये जा रहा था । कुछ महसूस हुआ कि वह मेरी मदद करने नहीं जा रहा था । देखिए, मैं समझा । मैं आपको बताना भूल गया कि हम संक्रामक बीमारियों वाले रोगी का प्रबंध नहीं करते हैं । चाहे भी एक संक्रामक बीमारी नहीं है, छूने छेडछाड करना ही है । यहाँ तक कि चुंबन से भी नहीं फैलती है । विश्वविजय मुझे खेद है कि मैं आपकी मदद नहीं कर सकता हूँ । आॅखो खतरे में नहीं डाल सकते हैं लेकिन कोई खतरा नहीं है । मैं खुद उसके साथ रह रहा हूँ, उसके साथ हो रहा हूँ और ऍम नहीं है । ये हमारी जानता नहीं है की आपकी आपकी पत्नी किसके साथ होते हैं । उसमे ऍम कहा अपनी जबान पर नियंत्रण हो । हम उससे सर बात नहीं कर सकते हैं । ऍम पहली बार था जब मैं इतनी जोर से चलाया था । एक घंटे के बाद में अगले नर्स परामर्श केन्द्र के सामने खडा था । उसके बोर्ड पर ऍर एट होम लिखा हुआ था कि जगह सोलह के डिस्ट्रिक्ट सेंटर मिस्टर थी । अपोलो इंद्रप्रस्थ अस्पताल सिर्फ एक किलोमीटर दूर था । भीतर गया पिछले की तुलना में बडा और यहाँ भीड थी । मैं योग्य नर्स की तलाश में हूँ । मैंने संक्षेप मेरे सेक्शन पर बैठी महिला को बताया बीस बैठी हूँ बुलाएंगे मुझे उम्मीद थी मुझे फॉर्म भरने के लिए दिया जाएगा । लेकिन ये देखभाल केंद्र थोडा अलग लग रहा था । एक सिल्वर बोर्ड पर अंकित था । हम पैसे के लिए यहाँ नहीं है । हम एक गैर लाभकारी संगठन है । उसके आगे यीशु का पोस्टर था । मैंने अगला बडा पॅन जिन्होंने दुर्भाग्य है कि नहीं आये लोगों की पीडा और बीमारी ये संबंधित है । लेकिन मानव जाति के प्रति मेरा कर्तव्य पूरा करने के लिए कुछ व्यक्ति नहीं । मैं कई बहुत प्रभावित था । सर आप जा सकते हैं । फॅसने कहा मैंने भीतरी केबिन में प्रवेश किया । ऍम थी हम उस परेरा जेम्स के बाद लगातार एक और साइन । ये उद्योग उनसे भरा हुआ था और मैं समझने में असफल रहा । आखिर क्यों? ऍम पर्यटन मैं विजय हूँ । स्वागत ऍसे पहले किया था आपने आवश्यकता समझाएँ आपको कुछ चीजें बताता हूँ । यहाँ पैसे के लिए नहीं है कि वास्तव में बडी बात है । हमारा इरादा पूरी तरह से मानवता की सेवा करना है । हम एक गैर लाभकारी संगठन है और हमारे पास केवल योग्य वह प्रमाणित नर्से हैं । उन्होंने वही गीत गाया जो मैंने थोडी देर पहले रहा था । कहीं गहराई से मुझे लगा कि यहाँ फिर से वही कहानी दोहराई जानी है । मुझे पता है कि आपका बहुत ही कुछ संगठन है । फॅमिली आवश्यकता को पहले नहीं । मैंने बात करते हुए कहा कि मैं समय बर्बाद करना नहीं चाहता हूँ । मुझे माफ करें, स्वतंत्र महसूस करेंगे । हम सभी जानकारी गोपनीय रखेंगे । उन्होंने कहा, मैंने अपनी आवश्यकताओं को समझाया और उन्हें बिना नाम प्रकट किए रोग की गंभीरता के बारे में सूचित किया तथा अंत में जोडा कि एक किफायती बेहतर होगा । इसकी चिंता मत करिए । आप से कम से कम चार्ज करेंगे । मैंने आपको बताया ना कि हम पैसे के लिए नहीं है । अब बताइए बीमारी का नाम क्या है? सर नहीं पत्नी ॅ के बीच एक अंदर है, ऍम सकते हैं । ब्रेक मिनट के लिए मौन हो गए । बिल्ली ये कोई अप्रत्याशित प्रतिक्रिया नहीं नहीं विश्वविजय । कुछ महीने पहले इसी प्रकार का एक मामला आया था । उन्होंने कुछ नर्सों का साक्षात्कार किया लेकिन कोई नहीं सुन के लिए काम करने को तैयार नहीं हुई थी । समझे कुछ आपकी मदद की जरूरत है । कृपया अपनी और से कोशिश कीजिए ही रहता है । मैं उसे बीमारी को छिपाने की जरूरत हुई जी कैसे हैं? नहीं डॉक्टर के पर्चे के लिए पूछ रही हूँ । विजय जी, आपके पास पैसा है तो सब को संभव है । डॉक्टर