BlogAbout us
Shubh Mangal Zyada Saavdhan | Not A Movie Review by Sucharita Tyagi | Ayushmann Khurrana in hindi |  हिन्दी मे |  Audio book and podcasts

Shubh Mangal Zyada Saavdhan | Not A Movie Review by Sucharita Tyagi | Ayushmann Khurrana in hindi

Show: Film Companion Local

Shubh Mangal Zyada Saavdhan works within the small town universe its in. With taunts going around over pure veg family members eating anda, and doctors who ask patients ki homeoopathy prescribe karoon ya allopathy, the dialogues are better written than the film as a whole. Listen to Sucharita Tyagi's Not A Movie Review of Shubh Mangal Zyada Saavdhan. Voiceover Artist : Sucharita Tyagi Producer : Sucharita Tyagi Author : Sucharita Tyagi Script Writer : Sucharita Tyagi It’s a love story of two men; Rare in Hindi cinema to represent all sections of the society with dignity. But, Shubh Mangal Zyada Savdhan is one of its kind movies. Let’s find out in the Podcast ‘Not a Movie Review’ what the movie critic Sucharita Tyagi has to say about it. The directorial venture of Hitesh Kewalya casts Jitendra Kumar, Gajraj Rao, Neena Gupta, and Manu Rishi as the main leads. Salesmen Aman Tripathi (Jitendra Kumar) and Kartik Singh (Ayushmann Khurranna) come close to each other in the city of Delhi; living in oblivion that their relationship will grow deep. They decide to go back to Allahabad to tell their love story to their parents. Period. This is the plot of Shubh Mangal zyada Savdhan which revolves around the love story of two men who are trying hard to convince their parents to accept them as a couple. The movies show the emotional unsettlement a homosexual couple has to go through; the unacceptance in the society and a fight between tradition and modern values. Will the movie do justice to the subject? For this listen to the podcasts of the movie review in Hindi. यह दो पुरुषों की एक प्रेम कहानी है; हिंदी सिनेमा में दुर्लभ समाज के सभी वर्गों का सम्मान के साथ प्रतिनिधित्व करना कठिन रहा है। लेकिन, शुभ मंगल ज्यादा सावधान अपनी तरह की फिल्मों में से एक है। आइए पता करें पॉडकास्ट ' नॉट ए मूवी रिव्यू ' में फिल्म समीक्षक सुचित्रा त्यागी को इस बारे में क्या कहना है। हितेश केवलिया के निर्देशन में बनी फ़िल्म जितेंद्र कुमार, गजराज राव, नीना गुप्ता और मनु ऋषि को मुख्य लीड के रूप में कास्ट किया गया है। सेल्समैन अमन त्रिपाठी (जितेंद्र कुमार) और कार्तिक सिंह (आयुष्मान खुराना) दिल्ली शहर में एक-दूसरे के करीब आते हैं; भविष्य से अंजान, उनका रिश्ता गहरा हो जाता है। वे अपने माता-पिता को अपनी प्रेम कहानी बताने के लिए वापस इलाहाबाद जाने का फैसला करते हैं। शुभ मंगल ज्यादा सावधान का कथानक दो पुरुषों की प्रेम कहानी के इर्द-गिर्द घूमता है जो अपने माता-पिता को समझाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं कि उन्हें एक जोड़े के रूप में स्वीकार करें। क्या फिल्म इस विषय के साथ न्याय करेगी? इसके लिए हिंदी में मूवी रिव्यू के पॉडकास्ट सुनिए।