BlogAbout us
Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges in hindi |  हिन्दी मे |  Audio book and podcasts

Audio Book | 112mins

Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges in hindi

AuthorMS Ram
Click for Full Hindi Audiobook - https://anchor.fm/hindiaudiobook कर्जों से मुक्ति बॉस से मुक्ति तनाव से मुक्ति बर्क हेजेज द्वारा लिखित पुस्तक कॉपीकैट मार्केटिंग 101 संपत्ति प्राप्त करने का असली रास्ता जानने के बारे में व "नेटवर्क मार्केटिंग" व्यवसाय की आवश्यकता के बारे में एक प्रेरक पुस्तक है। इसका एक प्रेरक वाक्य है: “हमेशा से आप जो करते रहे है, यदि आप हमेशा वही करते रहेंगे तो, आपको वही सब मिलेगा जो आपको हमेशा से मिलता रहा है।“ Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges in Hindi, is one of our best motivational audiobooks available in Hindi from our catalogue. This Audiobook is created by MS Ram. MS Ram is well known for his motivational audiobooks. This Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges audio will fill you with all the positive vibes and make you ready to spend your day on a positive note. Sit back. Calm yourself. Close your eyes. Experience the world of motivation; some few words can sparkle life with magic. Listening to Motivational audiobooks is one of the best ways to rejuvenate your inner-self. We understand that our users emotionally connect with the audios more when it is in their language. Hence we offer a variety of motivational audiobooks in different languages like Hindi, Gujarati, Telugu, Marathi, Bangla etc. These audiobooks are available for free and can be downloaded and saved on our app. And the best part is that you can access it while travelling, while working out in the gym, and literally doing anything, anywhere at any point of time be it early morning or late night. So, stream, download, and enjoy the ad-free experience. Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges ,हमारी सूची में उपलब्ध हिंदी में उपलब्ध सबसे अच्छे प्रेरक ऑडियोबुक में से एक है। यह ऑडियोबुक MS Ram द्वारा प्रस्तुत की गई है। MS Ram एक प्रमुख प्रस्तोता है जो उनके प्रेरक ऑडियोबुक के लिए मशहूर है। यह Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges ऑडियो आपको सभी सकारात्मक उर्जा से भर देगा और आपको एक सकारात्मक नोट पर अपना दिन बिताने के लिए तैयार कर देगा। आराम से बैठे। अपने आपको शांत करें। अपनी आँखें बंद करें। प्रेरणा की दुनिया का अनुभव करें। कुछ शब्द जादू की तरह जीवन में रंग भर सकते हैं। मोटिवेशनल ऑडियोबूक को सुनना आपके भीतर के आत्म-कायाकल्प के लिए अच्छा है। हम समझते हैं कि हमारे उपयोगकर्ता भावनात्मक रूप से ऑडिओ से अधिक जुड़ते हैं जब यह उनकी भाषा में होता है। इसलिए हम विभिन्न भाषाओं जैसे हिंदी, गुजरती, तेलुगू, मराठी, बंगला आदि में विभिन्न प्रकार के प्रेरक ऑडियोबुक प्रदान करते हैं। ये ऑडियोबुक मुफ्त में उपलब्ध हैं और हमारे ऐप पर डाउनलोड किए जा सकते हैं। और सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे यात्रा करते हुए, जिम में वर्कआउट करते हुए और शाब्दिक रूप से कहीं भी, किसी भी समय कहीं भी इसे सुबह या देर रात को सुन सकते हैं। तो, विज्ञापन-मुक्त अनुभव को स्ट्रीम करें, डाउनलोड करें और आनंद लें।
Read More
Transcript
View transcript

काफी कैट मार्केटिंग एक सौ अध्याय हम को पिकेटों के संसार में रहते हैं । अपने बडो की बात सुनने के प्रति बच्चे कभी गंभीर नहीं होते हैं परंतु उनकी नकल करने में माहिर होते हैं । जेम्स वाले दिन लेखक बचपन में मैंने जो पहले किताब पडी वह ही चुटकलों की पुस्तक एक जो अभी भी मुझे याद है जो मुझे और मेरे एक मित्र को परेशान करता था । पैसे से ही पैसा आता है में केवल डिजाइन की निकल सही तरीके से करनी चाहिए । मैंने पहले ही बताया था कि यह एक बहुत बडी अच्छा खेला था । सही है ना, लेकिन विचार अति गंभीर है । संपत्ति अर्जित करने है तो कॉपीकैट करने के लिए हम तरीके क्यों नहीं ढूंढ पाते हैं इस संबंध में? सोचिए हम अपने जीवन में सभी चीजों की काफी कैट करते हैं । सही है ना, लेकिन एक चीज भी काफी कट करना नहीं सीखा है । वास्तविक संपत्ति काफी कटिंग के सामर्थ्य पर आइए । कुछ क्षण हम विचार करेंगे । तब हम उन कारणों को देखेंगे जिनकी वजह से अधिकांश लोग संपत्ति अर्जित के तरीके की काफी कैट नहीं कर सकें । यह सकते हैं कि हम सब काफी कटिंग में कुशल है । हम में से प्रत्येक में विभिन्न योग्यता ही होती है जो हमें एक अलग इंसान बनाती है । कुछ लोग अच्छे नजदीक होते हैं जबकि कुछ लोग ठीक से नाथ नहीं सकते । हम में से कुछ अच्छे चित्रकार होते हैं जबकि ओरों को चित्र बनाना एक कठिन काम लगता है । हम में से कुछ अच्छे खिलाडी होते हैं जबकि अन्य सीधे चल नहीं पाते हैं । लेकिन हम में से प्रत्येक में एक चीज अच्छी होती है । बिना किसी अपवाद के हैं काफी कटिंग । कभी आपने सोचा है कि हम काफी कटिंग में कितने माही रहे । जब काफी कटिंग का समय आता है तो हम सबको यह प्रकृति का उपहार है । हम काफी कटिंग में माहिर है । पहले हम कहीं भी रहते हो या भले ही व्यक्तिगत तौर पर हमारी योग्यता कुछ भी हो, पर काफी कटिंग एक विशेष गुण है जो हम सब में सामान्यता पाया जाता है । हमारे गरीब या अमीर काले या गोरे पुरुष या महिला होने से इसमें कोई फर्क नहीं पडता है । एक चीज में हम आ ही रहे हैं । काफी कटिंग तो फिर संपत्ति अर्जित करने के तरीके की काफी कटिंग अभी तक हम क्यों नहीं कर सकें । बचपन से मरण तक काफी कटिंग करते हैं । हमारे जन्म के दिन से ही काफी कटिंग प्रारंभ हो जाती है । हमारी मातृभाषा की भोजन की, बाल बनाने के तरीके की, चलने के तरीके गी सजने संवरने के तरीके की हम काफी कटिंग करते हैं । जब हम स्कूल में जाते हैं तो हम अक्षरों की नकल करके पढना लिखना सीखते हैं । यदि आप पश्चिम सभ्यता में जन्मे हैं तो आप तेज के बाद से दायें और लिखने की पद्धति नकल करते हैं । यदि आप ऐसे क्षेत्र के कुछ हिस्सों में दिन में तो आप दाये से भाई और लिखने की पद्धति नकल करते हैं । जैसे जैसे हम बडे होते हैं, हम नकल करके कार चलाना सीखते हैं । सही है ना कैसे बैंक मेडल देखना चाहिए । मुडने का निर्देश वाला सिग्नल होने पर मुडना स्पीड लिमिट के अनुसार ड्राइव करना और आवश्यकता अनुसार रोकना कैसे चाहिए, यह सब हमें हमारा इंस्टेक्टर ही बताता है । आपने इंस्टेक्टर की काफी कटिंग यानी नकल में हम जितने अच्छे होते हैं, उतनी ही आसानी से हम ड्राइविंग टेस्ट पास कर लेते हैं । जैसा देश वैसा बेल । अपने आस पास के लोगों की नकल में हम बहुत अच्छे होते हैं । हमें उस समय आश्चर्य होता है जब हम विभिन्न सभ्यताओं के लोगों को अनुकरण अपने आस पास देखते हैं । मुहावरे का भी यही बात है जैसा देश वैसा वेश । यह एक सामान्य सी बात है कि विभिन्न सभ्यताओं का हम आधार करते हैं । विषेशकर जब हम किसी दूसरे देश के दौरे पर होते हैं तो हम इस बात का विशेष ध्यान रखते हैं, लेकिन करने की अपेक्षा कहना आसान होता है । अपने आसपास के रिवाजों की नकल में हम इतने माहिर होते हैं और जब हमें यह पता चलता है कि दूसरे हमारे रिवाजों का अनुकरण कर रहे हैं तो हमें हासरिया होता है । अपने विश्व में टीवी दर्शकों के माॅस् की एक छोटी सी सूची से मेरा मंतव्य स्पष्ट हो जाएगा । यूनाइटेड स्टेट सॉफ्ट और चीन चिकन फीट जापान आॅक्सी को ये आप रोस्टेड भारत मटन सेंडविच, कोरिया सनराइज स्पीड । क्या आप सोच सकते हैं कि वे उसे कैसे खा पाते होंगे? सनराइज स्टाॅल लेकिन सोचिये यदि आप कोरिया में पले बढे हुए हो तो टीवी देखते समय अब क्या खा रहे होंगे? सही है सनराइज स्ट्रीट काम करने के तरीके में नकल । यही मेरा मुद्दा है । विभिन्न संस्कृतियों के बीच बहुत सारे अंतर होते हैं, लेकिन प्रत्येक में एक चीज सामान्य होती है । वह हैं जिस संस्कृति से हम संबंधित होते हैं, उसको हम नकल करते हैं । हम इतना ज्यादा नकल करते हैं कि हम उसे खास मैं तब दिए बिना स्वीकार कर लेते हैं । नकल की व्यापक था । इतनी दूर है कि सांस लेने के बाद हम ये है हमें प्रकृति का दूसरा हूँ बाहर है ते मैं आपसे पूछता हूँ की संपत्ति अर्जित करने के तरीके की नकल अभी तक हम क्यों नहीं कर सकें । यह गलत नहीं है कि सीखने का एक महत्वपूर्ण तरीका मनुष्य को ज्ञात है । वह है नकल । हमारे जीवन की छोटी सी बात से लेकर बडी बात जो हमारे निर्णयों