के पर्चे के बारे में ही करूँगा । उससे तुम्हारे लिए प्रबंधन करूँ । एक नकली डॉक्टर का बच्चा लेने के लिए आपको केवल मुझे थोडी अतिरिक्त राशि देने पडेंगे । इतनी डॉक्टर ऍम एक डॉक्टर के पैड पर केवल कुछ बीमारी लिखने के लिए दस हजार रुपए । मैं डॉक्टर के बच्चे के लिए चार नहीं ले रहा हूँ । बीमारी को छिपाने और आपको नर्स उपलब्ध कराने के लिए चार्ज कर रहा हूँ । ये बहुत महंगा है । आपकी इच्छा है विजय मुझे पता है कि अगर आप किसी को बताते हैं कि आपका होगी ऍफ है तो कोई भी स्पष्ट नहीं करेगा । उसकी देखभाल की तो बात बहुत दूर है । मुझे तो बहुत शुरुआत से ही पसंद नहीं आया था । लेकिन आखिरी जगह से खाली हाथ बाहर निकलने के बाद मुझे यकीन हो गया । कम से कम वही था जो समझदार था और मुझे एक नर्स दिला सकता था । मैं अपने अगले कदम के बारे में सोच रहा था जब वो रहस्यमय ढंग से मुस्कराया और बोला, ऍम, मेरा इरादा तुम्हारी मदद करना है । हम यहाँ पैसे के लिए नहीं है । ठीक है लेकिन मैं क्या चार्ज करेंगे? मैंने केवल छह घंटे चाहता हूँ । आपके द्वारा चुनी गई नर्स पर निर्भर करता है । अधिक योग्य और अनुभवी पीस लेगी । लेकिन ये बीस हजार से पचास हजार होता है तो बीस भी काम की प्रकृति पर निर्भर करती है । मान लीजिए कि अगर कोई खून बह रहा है या बाहरी चोट भी है, पीछे नहीं है । अगर रोगी के कपडे धोने और सफाई भी शामिल है आप सत्रह फीसदी जाएगी । ॅ सभी हाथ के दस्ताने, ॅ और सिरिंज आपके द्वारा खरीदे जाने हैं । उस ने जो भी कहा उसके साथ मैं सहज नहीं था तो मेरी स्थिति को समझ गया । अपनी सीट से उठ गया और मेरा काम होता है । विजय चिंता मत कर रहे हैं । यदि आप करोगी, धुलाई और सफाई को प्रबंधित कर सकता है तो ये बीस हजार से अधिक नहीं होना चाहिए । ठीक है, हाँ ठीक है । हम आज तक शक्कर कर सकते हैं । मालवीय नगर जो सोलह से बहुत दूर है वो मुझे देखने दो तो बाहर चला गया और दस मिनट बाद वापस आ गया । वो हाथ में कुछ कागजात के साथ लौटा था । मुझे तुम भाग्यशाली हो दो । नर्सें अभी उपलब्ध हैं । ये उनके सीवी हैं । मैं कागजात देखी, राहत और पडने की कोशिश कर रहा था कि कौन उसके लिए अधिक उपयोग था । तब मुँह होगा जरूर से पहले बात करते हैं । मैंने से मिलाया और उसने पहले एक फोन कर रहा हूँ । राधा गुप्ता अपनी अधेडावस्था में एक लडकी की तरह लग रहे हैं तो बहुत दुबली थी और मुझे विश्वास नहीं था । कोई वो किसी और की देखभाल कर सकती हैं । रखा कि उसे खुद एक नर्स की जरूरत ही हम दोनों था उसके सामने खडे थे । ऐसा लगता था कि थॉमस द्वारा मेरा साक्षात्कार लिया जा रहा था । मुझे अपने बारे में कुछ बताओ । उसने पूछा इस सवाल ने मुझे जमा दिया । मैंने प्रतिप्रश्न किया और एक अन्य सवाल पूछा तो मुझे लगा उस सवाल की जरूरत नहीं । नहीं राजा, आपके पास कितने साल का अनुभव है? मैंने एक और सवाल पूछा कोई अनुभव नहीं, मेरा पहला होगा । मुझे आपको भाडे पर क्यों लेना चाहिए? मुझे दूसरे सवाल ऍम प्रभावित हुआ लेकिन मैं कोई अन्य सवाल नहीं सोच रहा था । मैं सभी जरूरी टीकाकरण और नर्सिंग जिम्मेदारियों को जानती हूँ । अपनी पढाई के दौरान मैंने एक अस्पताल में काम किया था । राजा प्रत्युत्पन्न से जवाब दे रही थी । मैंने अनुमान लगाया कि ये उसका पहला साक्षात्कार भी हो सकता है । वजह क्या तुम कुछ पूछना चाहते हो? ऍम मुझे लगता है कि उनके लिए ये ठीक रहेगी । ठीक है तो क्या? तो कुछ पूछना चाह रहा हूँ । मेरे कुछ पूर्वक रहे हैं राजधानी कहा मैं ऐसी जगह काम करना नहीं पसंद करूंगी । चार रोगी