को बदलती है पर मैं कल का बहुत अधिक प्रभाव होता है । उदाहरण के लिए हम अपनी जिंदगी का एक बहुत बडा भाग आपने नौकरी करने में गुजार देते हैं । कभी आपने यह सोचा है कि आप जो कार्य कर रहे हैं उसे अपने कैसे सीखा? कंप्यूटर पर पत्र बनाना आपने कैसे सीखा? आपने कैसे जाना कि काम पर जाते समय क्या पहनना है और जो नहीं लोग आते हैं उन्हें काम करना कैसे सिखाते हैं? क्या ये है? सही नहीं है कि नकल करके जो आपने सीखा है उसे ही आप सिखाते हैं । मनोवैज्ञानिक इसे मॉडलिंग और मिररिंग कहते हैं लेकिन विशेषज्ञ के रूप में मैं इसे नकल कहता हूँ । इस पर कोई विवाद नहीं है कि हम जन्म से लेकर मरण तक नकल करते रहते हैं, क्योंकि नकल करना आसान है । हर बार हमें शुरुआत आरंभ से नहीं करने पर थी । यह काम करता है और हम इस में माहिर होते हैं । एक मुहावरा है पंद्रह नकलची होता है के अनुरूप ही मनुष्य भी जैसा देखते हैं, वैसा ही अनुसारण करते हैं । इसलिए मैं कहता हूँ कि हम नकलों के संसार में रहते हैं । यदि इस संसार का प्रत्येक प्राणी किसी एक काम में माही गए तो वह हैं नकल काम की नकल का संक्षिप्त इतिहास । हम धन अर्जन कैसे करते हैं, इसकी नकल हम सदियों से करते रहे हैं । हजारों साल पहले किसान के बच्चे अपने माता पिता की नकल कर किसान बने । मोदी के बच्चे मोची बने इसलिए हमारे उपनाम हमारे व्यापार के अनुरूप रखे गए । जैसे फार्म, स्माॅल, टेलर आदि । औद्योगिक क्रांति के फलस्वरूप फार्मर, स्मिट, कारपेंटर, टेलर जैसे उपनाम वाले लाखों बच्चे अपने पुस्तैनी व्यापार से अलग हो गई और शहरों में काम की नई धारणा की नकल करने लगी । काम की नौकरी पुश्तों से अच्छी तरह से होती रही है । विषेशकर अमेरिका में जो औद्योगिक क्रांति का अग्रणी कहा है । बीस सावदी का पूर्व तो विश्व दो वो पिछडेपन का साक्षी रहा है । बहुत से लोगों ने अपने परिवार और मित्रों की नकल की और नौ से पांच बजे की नौकरी से खुश रहे और जब तक लोगों की अपेक्षाएं उनके जीवन स्तर से आगे नहीं निकल गई तब तक लोग जी ने नौकरी मिलने जा रही रही तो मानसिक तौर पर उन्हें जो कुछ मिल रहा है उसे संतुष्ट होते हैं । नकल करने से पहले ज्यादा होते हैं । हमारे जीवन में बहुत सारी बातों के अनुरूप नकल का भी एक कमजोर पक्ष हैं । हमने किसी चीज की नकल की तो इसका मतलब यह नहीं कि वह थी कि हो या दक्षिण ही हो या उत्पादक हो । दुर्भाग्य वस्तु अक्सर नकल करने से हमारे विचार की क्षमता में गिरावट आती है । मेन स्ट्रीट स्थित एक दुकानदार की कहानी मुझे याद आ रही है जिसने बाबा आदम के जमाने की घडी दुकान की खिडकी में लगा रखी थी । कुछ सालों बाद दुकानदार नहीं पाया की एक सबवे आदमी प्रतिदिन दोपहर को दुकान के सामने आकर उस पुरानी घडी के सामने ठहर जाता और जेब से अपनी गाडी निकालकर सावधानी से समय मिल जाता है । एक दिन दुकानदार की जिज्ञासा चरम सीमा पर पहुंच गई । बाबा आदम के जमाने की घडी के सामने जब है सब ये आदमी आकर खडा हुआ तो दुकानदार दोडकर दुकान से उसके पास गया और उसने पूछा कि प्रतिदिन आप अपनी घडी का समय क्यों मिलाते हैं? मुस्कुराकर उस आदमी ने जवाब दिया मैं शहर की कंपनी का फोरमेन हूँ । प्रतिदिन शाम को पांच बजे मैं काम समापन की सिटी बजाता हूँ और मैं चाहता हूँ की यह काम रोज सही वक्त पर वो व्रत दुकानदार बडे आसिरी ऐसे उसे देखता रहा और जोर जोर से हंसने लगा । वह आदमी पीछे हटा और उस ने गुस्से से कहा इसमें हंसने की क्या बात है? मुझे क्षमा कीजिएगा । दुकानदार ने कहा आपको क्रोधित करना मेरा मतलब नहीं है लेकिन परस्पर मुझे हंसी आ गई । इतने सालों से मैं इस घडी का समय आपकी पांच बजे की स्थिति से मिलाता रहता हूँ । नकल के कमजोर पहलू का यह एक उत्कृष्ट उदाहरण है । हम दूसरों की नकल करते हैं, दूसरी हमारी काफी करते हैं और अधिकांश से हम यह समझते हैं कि लोग सही काम की नकल कर रहे हैं । मैं स्पष्ट करूंगा । हम धरना बना लेते हैं कि हम सही लोगों की काफी कर रहे हैं । ठीक इसी प्रकार जब हम कोई काम बिना यह सोचे करने लगते हैं कि इसे हमें क्यों करना है तो क्या होता है । मुझे लगता है कि बहुत से लोग यह मानते हैं की संपत्ति अर्जन करने का तरीका नौकरी करना है जबकि वास्तव में नौकरी से वास्तविक संपत्ति नहीं अर्जित होती है । नौकरी से एएसआई आमदनी होती है और इन दोनों में बहुत बडा अंतर है काम की निकल का । आइए पुनर्निरीक्षण करें जैसा कि मैंने पहले बताया है । सीखने का एक महत्वपूर्ण तरीका मनुष्यों को ज्ञात है, वह हैं नकल करना । लेकिन हर बार हमें मुड कर अपनी समझ को जांचना परखना होगा कि हम क्या को भी कर रहे हैं और क्यों? जिससे की हम जैसा चाहते हैं वैसा ही परिणाम हमें मैं कल से मिल सके आप ताकि इस अध्याय में मैं अक्सर एक प्रश्न पूछता रहा हूँ की संपत्ति अर्जित करने के तरीके की नकल हम अभी तक क्यों नहीं कर सकें? उत्तर स्पष्ट है संपत्ति अर्जेंट के स्थान पर हम में से अधिकांश लोग नौकरों की नकल करते हैं क्यो क्योंकि बहुत से लोग यह मानते हैं कि उनके सपनों को साकार करने के लिए नौकरी ही केवल एकमात्र तरीका है । नौकरी के विकल्पों से भी अनभिज्ञ होते हैं । शायद वे यह विश्वास नहीं करते हूँ की संपत्ति के अन्य स्त्रोत भी हो सकते हैं अथवा नियमित नौकरी के अलावा अन्य तरीके से वास्तविक संपत्ति को अर्जित करने में विश्व को ऐसे क्षम पाते हैं । कारण जो भी हो, परिणाम वही है । अधिकांश लोग पांच प्रतिशत के स्थान पर प्रतिशत में खाते हैं क्योंकि वे नौकरी के तरीके की नकल करते हैं और वास्तविक संपत्ति के स्थान पर अस्थाई आमदनी को प्राप्त करते हैं । लेकिन आप के बारे में क्या है? नकल के लिए आप किसका चयन कर रहे हैं? क्या आप पर लोगों की तरह ही होना चाहते हैं जो नौकरी के तरीके की नकल करते हैं या पांच प्रतिशत की तरह होना चाहते हैं जो संपत्ति अर्जन के तरीके की नकल करते हैं अपने अनुमानों से बच्चे एक होशियार आदमी के हम लोग उन के अनुसार आपका दिमाग पैरासूट की तरह होता है जो केवल खुलने पर ही कार्य करता है । आज पहले की अपेक्षा हमें अपने दिमाग को खुला रखने की जरूरत है और यह जानना है कि नौकरी केवल आए अर्जुन का एक जरिया है नए की संपत्ति अर्जन का । मेरा मानना है कि यदि लोग अपने जीवन में आगे बडने के प्रति गंभीर है, उन्हें जो कुछ मिल रहा है, उससे संतुष्ट होने की बजाय उन्हें अपने अनुमानों से बचना होगा और संपत्ति अर्जन के वैकल्पिक तरीके के लिए अपने दिमाग को खुला रखना होगा । मेरा मानना है कि पंचानबे प्रतिशत लोग अर्थात जो लोग नौकरी लिखे दरवाजे से प्रवेश करते हैं, उन्हें उसी स्थान पर पहुंच जाते हैं जहां से वे चले थे । मेरा मानना है कि यदि हम अपने परिणामों को प्राप्त करने तथा पांच प्रतिशत में आने के प्रति वास्तव में इच्छुक है तो हमें उन दरवाजों से प्रवेश करना होगा जो संपत्ति अर्जन के हूँ । अगले अध्याय में हम आमदनी, अर्जुन और संपत्ति अर्जुन के मध्य स्थित अंतर पर गहराई से चर्चा करेंगे और हम सीखेंगे कि पहले की अपेक्षा आज वास्तविक संपत्ति प्राप्त करना क्यों ज्यादा आसान है? अध्याय दो वास्तविक संपत्ति क्या है? संपत्तिवान होने का क्या अर्थ है? मेरा मतलब वास्तविक संपत्ति से है । निश्चय ही संपत्ति का आप विभिन्न लोगों के लिए विभिन्न चीजों से होगा । मेरे लिए चीजों को खरीदने की क्षमता होना ही संपत्ति नहीं है, लेकिन यह है इसका एक अच्छा पहलू हैं । मेरे लिए वास्तविक संपत्ति स्वतंत्रता का एक पर्याय है । संपत्ति के संदर्भ में मेरी निजी परिवार है और मैं समझता हूँ कि संपत्ति के बहुत से लाभों को यह आवत करती है । आप जो कुछ भी करना चाहते हैं, जब भी करना चाहते हैं, उससे तू पर्याप्त धन है । समय का होना ही संपत्ति है । क्या आप समझते हैं कि बिल गेट्स, जो अरब पति है, माइक्रोसॉफ्ट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में अपनी नौकरी कर रहे हैं क्योंकि वह वैसा चाहते हैं । मैं समझता हूँ कि यह कहना उचित होगा कि वह जो करना चाहते हैं, उसके लिए बिल गेट्स ने वास्तविक संपत्ति का अर्जन किया है । नई की केवल आमदनी का संक्षेप में स्वतंत्रता ही वास्तविक संपत्ति है । संपत्ति का अर्थ है चाहिए नहीं की स्वतंत्र था तक मैंने भी बिल गेट्स के साथ हाथ बराबरी पर है । विश्व भर में एयरपोर्टों पर सैंकडों ड्यूटी फ्री दुकानों के संस्थापक के रूप में वे जाने जाते हैं । फिर भी अरब पति है नहीं, अरब पति थे । वर्ष में फिरने ने अपनी तीन पर पांच बिलियन संपत्ति काॅन् पांच प्रतिशत हिस्सा एक धर्मार्थ संस्था को दान दे दिया । आज महत्वपूर्ण कार्यों हेतु वह अपने समय और धन का दान विश्व भर में कर रहे हैं । आपने धन और समय का उपयोग करने की स्वतंत्रता ही वास्तविक संपत्ति है । इसे