को तपेदिक, वायरल बुखार, ऍम या फिर एंड जैसी कोई संक्रामक बीमारी हो । राजधानी कहा लेकिन एट संक्रामक नहीं है । मैं विरोध किया उसे पता है । लेकिन मैं जो भी के लिए काम करना नहीं चाहती, राजधानी जवाब दिया । वो ही कह रहा था वो होगी पीलिया ऍम बेटी है । हम उसके आदेश दिया तो भारत हजार कर सकती हूँ । बाहर गई लेकिन मैं से नियुक्त करने की मनोदशा में नहीं था । आॅनर्स को नहीं चाहता हूँ । तुमको एचआईवी रोगी के लिए कोई नर्स नहीं मिलेगी । हम उसने मुझे मनाने के लिए रहा । मेरे एक सवाल है । एक नर्स देखभाल कैसे कर सकती है जब उसे रोगी की बीमारी पता ही नहीं । मान लीजिए कि एक पीलिया रोगी को अंगूर के रस पीने का सुझाव दिया जाता है । क्या होगा अगर वो अंगूर का रस मेरी पत्नी के लिए हानिकारक है? उसका जीवन खतरे में पडा है तो क्या होगा? फॅमिली नहीं है । कोई फर्क नहीं पडता । कुछ घंटों के बाद रोजी होम्स ने प्रवेश किया । रोज एक मध्यम आयुवर्ग की आत्मविश्वास से भरी महिला थी रोजी आपके पास नर्सिंग का कितने साल का अनुभव है? दस से अधिक बस आपका ज्ञान जांचने के लिए पूछ रहा हूँ क्या ऍप्स के बीच मैंने पूछा फॅमिली वाहक है ऍम घातक बीमारी है । एक अच्छा हीरो की ठीक से देखभाल करने पर सामान्य जीवन जी सकता है लेकिन फॅमिली लंबे समय तक नहीं सकता है । अच्छा प्रभावित था तो मैंने सवाल पूछा जो निर्णायक होना था क्या? चाहे भी संक्रामक है? नहीं । ये केवल तभी संक्रमित करता है जब हम संपर्क और असुरक्षित यौन संपर्क होता है । वो सूत्रों से मैं थोडा सहज ऍम रोजी देखिए मैं कुछ भी छुपाना नहीं चाहता । और जैसे कि आपको पता है कि एड्स कोई संक्रामक बीमारी नहीं है । मेरी पत्नी एक सच्चाई होगी है और वो गर्भवती हैं । क्या उसकी देखभाल कर सकती हैं? पीस ऍम उस समय फॅमिली को क्रॉस कर लिया था । नहीं उसने बिना एक्सॅन जो कुछ भी नहीं करना चाहती थी उसके बारे में स्पष्ट जो क्या हुआ इसमें कोई नहीं है । लगभग ॅ होगी की देखभाल की थी और जब सभी को पता चला की वो एक सच्चाई होगी थी तो उन्होंने मुझसे अस्पष्ट की तरह व्यवहार करना शुरू कर दिया । वैसा प्रदर्शन करते थे जैसे मुझे कुछ संक्रमण हूँ फॅसा किया की मैं ऐसे किसी भी उपचार का हिस्सा नहीं बनूंगी । धन्यवाद आप जा सकती हैं । मैंने ऍम था । उसके जाने के बाद थॉमस थोडा चिंतित था और सुझाव दिया देखो जाए पहले वाली को बडे पहले वो अभी भी इस बीमारी अगर नहीं हूँ लेकिन रोक को छुपाना रोगी के साथ साथ नर्स के लिए भी जोखिम भरा होगा । आप अधिक भुगतान कर सकते हैं । जोखिम लेने से अच्छा है फॅमिली हुई हूँ । ऐसा कैसे जोखिम को समाप्त कर सकता ऍम अस ऍम सबकुछ है । पैसे के लिए लोग जोखिम लेने के लिए तैयार रहते हैं । मान लीजिए कि मैं आपको एक करोड रुपए देता हूँ कि आप मेरी पत्नी के जीवन से सभी जोखिमों को हटा सकते हैं । विजय मुझे गलत समझ रहे हो । मेरा इरादा तुम्हारी मदद कर रहा है । हम यहाँ पैसे के लिए नहीं है, नहीं था । बस मुझे लगता है कि तुम यहाँ सिर्फ और सिर्फ पैसे के लिए हूँ ।

Details
“यात्रा कैसी थी?” उसने मेरे चेहरे को दुलारते हुए पूछा। “मैं ड्‍यूटी पर था।” “ठीक है! मुझे पता है कि इसका मतलब क्या है। यह विद्यार्थियों के लिए एक यात्रा थी और मेरे लिए नहीं।” मेरे कहने का मतलब वह हमेशा समझ लेती थी और उसमें मेरे लिए बोलने का साहस था। मैं मुसकराया, लेकिन कुछ बोला नहीं।, सुनिए प्यार भरी कहानी| writer: अजय के. पांडेय Voiceover Artist : Ashish Jain Author : Ajay K Pandey
share-icon

00:00
00:00