बिलगेट्स और फिर ने दोनों ने समझ लिया था । अधिक संपत्ति अर्जन में गेट सपने समय का उपयोग कर रहे हैं, जबकि अपनी संपत्ति को व्यय करने में अपने समय का उपयोग फिर नहीं कर रहे हैं । दो अलग बातों का चयन करने पर भी इन दोनों व्यक्तियों में एक समानता है । वह हैं वास्तविक संपत्ति । अपने समय का सदुपयोग करें । अधिकांश लोग समझते हैं कि चीजों को खरीदने के लिए बहुत सारे धन का होना ही वास्तविक संपत्ति है । लेकिन चतुर मनुष्य जानते हैं की वास्तविक संपत्ति चीजों को खरीदने के लिए क्षमता होना नहीं है । वरना आप क्या करना चाहते हैं, उसके लिए ज्यादा समय का होना है । इस विषय में सोचे जवाब बूढे हो चुके होंगे, किसी अस्पताल के बगीचे में बैठे होंगे और आपने अपना जीवन किस तरह से बिताया, इस संदर्भ में विचार कर रहे होंगे तो आपको सर्वाधिक दुखी इस बात का होगा । अत्यधिक महंगा घर खरीदने पालेगा या जब आपके बच्चे छोटे थे तब उनके साथ समय व्यतीत करने का आपको सर्वाधिक दुख किस बात का होगा? कार्यालय में पदोन्नति है तो रात दिन काम नहीं कर पाने का या अपने माता पिता और मित्रों के साथ समय व्यतीत नये कर पाने का । जब की उनकी चाहत यह रही हो । समय हमारे लिए एक महत्वपूर्ण वस्तु हैं । स्वर्ण से भी ज्यादा की थी क्योंकि हर बार यह व्यतीत हो गया जो आप उन्हें इसे नहीं पा सकते । यदि आपकी कार तबाह हो जाएगी तो आप एक नई कार खरीद सकते हैं । गलत निवेश से आर्थिक नुकसान हो जाए तो आप आगे और अधिक धन कमा सकते हैं, लेकिन एक बार बर्बाद हुए समय को आप उन्हें नहीं पा सकते । एक बार गया तो हमेशा के लिए गया एक चीनी मुहावरा इसे अच्छी तरह से स्पष्ट करता है । व्यक्त में एक्शन भी बर्बाद करने से बेहतर है कि अपनी सारी संपत्ति खाई में फेंक दो । इसलिए मैं कहता हूँ कि आप जो चाहें जब चाहें उसे करने के लिए पर्याप्त धन । मैं समय का होना ही वास्तविक संपत्ति है । बिना किसी शंका के । यह स्पष्ट है कि आप अपने समय को कैसे व्यतीत करें । यह चयन करने की स्वतंत्रता की वास्तविक संपत्ति का सबसे बडा लाभ है । आमदनी अर्जुन धन के लिए समय का दाल क्या आपने कभी परिश्रम करने वाले डॉक्टर या वकील को डेढ लाख डॉलर प्रतिवर्ष से ज्यादा कमाते देखा है? वे स्वयं को मकड जाल में फंसा पाते हैं । क्या वह वास्तविक संपत्ति का अर्जन कर रहे हैं । संपत्ति अर्जन की मेरी परिवार सा के अनुसार उत्तर है नहीं मोटी कमाई करने वाले बहुत से पेशेवर लोगों के पास वे जो करना चाहते हैं और जो खरीदना चाहते हैं उनके लिए धन होता है । परंतु बहुतों के पास समय नहीं होता क्योंकि उन्हें दिन रात अपने कार्य में व्यस्त रहना पडता है । वास्तविकता यह है कि अपने जीवन स्तर को बनाए रखने के लिए उन्हें आमदनी करनी होती है । लोग जो अपने कार्य से बंद चुके होते हैं, चाहे वे ज्यादा कमाई या कम आमदनी अर्जन के शिकार होते हैं । नए की संपत्ति अर्जन के आमदनी अर्जुन से आप धन के लिए अपने समय का व्यापार करने लगते हैं, जिसका अर्थ है जब तक आप सुबह कार्य नहीं करते, आप धन नहीं कमा सकते, चाहे वह कचरा बीनने वाला हूँ, जो पासपोर्ट पंद्रह डॉलर प्रति घंटे कमाई या एक हफ्ते चिकित्सक हो, जो पांच हजार डॉलर प्रति घंटे कमाई, आमदनी अर्जुन एक व्यापार हो जाता है, जहाँ समय को धन के लिए बेचा जाता है । आमदनी अर्जन के अनुसार दस घंटे कार्य करने का मतलब है दस घंटे का वेतन । दुर्भाग्य बस आमदनी । अर्जुन ने एक नए खत्म होने वाला व्यापार है, इसलिए मैं आमदनी अर्जुन को धन के लिए समय का मकडजाल कहता हूँ । इसका सबसे खराब पहलू हैं कि जब व्यापार रुक जाता है तब आमदनी बंद हो जाती है । आप पर यह है कि यदि श्रमिक बीमार हो जाएगी या घायल हो जाएगी या दिन गांव दिए तो कामबंदी हो जाएगी या जल जाए तो उनकी आमदनी बंद हो जाती है । जब आएगी व्यय के बराबर हो आई एक देनी व्यवसायिकों देखते हैं उसे जान स्माॅल डायरेक्टर का नाम देते हैं जिनकी वार्षिक आय डेढ लाख डॉलर हो या सामान्य स्तर के अनुसार डेढ लाख डॉलर । प्रतिवर्ष की आय होना बहुत सारा धन का होना माना जाता है । लेकिन जब अतिशिक्षित व्यवसायी अपने जीवन स्तर को बनाए रखने के लिए अपनी आमदनी पर आधारित हो जाए तो वे धन के लिए समय के मकडजाल का हंसा शिकार हो जाता है । स्थायी आमदनी के गुलाम डॉक्टर्स मीट का जीवन स्तर अच्छा है । एक आलीशान कंट्री क्लब का सदस्य बनने अवकास के लिए धन की चाह हम में से सबको होगी । इसी प्रकार डॉक्टर स्मिथ की जीवन शैली में अभी शायद ये है सोपन ही होता हूँ परन्तु में इसके लिए बडी राशि खर्च करते हैं क्योंकि उन्होंने इसके लिए अपने स्वतंत्रता गिरवी रखती है । आपने देखा डॉक्टर सुमित कि आईएएस थाई है लेकिन अपनी मर्जी के अनुसार खाने जाने की स्वतंत्रता उन्हें नहीं है हुए अपने कार्य में बंद गई हैं क्योंकि वे उस जीवन शैली के गुलाम हो गयी, इच्छा हो या नहीं परंतु डॉक्टर सुमित को रोज कार्यालय जाना ही पडता है । यदि डॉक्टर सुमित नहीं जाते हैं तो उन्हें वेतन नहीं मिलेगा और यदि डाक्टर स्मिथ को वेतन नहीं मिलेगा तो वे अपने ऋणों का कार्य, इनका या क्रेडिट कार्ड बिल का या स्कूल की फीस का भुगतान नहीं कर सकेंगे । इसलिए शायद पैसे वार लोग हार्ट अटैक का शिकार ज्यादा होते हैं । यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है । घटने का इंतजार करते दुर्घटना अच्छी आमदनी पैदा करने वाले डॉक्टर का हाल क्या होगा यदि उसके हाथों में गठिया की बीमारी हो जाएगी और वह काम करने लायक नहीं रह सकी जिससे उसकी आमदनी बंद हो जाएगी । मुख्य मुद्दा यह है यदि आपने काम करना बंद कर दिया और धन अर्जन नहीं कर सके तो आपका हाल क्या होगा? हम में से अधिकांश के पास यही समस्या होती है । आमदनी अर्जुन के साथ यही समस्या होती है । यह है अस्थाई होता है । आपने काम करना बंद किया तो आमदनी भी बन और यदि नौकरी से प्राप्त होने वाली आमदनी के अलावा आपके पास सामने नहीं कोई दूसरा साधन नहीं है तो आप विपत्ति में पड जाएंगे । बिजनेसवीक पत्रिका के अनुसार एक वो सात कर्मचारी, एक घर खरीदने में, कुछ बचत करने में तथा सेवानिवृत्ति के बाद मिलने वाले लाभ प्राप्त है । तू अपनी जिंदगी का आधा समय व्यतीत कर देता है । लेकिन छह महीने के बेरोजगारी इन सबको नष्ट कर देती है । यह एक डरावनी स्थिति है । रेजिडेंटल आमदनी द्वारा स्वतंत्रता यदि आप की इच्छा नहीं है तो काम पर नए जाकर भी । यदि आप डॉक्टर स्वीट की जीवन शैली के अनुसार सभी लाभों का आनंद उठा सके तो क्या ये है एक बहुत बडी बात नहीं होगी? यह है तो आपका सत्य होने वाला दिवस होगा । क्या यह सही नहीं है? सुबह गया बस ऐसा ही आमदनी के अलावा भी एक प्रकार की हम नहीं होती है जिसे रेजिडेंटल आमदनी कहा जाता है । स्थाई आमदनी के विपरीत चाहे आप काम पर जाएं या नहीं जाएंगे, पर रेजिडेंटल आमदनी से आपको धन की प्राप्ति होती रहती है । धन के लिए समय के मकडजाल में रेजिडोर आमदनी नहीं फसती क्योंकि यह धन है तू समय के व्यापार पर निर्भर नहीं है । रेजुल आमदनी कैसे अर्जित होती है इसके लिए एक दूसरे पैसे अगर व्यक्ति का उदाहरण हम हमें देखना होगा उसे हम जो जोन सी । पी । ए के नाम से पुकारेंगे । डॉक्टर सुमित की तरह ही श्री जो उसकी प्रैक्टिस भी अच्छी चलती है । लेकिन डॉक्टर स्मिथ के विपरीत श्री जोन्स नहीं रेजिडोर आमदनी के महत्व को अच्छी तरह समझा है आपने चालीस वर्षों के करियर में श्री जोन्स ने प्रतिवर्ष कंपनी आय में से दस प्रतिशत की बचत की और चतुराई से उसका निवेश? क्या रिटायर होने पर आज श्री जो उसके पास म्यूचुअल फंड में निवेश की हुई एक पॉइंट पांच मिलियन डॉलर की राशि उपलब्ध है, जिस पर प्रतिवर्ष दस प्रतिशत आई होती है । ये है उनकी रेजिडेंटल आमदनी है, जो डॉक्टर स्मिथ की ऐसा या आमदनी डेढ लाख डॉलर के समकक्ष है । हालांकि दोनों ने क्या किया, वह तो अलग है । अब मैं आपसे पूछता हूँ आप कौन से आमदनी प्राप्त करना चाहेंगे? ऍम नानी या मिलजुल आमदनी उत्तर स्वतः स्पष्ट है । वास्तविक संपत्ति का अर्जन, संपत्ति का अर्जन, जो आदमी अर्जुन का विरोधी है, धन के लिए समय के मकडजाल की सीमा में नहीं आता, क्योंकि यह लीवरेज की धारणा पर आधारित है । वास्तविक संपत्ति अर्जन करने का एकमात्र तरीका है अपने समय धान प्रयासों का सदुपयोग करना, जिससे दस घंटे के कार्य में सोया शायद एक हजार घंटे का वेतन मिले । आप जानते हैं कि धनवान और अधिक दरवान हो जाता है क्योंकि वे अपने धन का निवेश समय पर करके लीवरेज का फायदा उठाते हैं । जैसा कि मैंने अपनी दूसरी पुस्तकों में बताया है, आप दूसरे स्थान पर आने वाले प्रतियोगी को अपनी शक्ति से पहले स्थान पर नहीं ला सकते हैं । कई करोडपति लोगों ने अपनी आमदनी में बीस प्रतिशत की बचत कर उसे वर्ष दर वर्ष चतुराई से निवेश करके अपने भविष्य को सुरक्षित किया है । आपने धन को समय पर निवेश करें जिससे वह आपके लिए कार्य करें । इसी तरीके से धनी व्यक्ति और अधिक धनी बनते हैं तथा दनी बने रहते हैं । आमदनी अर्जुन और संपत्ति अर्जन के मध्य यही एक बडा अंतर है । आमदनी अर्जन स्थाई है । आपको कार्य करना होगा अन्यथा आपको आमदनी नहीं होगी । संपत्ति अर्जन स्थायी होता है । अपने लिए कार्य करने हेतु आपने धन और समय का निवेश कर आप धन के मकडजाल से बच सकते हैं अपने समय की लिवरेजिंग करना । अब मैं समझता हूँ कि बहुत थोडे से लोग यथोचित रूप से वही करते हैं जो कि मिस्टर जोन सी । पी । ए । नहीं किया अपनी मासिक बचत को डेढ करोड डॉलर में परिवर्तित कर दिया । लेकिन वास्तविकता यह है कि आपके धन की लिवरेजिंग ही वास्तविक संपत्ति अर्जन का एकमात्र जानता वहाँ पर खत्री का नहीं है । वास्तविक संपत्ति अर्जुन का दूसरा तरीका है आपके समय को बर्बाद करने की अपेक्षा उसका सदुपयोग से निवेश कर लीवरेज करना । हम सभी जानते हैं कि समय ही धन है । लीवरेज के सामर्थ्य से यह है पहले की अपेक्षा ज्यादा स्पष्ट हो रहा है । लेकिन यह सकते हैं कि हम सभी के पास एक समान धन नहीं होता । लेकिन समानता केवल एक ही है हम सभी के पास बराबर समय का उपलब्ध होना । अब मैं आपको समझाना चाहता हूँ की आप के धन को निवेश कर संपत्ति अर्जन के संदर्भ में ये है पुस्तक नहीं है । यह है तो आपके समय को निवेश कर संपत्ति अर्जन के संदर्भ में है । क्योंकि जब आप भलीभांति निवेश करते हैं तो समय धान की बराबरी कर लेता है । इससे कोई फर्क नहीं पडता है कि कोई व्यक्ति अरब पति है या भिखारी । हमारे पास बराबर समय उपलब्ध होता है । एक दिन में चौबीस घंटे एक सत्ता में एक सौ अडसठ घंटे, एक मामले सौ बहत्तर घंटे और एक वर्ष में आठ हजार घंटे संपत्ति । अर्जुन का मूल सिद्धांत अधिक समय अर्जन करना नहीं है क्योंकि यह तो असंभव है । मूल से दान तो यह है कि हम उपलब्ध समय का पूर्ण उपयोग करें । आप सहमती होंगी । हम सब खुशनसीब है कि अपनी संपत्ति के लीवरेज करने के स्थान पर आज हमें अपने समय को लीवरेज करने का तरीका उपलब्ध हैं । सौभाग्य से आज एक लीवरेज सिस्टम उपलब्ध है । जहाँ लेनी सिस्टम जिसमें ज्यादा समय में थोडे से धन को प्राप्त करने के स्थान पर थोडे से समय में ज्यादा धन प्राप्त किया जा सकता है । क्या आप गलत सिस्टम की निकल कर रहे हैं? यह तो सही है कि डाॅलर के उपनाम सहित हमने जन्म नहीं लिया है । बिल गेट्स याचक लेने की तरह हम जीनियस बनकर भी नहीं जन्मे हैं । माइकल जॉर्डन अथवा काम करो जैसी योग्यता भी हम में नहीं है । हम अक्सर यह है समझ लेते हैं कि जिंदगी में लाटरी जीतने से ही संपत्ति का अर्जन होता है । यह तो अच्छी योग्यता वाले लोगों या भाग्यशाली लोगों के लिए होता है । लेकिन आप और मेरे जैसों के लिए यह है विश्वसनीय तौर पर नहीं होता है । यह बकवास है । हमें सीमित सोच के विचारधारा में नहीं जीना चाहिए । यह है एकदम विकृत विचारधारा है और हमें इस प्रकार के नकारात्मक विचारधारा से तत्काल ही बाहर निकलना होगा । वास्तविकता तो यह है कि अधिकांश व्यक्ति यह है मान लेते हैं कि वे संपत्ति अर्जित नहीं कर सकते, जबकि वो कर सकते हैं । ज्यादातर लोग संपत्ति का अर्जन नहीं करते हैं । इसका कारण यह है कि संपत्ति अर्जन के सिस्टम की नकल करने के बारे में उन्हें कभी बताया ही नहीं गया होता है । सात । पर यह यह है कि हमने से बहुत से लोग गलत प्लान की नकल करते रहे हैं । संपत्ति अर्जन के लिए काफी करने के लिए । मॉर्डल का पता नहीं होने से जो दूसरे करते हैं, हम भी उसी की काफी करने लगते हैं । हम नौकरी करने लगते हैं । ज्यादा लोग जो करते हैं, वही हम करने लगते हैं और परिणामस्वरूप हम भी वही अर्जन करते हैं, जब दूसरे करते हैं । मैं नौकरी को दोष नहीं दे रहा हूँ, करती आई है । समझ लीजिए कि मैं नौकरियों पर प्रहार नहीं कर रहा हूँ, वरना नौकरी से प्राप्त परिणामों को दोस्त दे रहा हूँ । यदि नौकरियाँ वास्तविक संपत्ति को निर्मित करती तो नौकरी करना अच्छा है । यह राय देने वाला मैं पहला व्यक्ति होता, लेकिन ऐसा है नहीं । केवल वास्तविकता का भ्रम है । नकल ऍम ग्रोथ है न एक इंजीनियर करो । सब के यह है कि जब तक आप आए अर्जुन के सिस्टम की नकल करेंगे, तब तक आप वास्तविक संपत्ति का अर्जन नहीं कर सकेंगे, क्योंकि यह लीनियर ग्रोथ पर आधारित है, जो लीवरेज विरोध पर आधारित संपत्ति अर्जुन का उल्टा होता है । अगले अध्याय में लीनियर विरोध की सीमाओं पर हम चर्चा करेंगे और चर्चा करेंगे कि यदि हम वास्तविक संपत्ति का अर्जन कर पूर्णतय चिंतामुक्त होना चाहते हैं, तो हमें लीवरेज सिस्टम की नकल करना प्रारंभ करनी होगी, हूँ नहीं । अध्याय तीन लीनियर ग्रोथ धन के लिए समय का व्यापार मैं अपने सेमिनारों में लोगों से कहता हूँ कि अधिकांश वर्कर फोर्टी फोर्टी फोर्टी प्लान पर काम करते हैं और था । वे सप्ताह में चालीस घंटे कार्य करते हैं और चालीस वर्षों तक करते हैं और जब वे रिटायर होते हैं तो रिटायरमेंट डिनर पाते हैं । साथ ही उन्हें मिलती है चालीस डॉलर की एक घडी । लेकिन बहुत तेजी से बदलने वाले इस संसार में चालीस चालीस चालीस प्लान की उपयोगिता समाप्त हो चुकी है । हमने से अधिकांश आज पचास पचास पचास पचास प्लान पर काम करते हैं । आज हम सप्ताह में पचास घंटे काम करते हैं । वर्ष में पता सब का काम करते हैं । पचास वर्षों तक करते हैं और जब रिटायर होते हैं तो आज प्राप्त हो रहे धन जिससे कि गुजारा नहीं होता, के स्थान पर पचास प्रतिशत को प्राप्त करते हैं । धन के लिए समय की ट्रेडमिल पचास पचास, पचास पचास का प्लान आमदनी अर्जुन का एक बेहतरीन उदाहरण हैं क्योंकि यह लीनियर ग्रोथ पर आधारित है । लीनियर ग्रोथ ही गन्ना करने का गणित बहुत ही आसान है । एच घंटे का वेतन ऍम कार्यक्रत घंटों की संख्या बराबर हाई आमदनी लीनियर की परिवार है । निवेश की समानुपाती प्राप्त आई होती है । कहावत है जो बोलेंगे वही कटेंगे नए काम मैं ज्यादा लीनियर आए ग्रोथ में समय का एक यूनिट धन के एक यूनिट के बराबर होता है जिसके परिणामस्वरूप लीनियर ग्रोथ में आय को बढाने का आधार है । ज्यादा घंटे कार्य करना आज एक नजर से तो लीनियर ग्रोथ अच्छी लगती है । इससे उन्हें लाभ होता है जिन्हें प्रति घंटा वेतन ज्यादा मिलता हूँ और जो ज्यादा घंटे काम करने के लिए तत्पर वो लेकिन लेनियर ग्रोथ आधार पर आमदनी करने वाले वर्कर की समस्या ये है कि उनकी आए हमें सब बंद ही रहती है, चाहे वे प्रतिघंटा कितना ही अधिक क्यों नहीं कमाते हो । पेंट और पेशेवर लेनियर विरोध की सीमाओं से अवगत कराने के लिए हम यहाँ एक उदाहरण देखेंगे । अलग अलग देशों से संबंध मेरे दो मित्र हैं । एक पेंटर, दूसरा डॉक्टर । पेंटर का नाम है गहरी क्लियर वाटर । फ्लोरिडा में मेरे निवास के समीप भी उसका पेंटिंग और वालपेपर का छोटा सा व्यवसाय हैं । गहरी बहुत मेहनती है । बहुत सुबह काम शुरू कर देर रात तक वह काम करता रहता है । साप्ताहिक छुट्टियों में भी वह काम करता है । जब गहरी किसी काम के लिए टेंडर बढता है तो वह अपने कार्य का रेट बारह डॉलर के हिसाब से लगता है । लेकिन यात्रा समय, हार्डवेयर, दुकान के चक्कर और ऐसे अन्य का हिसाब लगाने पर हुए है । रेड दस डॉलर होता है । यदि गिरी को प्रतिदिन दस घंटे काम मिले । सप्ताह में छह दिन काम मिले तो वह वर्ष में नियमानुसार आए अर्जित करेगा । दस डॉलर प्रति घंटे साठ घंटे प्रति सब बराबर छह सौ डॉलर प्रतिशत था और पता सत्ता प्रतिवर्ष बराबर तीस हजार तो लग प्रतिवर्ष अब तीस हजार डॉलर प्रतिवर्ष की आये कुछ काम नहीं होती बहुत सारे लोग तीस हजार डॉलर प्रतिवर्ष कमाना चाहते होंगे, लेकिन गहरी के लिए है । उसी वर्ष में संभव होगा जब एक के बाद एक काम मिलता जाएगा । लेकिन इसके लिए गहरी ने क्या मूल्य अदा किया, यह देखिए । अपने बच्चों और पत्नी के साथ बिताने के लिए उसे सप्ताह में केवल एक ही दिन मिलता है । कितना भी परिश्रम क्यों नहीं करें । वह कभी भी वस में तीस हजार डॉलर से ज्यादा की राशि नहीं कमा सकेगा । जब उसे अपनी मर्जी से समय बिताने का मौका मिलेगा और जब वह ऐसा करना चाहेगा तब है बुरी तरह से थक चुका होगा । लीनियर ग्रोथ के आधार पर होने वाली आमदनी का सबसे खराब पहलू यह है कि आपने किए गए कार्य के लिए गैरी को केवल एक बार ही भुगतान मिलेगा । इसका मतलब यह है कि एक बार अंतिम चेक मिल जाने के बाद वह पुणे धन के लिए समय के ट्रेडमिल में आ जाता है । पेशेवर लोग भी ऊंचे दामों पर घर रंगने वाले पेंटरों से ज्यादा अलग नहीं होते । आइए हम पुणे जॉन समिति एम डी से मिले जो आपने मेडिकल प्रैक्टिस से वर्ष के दौरान डेढ लाख डॉलर की कमाई करते हैं । डॉक्टर समिति एक जर्नल प्रैक्टिशनर है जिनकी निजी प्रैक्टिस है । उनके चार पूर्णकालिक कर्मचारियों में से दो रिटायर्ड नर्से हैं परन्तु डॉक्टर सुमित को मरीज में देखने पडते हैं, आते है, दिन में आठ घंटे काम करते हैं । सप्ताह में छह दिन रोगियों को देखते हैं । उसके बाद प्रतिदिन दो घंटे कागजी कार्रवाई पूरी करते हैं और प्रत्येक महीने के दो रविवार व्यापारिक मामलों पर व्यतीत करते हैं । आमदनी को बढाने के लिए डॉक्टर्स मिंट के पास एक ही रास्ता है वह है अपने काम के घंटों को बढाना । लेकिन वे तो अभी ही प्रतिदिन दस घंटे काम करते हैं और जब घर लौटते हैं तो पूरी तरह से थके होते हैं । अपने बच्चों को होमवर्क कराने या बच्चे का खेल देखने के लिए भी वे नहीं जा पाते हैं । मतलब ये है कि वे कार्य घंटे नहीं बढा सकते हैं । अपने काम का गुलाम यह सही है कि डॉक्टर सुमित बहुत अधिक धन कमाते हैं, अपने काम के गुलाम है । वे इसमें अपने आपको लकडा पाते हैं । हतोत्साहित, गुस्सैल और दुखी है । लेकिन उन्हें मालूम नहीं है कि क्या करना चाहिए । अतः वे रोजाना इसी कार्यक्रम को दोहराते हैं । धन के लिए समय का व्यापार और आशा करते हैं कि भविष्य कुछ सुनहरा होगा । पर वे यह भी जानते हैं कि ऐसा कुछ नहीं होगा । लेनियर ग्रोथ पर आधारित आई के साथ ही यह समस्या होती है । यदि आप उसमें काम नहीं करते तो काम पूरा नहीं होता है । यदि काम पूर्ण नहीं होगा तो आपको भुगतान नहीं मिलेगा । भुगतान प्राप्त करने का एक ही तरीका है कि काम को लगातार करते रहो । ईश्वर ने पेंट और डॉक्टर को यह आश्वासन नहीं दिया है कि वे कभी बीमार या घायल नहीं होंगे और छुट्टी नहीं लेंगे । हाँ, आपकी ट्रेडमिल आपको क्या देती है? आप की स्थायी स्थिति क्या है? क्या आप धन के लिए समय की ट्रेडमिल में है? यदि ऐसा है तो आपके ट्रेडमिल आपको कितना वेतन रहती है? आप आश्चर्यचकित है की आपकी आमदनी का स्तर अन्य नौकरियों से मिलने वाले वेतन से कैसा है? आप और भी अधिक आश्चर्यचकित होंगे जब आप अपने वार्षिक वेतन की तुलना किसी बडी कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी से करेंगे । जरा देखिए कि वर्ष के दौरान एक वो सात वर्कर के वेतन से एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी का वेतन कितना था? मुख्य कार्यकारी अधिकारी और वर्कर के वेतन के मध्य अंतर चाहिए । आश्चर्यजनक नहीं है की कंपनी के एक व्यक्ति को तीन पर सात मिलियन डॉलर मिले और उसी कंपनी के अन्य ऍम फाइल वर्करों को केवल बीस हजार डॉलर मिले । यह कैसे संभव है? यह है आपसे अपने से पूछे धन के लिए समय के मकडजाल को लीवरेज से तोडना मैं आपके प्रश्न का उत्तर एक सफेद में दे सकता हूँ । लीवरेज जब एक सामान्य वर्कर अपने समय का धन से सोना करता है तो उसकी आमदनी लिनियर फैशन से बढती है । समय का एक यूनिट धन के एक यूनिट के बराबर हो जाता है । वर्कर आपने एक कल प्रयासों के लिए सौ प्रतिशत भुगतान पाता है जबकि दूसरी ओर मुख्यकार्यकारी अपने समय और योग्यता का लीवरेज अपने कर्मचारियों के द्वारा करता है । अपने एकल प्रयास के लिए सौ प्रतिशत भुगतान प्राप्त करने के स्थान पर वह अपने सभी कर्मचारियों के प्रयास होगा । एक प्रतिशत प्राप्त करता है । जे पाल गेटी यही तो उस वक्त प्राप्त कर रहे थे जब उन्होंने कहा था कि आपने सौ प्रतिशत के स्थान पर मैं सो व्यक्तियों के प्रयासों का एक प्रतिशत प्राप्त कर रहा हूँ । यही वजह है कि लीवरेज इतना अधिक समर्थवान है । एक समूह के सभी लोगों के प्रयासों का एक थोडा सा हिस्सा आप प्राप्त करते हैं । एक उत्कृष्ट उदाहरण हैं, हर से कैंडीबार प्रत्येक कैंडी पर हर से का लाभ शायद एक या दो पहले ही था लेकिन प्रत्येक वर्ष में विश्व भर में करोडों की संख्या में हर से कैंडीबार की बिक्री करते हैं । इसी वजह से हर से कैंडीबार के निर्माता मार्च इन प्रतिवर्ष एक बिलियन से ज्यादा का लाभ कमाते हैं । यही कारण है कि हर से के मुख्य कार्यकारी इतनी तनख्वा पाते हैं । सन्यासी और लीवरेज की धारणा सन्यासी और आ रही की कहानी पर आधारित है । एक दिन एक वृद्ध संन्यासी सारी खरीदने के लिए पहाडों में स्थित अपनी गुफा में से बाहर निकल स्थानीय हार्वेस्ट और में गया । मैं अपनी गुफा छोड रहा हूँ और अपने लिए एक नई गुफा बनाना चाहता हूँ । सन्यासी नहीं युवा सीरीज लाख से कहा तो हमारे पास जो सबसे अच्छी आ रही है वह मुझे चाहिए । उसकी कीमत की फिक्र नहीं करूँ । युवा से निकलर गोदाम में गया और एक नई समझती यांत्रिक आरी ले आया । बाजार में उपलब्ध है, सबसे अच्छी आती है । फॅसे बोला यह पेडों को ठीक उसी तरह कार्ड देगी जैसे ताकू मक्खन को मेरी गारंटी है कि यह एक महीने के काम को एक दिन में कर देगा । अन्यथा आपके पैसे मैं अपने वेतन से वापिस कर दूंगा । उत्साहि सन्या से निकल रख को भुगतान किया और नई समझना तैयारी लेकर पुणे पहाडों की ओर चल दिया । ठीक एक महीने बाद जब कलर एक्सेल तरह सामान लगा रहा था, उसने गुस्से से भरी हुई सन्यासी की आवाज सुनी । अरे सुनो मैं सारी को वापस करने आया हूँ और मुझे अपने पैसे वापस चाहिए । जैसा कि तुम ने आश्वासन दिया था । क्लर्क व्रत सन्यासी को एक तक देखता ही रह गया । उसे देखकर बडा आश्चर्य हुआ प्रतीत हो रहा था की सुनने से कई सप्ताह से सोया नहीं हो । उस ने कपडे फटे हुए और खून पसीने से संदेह ऐसा प्रतीत होता था कि वह मृत्यु के दरवाजे तक पहुंच चुका हूँ । आपको क्या हुआ है? आप परेशान दिखाई दे रहे हैं । क्लर्क निधि में से कहा, उस वृद्ध संन्यासी ने अपनी सारी ताकत लगाकर उस तारीख को उठाकर काउंटर पर रखा और कहा, क्या यही बेकार आ रही तो उन्होंने मुझे बैठी थी । तुमने कहा था कि एक महीने का काम एक दिन में यह सारी कर देगी । मैं इस यंत्र का उपयोग तीस दिनों तक करता रहा हूँ और मैं एक दिन का काम इससे एक माँ में भी नहीं कर पाया । मुझे अपने पैसे वापस चाहिए । आज से जैसे कि क्लर्क ने माफी मांगी और कहा निश्चय ही जवान जवान होती है । मुझे कर दिया । इस तारीख को एक बार देख लेने दीजिए । हो सकता है की मैं बता सकूँ कहाँ गलती हुई है । क्लर्क ने आंतरिक यारी की रस्सी को शीघ्रता से खेलता और वह जोर से आवाज करते खुल गई । वहाँ सन्यासी काउंटर से एकदम डर कर पीछे था । जैसे उसके शरीर में जान ही नहीं रहे गई हो । आवाज करती हूँ । यारी को देखते हुए वह ही लाया । यह आवाज कैसी है? लीवरेज के संबंध में सी यांत्रिक आरी को बिना खुले हुए ही पेड को काटने के बाद क्या आप सोच सकते हैं? इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि सन्यासी ठगा सारा गया । इस कहानी का संकेत यह है कि लीवरेज एक उपयोगी हजार है, लेकिन उसी समय जब हम उसका सही उपयोग करें । निश्चय ही समय और प्रयासों के लिए ब्रिज के लिए यात्री का एक महत्वपूर्ण हजार है । आपने किसी बडे पेड की बडी शाखा को सामान्य जैसे कटा होगा, तभी आप मेरी बात समझे । कहानी की विडंबना यह है कि लीवरेज का एक शक्ति साली हजार सन्यासी के हाथ में था, परंतु उसका उपयोग कैसे करना है? यह है उसे नहीं मालूम था । दूसरे शब्दों में योग्यता या प्रयास की कमी उसकी सफलता का कारण नहीं थी । उसकी ऐ सफलता ज्ञान की कमी के कारण थी । सामान्य व्यक्ति के बारे में भी यही कहा जा सकता है । लीवरेज के समर्थन ऐसे हम थोडे से प्रयास से कम समय में ही अपने लक्ष्यों को प्राप्त कर सकते हैं । हम एक महीने के काम को एक दिन में कर सकते हैं लेकिन लीवरेज के समर्थक का पूरा लाभ लेने के लिए हमें उसके अस्तित्व का ज्ञान होना आवश्यक है । अन्यथा हमारी भी स्थिति सन्यासी की तरह ही होगी और अपने समय प्रयासों की लिवरेजिंग करते हुए चतुराई से काम करने के स्थान पर कम धन के लिए समय खर्च करते हुए कठिन परिश्रम करते रहेंगे । क्या यही कारण नहीं है कि पैंसठ की उम्र को प्राप्त करते करते व्यक्ति मार नहीं जाता है, मत फ्राई हो जाता है, देश, परिवार या चर्च पर आश्रित हो जाता है । अधिकांश लोग लीवरेज प्लान के स्थान पर लेनियर प्लान की नकल करते हैं । ज्ञान पहला कदम है । उचित परिस्थितियों में उचित प्रकार के लीवरेज की नकल कर हम पहाडों को भी हटा सकते हैं और करोडों कमा सकते हैं । प्रश्न यह है कि संपत्ति अर्जुन के किस सिस्टम की नकल आप करना चाहते हैं । क्या आप संपत्ति अर्जन के लीनियर सिस्टम की नकल करना जारी रखेंगे और व्रत सन्यासी की तरह अधिक प्रयास पर थोडी सी प्राप्ति चाहेंगे? यही सब को साफ अगले अध्याय में पडेगी । हमारे समय और प्रयासों के लीवरेज के लिए प्रमाणित तरीके जिससे की हम धन के लिए समय के मकडजाल में से बाहर निकल सकें हमेशा के लिए और इच्छित वित्तीय स्वतंत्रता को प्राप्त कर सकें । जी अध्याय क्या लीवरेज ग्रोथ चतुराई से काम करें नए की परिश्रम से अगस्त उन्नीस सौ अठासी में अटलांटा के असा कलैंडर नाॅट नहीं काॅलिंग जिसे कोका कोला नाम से जाना जाता था, के अधिकार है तू तेईस सौ डॉलर केरासिन नगद में दी । अटलांटा क्षेत्र में कोकाकोला अत्यंत सफल था और सावदी के आरंभ तक दक्षिण में दवाई की प्रत्येक दुकान में एक सोडा फाउंटेन लगा होता था जहाँ ग्राहक पांच सेंट का भुगतान कर के क्षेत्र को को आराम से बैठ कर सकता था । कैलेंडर ने एक महत्वपूर्ण निर्णय लिया जिसके अनुसार उन्हें कोका कोला को एक छोटी क्षेत्रीय कंपनी से एक बडी अंतरराष्ट्रीय कंपनी में परिवर्तन करना था । कैलेंडर ने निर्णय लिया कि लीवरेज के एक तरीके बोटलिंग से कम समय में थोडे से प्रयासों से उनकी कंपनी ज्यादा धन कमा सकती है । को इंटरनेशनल की सफलता का राज कैलेंडर के निर्णय को कि बॉटलिंग करने के पीछे एक छोटी सी कहानी है । एक दिन कैलेंडर का एक दोस्त उनके कार्यालय में आया और उसने उनसे कहा की एक अच्छी रकम प्राप्त होने पर वह कोका कोला के लाभ को बहुत अधिक बढाने वाला तरीका बताएगा । दोनों मित्रों ने दिनभर चर्चा की और कैलेंडर की जिज्ञासा जब अपने तरफ स्तर पर पहुंच गई तो उन्होंने एक चेक लिखा, मित्र ने उस चेक को स्वीकार कर लिया और विश्व में तहलका मसाले के लिए वह कैलेंडर के कानून फुसफुसाया, विश्व में प्रसार करूँ, बोतल में भरो सुबह जैसे कैलेंडर ने दोस्त की सलाह मान ली और आज तो शेष केवल इतिहास है समय और स्थान की लिवरेजिंग बॉटल में भरो एक्शन के लिए । उन सब दों के समर्थन पर विचार के लिए बोतलों में कोक के आने से पहले आपको स्थानीय सोडा फाउंटेन पर जाकर ऑर्डर देना होता था या इसके बिना रहना होता था । बॉटलिंग के पूर्व कोक की बिक्री में बढोतरी सोडा फाउंटेन की संख्या में वृद्धि पर ही संभव थी । बोटलिंग से सब कुछ बदल गया को का आनंद लेने के लिए अब ग्राहक को सोडा फाउंटेन तक जाने की जरूरत नहीं थी, क्योंकि वास्तविकता यह है कि जब ग्राहक को के छह पे घर ले जाता है तो वह अपने साथ सोडा फाउंटेन नहीं घर ले आता है । परिणाम स्वरूप आज विश्व भर में कोई भी दिन या रात किसी भी समय ताजगी देने वाले ड्रिंक कोका कोला का आनंद ले सकता है । यह है इसलिए संभव हुआ क्योंकि कोका कोला कंपनी के पास अपने उत्पाद की बैटिंग करने के लिए स्थान, प्रयास और समय के लीवरेज का प्रयोग करने की स्वतंत्रता थी । लेवरडेज क्या है? लीवरेज का मूल शब्द है लीवर, जो फ्रेंड्स के पुराने शब्द है, जिसका अर्थ है आसान करना से आया है, जो लीवरेज के सामर्थ्य का सही विवरण देता है । कुछ लीवर या उपकरणों का चतुराई से उपयोग करने से कठिन कार्य भी कम समय में थोडे से प्रयास किया जा सकता है । इस सरकारों ने आसान करके लीवरेज का उपयोग किए बिना कार के इंजन को बदलने में लगने वाले प्रयास की कल्पना कीजिए । आपकी कार के इंजन को उठाने के लिए कितने सुदृढ व्यक्तियों की आवश्यकता होगी? पांच दस या इससे अधिक जरा सोचिए आपका लोकल काॅमिक इस बात को बडी सरलता से कम समय और थोडे से प्रयास से करता है । पहले इंडियन के ऊपर गोयल लगी हाईएस्ट को लाएगा और फिर रस्सियों से इंजन को बोलेगा । फिर इसे विद्युत शक्ति से चलने वाले मोटर से कनेक्ट करेगा । केवल एक बटन दबाते ही इंजन कुछ ही सेकंड में बाहर निकल आएगा । यही लीवरेज का समर्थन है । समय, प्रयास और धन का तरह उपयोग कर यहाँ उत्पादकता को बढा देता है । लीवरेज का उपयोग कॉर्पोरेशन कैसे करते हैं? सदियों से बडे उद्योगों में लोग अपने काम को आसान करने नहीं अर्थात अधिक उत्पादक और अधिक लाभप्रद बनाकर लीवरेज की धारणा का उपयोग करते रहे हैं । वास्तव में उत्पादकता को यही बढाता है । परिश्रम से काम करने की जगह चतुराई से काम करना जिससे कि कम समय में ज्यादा धन कमाया जा सके । व्यापार मालिकों और कर्मचारियों की नियुक्ति करना एक प्रत्यक्ष तरीका है । विश्व की सभी बडी कंपनियां फोर्ड मोटर कंपनी से लेकर सोने तक एक व्यक्ति से प्रारंभ हुई थी जिन्होंने समय और योग्यता का लीवरेज कर्मचारियों के द्वारा किया । उदाहरण के लिए यदि हेनरी फोर्ड नहीं स्वयं एक माडल का निर्माण किया तो वे सौ प्रतिशत लाभ कमा सकते थे । लेकिन वे जानते थे कि अकेले काम करने से वे वर्ष में केवल एक या दो कार्य ही मना सकेंगे । फोड बहुत चतुर थे । उन्होंने अपने सिस्टम की नकल अपने कर्मचारियों को सिखाकर अपने समय और योग्यता का लीवरेज । क्या लीवरेज की सामर्थ्य का लाभ उठाकर फोर्ड आज हजारों कारे प्रतिवर्ष बना रहे हैं और इतिहास के एक सबसे धनी व्यक्ति बन गई है । रियल इस्टेट बिक्री में वास्तविक चतुराई रियल इस्टेट कंपनियाँ वर्षों से लीवरेज धारणा का उपयोग कर फायदा उठाती रही है, लेकिन कर्मचारियों की लिवरेजिंग के स्थान पर वे स्वतंत्र रूप से काम करने वाले ठेकेदारों की लिवरेजिंग करती है । आइए देखते हैं कि कैसे एक रियल इस्टेट व्यवसायी जिसका नाम टेड है । फॅमिली उपयोग कर कम समय में ज्यादा धन कमाया रियल स्टेट में पिछले बीस वर्षों या अधिक समय से व्यापार करता रहा है । जब उसने प्रारम्भ किया था तो वह एक माह में एक घर भेज पाता था, लेकिन कुछ वर्षों में टेड ने अपने व्यापार में दक्षता प्राप्त कर ली । पांच वर्षों के व्यापार के बाद वह एक वर्ष में वो स्तन पचास घर भेज पाने में सक्षम हुआ । अवटेड इसमें कितना ही परिश्रम क्यों नहीं कर लेंगे, वह सप्ताह में एक से ज्यादा घर नहीं भेज पाता क्योंकि प्रतिदिन ओं से कितने ही घर दिखाने पडते हैं । कई जगह तो वह सप्ताह में केवल एक बार ही जा पाता है तो उसने कार्यालय खोलने का निर्णय लिया । टेड ने रियल इस्टेट के क्षेत्र में कार्य करने वाले अपने मित्रों को अपने कार्यालय में काम करने के लिए नियुक्त कर लिया । कुछ वर्षों के अंदर उसने बीस बडे रियल एस्टेट एजेंटों की टीम बना ली । इनमें से प्रत्येक एजेंट वर्ष में पचास अगर बिकवाता है जिसका मतलब है उसका कार्यालय एक वर्ष में एक हजार से ज्यादा घर बेच रहा है । अब देखिए लीवरेज नेटेड के लिए क्या क्या स्वयं अपने आप टेड केवल पचास घर भेज पाने में सक्षम था । दूसरे एजेंटों के समय मैं योग्यता की लिवरेजिंग करने से टेड अब एक हजार से ज्यादा घर बेच पा रहा है । यदि वह अकेला काम करता रहता था तो उसके लिए यह असंभव था । लेकिन लीवरेज का उपयोग कर कम समय काम करने पर भी उसकी उत्पादकता बीस गुना ज्यादा हो गई । यही इस मुहावरे का अर्थ है चतुराई से काम करें । नए की परिश्रम से फ्रंचाइजी सेल एवरेज फ्रेंचाइजी में लीवरेज की धारणा का उपयोग रियल इस्टेट कार्यालयों की अपेक्षा बडे स्तर पर किया जाता है । हालांकि फ्रेंचाइज सिंग वर्षों से होती रही है । पर मैं तो एक मन न्य व्यापार के रूप में इसकी पहचान उन्नीस सौ पचास के पूर्वार्द्ध तक नहीं हो सकी थी । जब रेक्राफ्ट नाम के एक मिल्क शेक उपकरण बेचने वाले एक्सेंज मैंने मैकडोनल नाम के एक फ्रेंचाइजी फास्ट फूड रेस्त्रा के फ्रेंचाइजी अधिकार खरीद कर इसकी शुरुआत की । रेख रोक नहीं फाॅगिंग का आविष्कार नहीं किया लेकिन इसमें दक्षता हासिल की ब्रेक रोकने यह जान लिया था की फ्रेंचाईजी की सफलता उसके डुप्लीकेशन में है । हत्या उसने त्रुटिहीन एक ऐसी प्रणाली विकसित की तो स्वयं ही फ्रेंचाइजी की सफलता से अवगत करा देती है । उन्होंने तो इससे भी आगे निकल परफेक्ट फ्रेंचाइजी के अनुसंधान पर तीन बिलियन डॉलर का क्या? जब कोई मैकडोनल फ्रेंचाईजी को खरीदता है तो उसे केवल डोट्स को कनेक्ट करना होता है । नकल का सोपन यहाँ सकते हुआ इस संबंध में विचार करें । जब आप फॅमिली में प्रवेश करते हैं तो वहाँ पर फ्रेंच फ्राइज मशीन होती है । बाई और सही है । इससे कोई फर्क नहीं पडता फ्रंचाइजी मांस कोई रह या मास्को रसिया में है । फ्रेंच फ्राइज मशीन बाई हो रही होगी । आप विश्वास रखिए परिचालन के सारे विवरण योग्य स्थान पर दिए होते हैं । डाॅ । सिंग की सफलता का राज संसाई जिनकी धारणा बहुत आसानी से कार्य करती है क्योंकि यह अत्यंत सरल है । एक दम सडन वहाँ केवल क्लासिक विन विन स्थिति होती है जहाँ फ्रैंचाइज और फ्रेंचाइजी दोनों ही आगे बढते हैं । परीक्षण एवं गलत पद्धति के आधार पर प्रमाणित उत्पादों या आवश्यक सेवा के लिए डुप्लीकेट करने योग्य व्यापारिक मॉर्डल संसाई जी ने तैयार किए हैं । सफल फ्रेंचाइजर्स बनने का बात ये है कि पहले एक सफल सिस्टम को विकसित करो, फिर विस्तार से लिखो कि क्या करना आवश्यक है जिससे किसी अन्य को भी मॉडल्स सिखाया जा सकें । यदि मोडल प्रमाणित है और साधारण व्यक्ति द्वारा उसकी मैं कल की जा सकती है तो वह सफलतापूर्वक फ्रैंचाइज हो सकता है । यदि मॉर्डल की सफलता लाखों में एक स्टार की योग्यता पर आधारित हो तो वह सफलतापूर्वक फ्रंचाइजी नहीं हो सकती क्योंकि स्टार का डुप्लीकेशन नहीं हो सकता । स्टार डुप्लीकेट नहीं होते हैं । एक्टर टॉम क्रूज एक फिल्म में काम करने के लिए बीस मिलियन डॉलर लेता है । इसका कारण यह है कि उसमें स्टार प्रतिभा है । बॉलीवुड के अनुसार वह है बैक टेबल है क्योंकि टॉम क्रूज जब किसी फिल्म में काम करता है तो यह गारंटी हो जाती है कि वह पिक्चर धन कमाएगी, बहुत अधिक धन । तथापि आप काम करो उत्पादको फ्रेंचाइजी नहीं कर सकते क्योंकि वह डुप्लीकेट बाल नहीं है । एक वो सब व्यक्ति टाम क्रूज की नकल कर वैसे ही परिणाम प्राप्त नहीं कर सकता । यही कारण है कि आप सूजन, सिल चीजों की फ्रेंचाइज इंग् नहीं कर सकते । जैसे बहुत ज्यादा बिकने वाले किताब को लिखना या हिट गीत को गा सकना वे स्टार फैक्टर पर आधारित होते हैं । वे निराले होते हैं और उनकी नकल नहीं की जा सकती । कुछ उत्पाद और व्यापार हालांकि बहुत आसानी से डुप्लीकेट होते हैं । पीजा इसका एक अच्छा उदाहरण है । इसके घटक बहुतायत में मिलते हैं और ज्यादा खर्चीले भी नहीं है । एक परफेक्ट उत्पाद बनाने में केवल कुछ ही मिनट लगते हैं और कोई भी व्यक्ति इस जिसने हाईस्कूल तक की शिक्षा प्राप्त की है और उसमें आगे बढने की तमन्ना है तो वह पीजा हट, डोमिनोज की फ्रेंचाईजी माॅडल की नकल करना सीख सकता है । फ्रेंचाइजी का वैज्ञानिक होना आवश्यक नहीं है, यह सकते हैं लेकिन उसे किसी प्रमाणित सिस्टम का अच्छा नकल होना आवश्यक है । जीरो से हीरो क्या समय और धन की लिवरेजिंग डुप्लीकेशन द्वारा करना कारगर है? इस प्रश्न का उत्तर प्राप्त करने के लिए आपको पिछले पचास वर्षों में फाॅगिंग के विकास पर एक नजर डालनी होगी । जब ब्रेक रुकने अपने परिचालनों का डुप्लिकेशन प्रारम्भ किया तो बहुत से लोगों ने फ्रेंचाइजी को और एक स्कैम्स अंग यूनाइटेड स्टेट की । कांग्रेस ने भी कानून इसे समाप्त करना चाहा । फ्रेंचाइजी की अवधारणा नहीं । आपने प्रारंभ से लगभग एक सौ अस्सी डिग्री का घुमाव ले लिया है । विशेषज्ञों का अनुमान है कि अमेरिका में वस्तुओं और सेवाओं का वितरण चौंतीस प्रतिशत से साठ प्रतिशत तक फ्रेंचाइजी के द्वारा होता है और प्रमाणित फ्रेंचाइजी के आधार पर नकल करने के कारण निवेशकर्ता करोडों डॉलर का भुगतान कर रहे हैं । फ्रंचाइजी से दांत की सफलता के पीछे नकल के द्वारा डुप्लीकेशन की अवधारणा है तथापि फ्रेंचाईजी का कमजोर पहलू हैं । उसे प्रारंभ करने की लागत यह सकते हैं कि मैकडोनाल्ड फ्रेंचाईजी को प्राप्त करने के लिए बहुत कम लोगों के पास करोडों डालर की राशि उपलब्ध होगी । सबसे जटिल बात यह है आपको बहुत से फ्रेंचाइजियों का मालिक होना होता है । आपने भी फ्रेंचाइजी स्थापित कर उन को बढाना है जिससे की फ्रेंचाइजी सिस्टम से आप संपत्तिवान बन सकें । फ्रंचाइजी का विकल्प एकमात्र नकल सिस्टम सोचिए यदि पांच सौ डॉलर या काम की लागत से प्रारंभ होने वाली फ्रेंचाइजी प्रकार की धारणा उपलब्ध हो । मनुष्यों को ज्ञात लीवरेज ग्रोथ के सामर्थ्य का लाभ इस वैकल्पिक फ्रेंचाइजी को उपलब्ध हो । चक्रवर्ती डर से होने वाली एक्सॅन ग्रोथ तो आपको सिस्टम की नकल संपत्ति अर्जित के लिए करनी होगी । आज तक नहीं बने व्यक्तियों द्वारा संपत्ति निर्माण के सिस्टम की नकल करने का तरीका आज एक सर्वसाधारण व्यक्ति को उपलब्ध है । आज ऐसे तरीके उपलब्ध हैं, जिनके अनुसार एक हजार बार किए गए काम के लिए एक बार भुगतान प्राप्त करने के स्थान पर एक बार किए गए काम के लिए आप एक हजार गुना भुगतान पा सकते हैं । आने वाले प्रश्नों में आप कॅाल ग्रोथ के बारे में पडेंगे, जो संपत्ति अर्जुन का एक प्रमाणित सिस्टम है तथा आप और मेरे जैसे ओसत व्यक्ति, जिसकी कॉपीराइट कर सकते हैं । आप पडेंगे कि आज आमदनी करने के उपलब्ध दूसरे सिस्टम की अपेक्षा कैसे एक्सॅन ग्रोथ और पनसाई जी की धारणा कम समय में अधिक व्यक्तिगत संपत्ति अर्जन का सामर्थ्य आपको प्रदान करती है । अध्याय पास ऍम किस्मत बनाने का फार्मूला, उसे लाभ मैं करती नाम की एक वर्षीय दो वन महिला की कहानी से इस अध्याय को प्रारंभ कर रहा हूँ । संपत्ति अर्जन के लीवरेज के समर्थन है । वन लोकतांत्रिक तरीके पर यह कहानी है । इसे चक्रवर्ती कहा जाता है और कंगाल को राजा बना देने का सामर्थ्य इस लिए हैं परिश्रमी जीवन उसे लाभ मैककार्टी ने अत्यंत परिश्रमी जीवन जिया । पडोसियों के कपडे धोने और प्रेस करने में आठ वर्ष की उम्र से ही उसे अपनी माँ की मदद करनी पडी । सत्तर वर्ष के बाद भी उसे ला एक धोवन के रूप में काम कर रही है । दूसरे विश्वयुद्ध तक चार सदस्यों के एक परिवार के एक सप्ताह के कपडों का गठन होने के लिए वह डॉलर से तो डॉलर लेती थी । युद्ध के प्रसाद उसने कम बढाएगी और एक गट्ठर के दस डॉलर लेना प्रारम्भ किया । बहुत अच्छा काम मिला हो तथा प्रतिदिन दस घंटे के हिसाब से सप्ताह के छह दिन काम करने पर भी उसे लाख किसी वर्ष में नौ हजार डॉलर से ज्यादा नहीं कमा सकें । छोटी सी बचत में परिवर्तन किया । चालीस वर्ष की उम्र होने के बाद ही उसे ला के लिए बचत कर पाना संभव हुआ । पैसे पैसे करके उसने बचत की । आपने बचत को उसने एक स्थानीय बैंक में जमा किया और कभी निकाला नहीं । समय की गति के अनुसार उस की बचत बढती रही तथा इस बचत पर ब्याज और मूल दोनों में वृद्धि होती रही । उन्नीस सौ पचास की गर्मियों में उसे नाम मैं पार्टी जो प्राथमिक स्कूल तक पडी थी जिसमें एक वर्ष में नौ हजार से ज्यादा कभी नहीं कमाया । उसने दक्षिण में से किसी यूनिवर्सिटी को डेढ लाख डॉलर की राशि दान में दी । चक्रवर्ती विश्व का आठवां करें वो सबसे कम शिक्षण और आय प्राप्त करने वाली एक साधारण महिला को इतनी संपत्ति जमा कर पाना संभव कैसे हुआ स्वयं उस इलाके शब्दों में संपत्ति बनाने का रह है । चक्रवर्ती ब्याज वेब्स्टर शब्द को उसमें चक्रवर्ती ब्याज को परिवार किया गया है जिसके अनुसार मूलधन पर संचित है प्रदर्श ब्याज पर दिया गया ब्याज इस परिवार सा के प्रमुख शव हैं । संचित यदि मूलधन या ब्याज को पुनर्निवेश करने के स्थान पर खर्च कर दिया जाए तो चक्रवर्ती का सामर्थ्य समाप्त हो जाता है । इसे दोगुना करने की धारणा के नाम से भी जाना जाता है । किसी एक कल निवेश के अन्य तरिकों की अपेक्षा चक्रवर्ती से ज्यादा संपत्ति अर्जित की जा सकती है । जब आप काम नहीं कर रहे होते हैं । चक्रवर्ती के कारण उस समय भी आपका धन काम कर रहा होता है । अल्बर्ट आइंस्टीन जो करीब में केवल थोडी सी जानकारी रखते थे ने चक्रवर्ती को संसार का आठवां आश्चर्य बताया है । वास्तव में संपत्ति अर्जन करने का सिद्धांत चक्रवर्ती है जो वाल स्ट्रीट और बैंकिंग उद्योग को चलता है । ऍम ग्रोथ बराबर एक्सप्लोसिव ग्रोथ चक्रवर्ती में ऐसी क्या बात है जिससे उसे विश्व का आठवां कहा जाता है । चक्रवर्ती की कौन सी गुणवत्ता एक छोटी सी राशि को भी बडी राशि में परिवर्तित कर देती है? उत्तर है एक्सॅन ग्रोथ, समय और धन की लिवरेजिंग करने वाला उपकरण । अध्याय तीन में आपको याद होगा हमने लीनिया विरोध की सीमाओं की संदर्भ में चर्चा की थी । एक्सॅन ग्रोथ और लीनियर ग्रोथ के मध्य स्थित अंतर को भलीभांति समझने के लिए हमें गणित के कुछ मूलभूत सिद्धांतों को जानना होगा जिसके बारे में हम अपने स्कूल में पढ चुके हैं । गणित के कुछ मूल कार्यों को लीनियर तरीका करता है जैसे जोडना एक लिनियर समीकरण इस प्रकार होगा पांच जवाब पांच बराबर दस कदम दर कदम सीधी बढत होने के कारण ही इसका नाम लीनियर पडा है । इसलिए केवल पहले स्तर के गाता की गणनाओं में ही हम लिनियर समीकरणों का प्रयोग करते हैं जबकि दूसरी ओर एक्सॅन गुना करने का एक परिष्कृत तरीका है जो वर्ग के रूप में जाना जाता है । एक एक्सॅन समीकरण इस प्रकार होगा पांच की गाय दो बराबर पच्चीस जबकि लीनियर समीकरण पांच जमा पांच बराबर दस होता है । संख्या के दाने और ऊपर प्रदर्शित छोटी संख्या जिसके अनुसार मूल संख्या में मूल संख्या का बुरा कितनी बार करना है, से ही एक्सॅन नाम पडा है । इसलिए दूसरे स्तर के गाता, तंग या चौथे स्तर के गाता हूँ या किसी प्रकार अन्य की गणनाओं में हम ऍम अल समीकरण का प्रयोग करते हैं । यही मूल आधार है । लीनियर विरोध कर्मी और स्तर अनुसार होती है । एक्सॅन ग्रोथ शशक्त और नट की होती है । जब आप अपने धन या समय का निवेश कर रहे हो तो एक सीधे समीकरण को हमेशा ध्यान में रखना चाहिए । लीनियर की सीमाएं होती है एक्सॅन सिद्ध होता है बेहतर का नियम एक्सॅन विरोध की सामर्थ्य को समझने के लिए दुगुनी करन की धारणा, जिसे बेहतर का नियम कहा जाता है, को समझते हैं । किसी निवेश को दोगुना करने में कितना समय लगेगा इसे पता करने के लिए बेहतर के नियम का एक साधारण फार्मूला है । यह कैसे कार्य करता है? आपके निवेश किए गए धन को दोगुना करने में कितना समय लगेगा, यह जानने के लिए सबसे पहले आपको वार्षिक ब्याज दर ज्ञात करें फिर ब्याज दर से बेहतर को भाग दे दें । प्रापत भागफल के बराबर परसों में आपका धन दोगुना हो जाएगा । उदाहरण के लिए किसी स्ट्रोक में आपने दस हजार डॉलर का निवेश किया है, जिससे आपको दस प्रतिशत वार्षिक प्रतिलाभ होता है । आपके निवेश दस हजार डॉलर को बीस हजार डॉलर में दोगुना करने में सात पॉइंट दो वर्ष का समय लगेगा । निश्चय ही गन्ना करने में बेहतर का नियम बहुत आसान है, परंतु परिणाम विश्व जानकारी होते हैं । ऍम ग्रोथ का एक अच्छा उदाहरण पहले कुछ वर्षों में संपत्ति की ओर आपकी रह हूँ । चक्रवर्ती बनाना चक्रवर्ती के द्वारा एक्सॅन ग्रोथ के समर्थको प्रदर्शित करने के लिए सबसे अच्छा उदाहरण हिस्सों के धनि व्यक्तियों में से एक वारेन वकील द्वारा स्थापित निवेश नहीं दी है । यदि आपने बफेट के बर्कशायर हैथवे निधि में वर्ष में दस हजार का निवेश क्या होता तो मिलने वाले ब्याज तथा लाभांश का ही पुनर्निवेश वर्ष दर वर्ष किया होता तो आज आपका निवेश अस्सी मिलियन डॉलर के लगभग होता । यह मौसम बहुत सा लगता है । केवल दस हजार के निवेश पर अस्सी मिलियन डॉलर का प्रतिलाभ लेकिन चक्रवर्ती के समर्थक का लाभ उठाकर अपने निवेश को वर्ष दस वर्ष बढने के लिए छोड देना कुछ कंपनियों के विकास पर नजर डालते हैं जो कुछ ही वर्षों में सो गुने से भी ज्यादा बडी हो गई है । जरा कडक, आईबीएम, वालमार्ट, माइक्रोसॉफ्ट ये तो केवल कुछ ही नाम है । यदि पच्चीस वर्ष पहले इन में से किसी भी कंपनी में निवेश करने के लिए आपके पास दूरदृष्टि, धैर्य होता तो आज आप करोडपती होते हैं । कम रकम के लिए लीवरेज, कम रकम के लिए लीवरेज । मेरे अनुसार इसका उसे लाभ । मैं पार्टी एक आदर्श उदाहरण हैं । पिछले अध्याय में मैंने दो प्रकार के लीवरेज की चर्चा की थी । कर्मचारीगण और फ्रेंड्स राइडिंग निश्चित ही लिवरेजिंग के समर्थक प्रकार है, लेकिन इन्हें काम में प्रवर्तक करने के लिए आप के पास अपार योग्यता और बहुत से धन की आवश्यकता होती है । जबकि दूसरी ओर चक्रवर्ती के समर्थन का लाभ कोई भी उठा सकता है । आपके समय योग्यता, प्रयासों तथा धन को लीवरेज करने का एक सक्रिय तरीका है एक्सॅन सिस्टम तथा इस सिस्टम का मेरूदंड हैं चक्रवर्ती । आगे के प्रस्तावों में जिस नकल प्रणाली को आप सीखेंगे उसमें चक्रवर्ती की दो प्रमुख कमजोरियां दूर हो जाएंगी । धन और समय इसे में विस्तार से स्पष्ट करता हूँ । आज अधिकांश व्यक्तियों के पास निवेश करने के लिए एक लाख डॉलर या पचास हजार डॉलर या शायद दस हजार डॉलर होना भी मुश्किल है । और यदि ऐसा हुआ भी तो चालीस से पचास वर्षों के दौरान ऍम के अनुरूप वृद्धि होने तक इंतजार करना उन्हें संभव नहीं होता । जीवन निर्वाह की बढती हुई लागत की वजह से परिवार में दोनों लोगों कि कमाने पर भी जरूरतें पूरी करना मुश्किल होता जा रहा है । तो रिटायरमेंट के बाद के जीवन को खुशहाली से बिताने के लिए निवेश करने के लिए उनके पास केवल कुछ ही धन बच पाता है । समय बहुमूल्य है । अब प्रशन यह है कि हजारों डॉलर्स का निवेश किए बगैर या जब तक आपकी छोटी सी राशि संपत्ति में परिवर्तित नहीं हो चाहिए, तब तक इंतजार किए बिना एक्सॅन विरोध का उपयोग आप संपत्ति का अर्जन कैसे करेंगे? एक काम कर के लिए दोगुनी करन की अवधारणा जो एक्सॅन ग्रोथ के साथ फ्रंचाइजी हूँ, मैं एहि इस प्रश्न का उत्तर मिल सकेगा । इसे नेटवर्क मार्केटिंग कहते हैं । यह सकते हैं कि विश्व में अधिकांश लोगों के पास ज्यादा धन नहीं है लेकिन सभी के पास समय अवश्य होता है । यदि हम वास्तविक संपत्ति अर्जन करने के प्रति गंभीर है तो हम अपनी दैनिक क्रिया मैं ऐसे कुछ समय अवश्य निकालकर इसके लिए उपयोग कर सकते हैं । यह तो स्पष्ट है आने वाले दशकों में सफलता का साधारण फार्मूला निम्नानुसार होगा । टीम रावर, नकल मॉर्डल का अनुसरण करने में लगने वाला समय ई स्क्वेयर बराबर ॅ और डॉलर बराबर है । वित्तीय स्वतंत्र करता हूँ ऍम आगे आप सीखेंगे कि नेटवर्क मार्केटिंग की वजह से आप अपने धन के स्थान पर अपने समय का निवेश कर संपत्ति अर्जन हेतु अपनी राह की नकल आप कैसे करेंगे? वास्तविक संपत्ति अर्जन करने के लिए क्या एक सरल और अनुकरणीय सिस्टम कार्य कर सकता है? यह प्रश्न हमारे मन में उठता है, लेकिन यह ठीक तरह से कार्य करता है । दस प्रतिशत की दर से बढ रहे सौ बिलियन डॉलर के विश्व उद्योग में वित्तीय स्वतंत्रता के साथ काम कर रहे हजारों लोगों की संख्या इस बात का स्पष्ट प्रमाण है । मेरे मित्रों, प्रशन यह नहीं है कि यह प्रमाणिक सिस्टम काम करेगा कि नहीं । पसंद यह है कि इसे देखने के लिए दूरदृष्टि समझने के लिए बुद्धि और इसके लाभों को प्राप्त करने के लिए आप में हिम्मत है या नहीं । यदि है तो संपत्ति की ओर अपनी रखी नकल आप भी कर सकेंगे । अध्याय है सिनर्जी जम विवाह स्वर्ग में निश्चित किए जाते हैं । अर्नेस्ट हम भी नाम का एक अप्रवासी उन्नीस सौ पांच के विश्व मेले में कागज जैसे पतले वॅार को बेचने का भरकस प्रयास कर रहा था । वह सुबह से शाम तक इस काम में लगा रहता था । उसने वे फल स्टैंड के सामने से जो भी निकलता, उसे वह मुफ्त में सैंपल भी देता था । लेकिन परिणाम सुनने किसी ने भी उसके वैफर्स को नहीं करेगा । दिन बदिन स्थिति बदतर होती जा रही थी । दोपहर के समय भूखे प्यासे हजारों दर्शक अर्नेस्ट के एकाकी विफल स्टैंड के सामने से गुजरते और दो दुकानों के आगे आइसक्रीम विक्रेता को बेचारा अर्नेस्ट दिनभर देखता रहता हूँ । बेचारा कितनी सर्वे नहीं महसूस करता होगा । एक तब थी उमस भरी । दोपहर को अर्नेस्ट की किस्मत ने पलटा खाया । आइसक्रीम की बिक्री इतनी जोरों पर थी कि विक्रेता के पास प्लेट खत्म हो गई । परेशानी में हुए है अर्नेस्ट वेफर स्टैंड पर कुछ लेते मांगने के लिए आया स्वर्ग में निश्चित विवाह अर्नेस्ट के पास कोई प्लेट नहीं थी । उसके पास तो केवल नरम मीठे पर्शियन वेफर का एक भरपूर तो था, जिसे वह देख नहीं पाया । एका एक अर्नेस्ट को एक उपाय नजर आया । इस वैफर को मोडकर कौन की शकल देकर उसमें आइसक्रीम दी जा सकती है? एकदम सही कौन का नया रूप बहुत ज्यादा पसंद किया गया और यही से आइसक्रीम ओरखोन के इश्क की शुरुआत विश्व में प्रारंभ हुई । आइसक्रीम और ऍम का प्रचलन घोडा और गाडी की तरह एक दूसरे पर आश्रित हो गया । ये है तो स्वर्ग में निश्चित विवाद था । एक ही रात में आइसक्रीम कोन प्रशिद्ध हो गया और उन्नीस सौ पांच के विश्व में ले कि यह एक उपलब्धि हो गया । एक साल के बाद आज भी आइसक्रीम कोन विश्व की चाहत है । आइसक्रीम की कहानी सीनर्जी जन का एक बेहतरीन उदाहरण है । मतलब ये है कि दो अलग अलग उत्पादों या धारणाओं का मिलन हमेशा उसके घटकों के योग से कहीं अधिक होता है । आइसक्रीम कोन एक सर्जनात्मक सीनर्जी जम है, जो वास्तव में कार्य में परिणित हुआ । आइसक्रीम का स्वाद बहुत अच्छा हुआ । वेफर का स्वाद अच्छा होता है । दोनों को साथ मिला हूँ, उन का स्वाद द्विगुणित हो जाता है । सर जलनशील सीनर्जी जिनका आज सार्वजनिक समर्थक हैं । इतिहास ऐसी घटनाओं से भरा पडा है जब दो एकदम अलग अलग धारणाओं के सीनर्जी जमने, नई उत्पाद को जन्म दिया, जिसने इंटरप्राइजेज के लाभ और अवसरों को अप्रत्याशित रूप से बढाया सीनर्जी जम कि मेरी प्रमुख कहानियों में से एक है अपने उत्पाद की बहुत ज्यादा बिक्री करने वाली फॉर्चुन पांच सौ कंपनियों में से एक कंपनी थ्री एम कॉर्पोरेशन चर्च में अपनी प्रार्थना के दौरान धर्मगत में पडे हुए पृष्ठ पर निशान लगाने की समस्या में तेरी एम का एक कर्मचारी परेशान था । अच्छा क्योंकि निशान का फ्लैट हमेशा गिर जाता था । कार्यालय में ब्रेन स्टार्मिंग की एक मीटिंग के दौरान उसने अपनी समस्या बताई । एक कैमिकल इंजीनियर को एक नई एडीसी के साथ अपना एक सफल प्रयोग याद आ गया । उसने कागज के दूसरी ओर उसे लगाए जाने की सलाह दी । इस प्रकार नोटपैड और ऍम का है वंछित विवाह पोस्ट आॅउट के रूप में संपन्न हुआ । ये है उत्पाद थ्री एम के लिए प्रतिवर्ष करोडों डॉलर्स का अर्जन करता है सफल सीनर्जी जन का राज दो अलग संबंध धारणाओं को मिलाकर एकदम नई उत्पाद या सेवा को निर्मित करना ही सफल सीनर्जी जमका रहते हैं । कई बार सॅान्ग जैसे भी सफल हो जाता है जैसे कि आइसक्रीम कोन की खोज में हुआ अन्यथा कुछ सर्जन सेल व्यक्तियों के विचार का परिणाम ही सीनर्जी जम होता है तो लीक से हटकर विचार करते हैं कारण जो भी हो, समर्थवान, अनु प्रेक्षित विस्मयकारी का होता है । आइए आज प्रचलित मॉडर्न सिनर्जी जन का विवरण संक्षेप में देखते हैं जिसका समस्त विश्व के लोगों के जीवन पर आश्चर्यजनक प्रभाव पडा है । ओटोमोबाइल यदि विश्व स्तर पर कृप सर्वे में लोगों से पूछा जाएगा कि बीस बीस तावडे की सर्वाधिक प्रतिनिधित्व कोर्स किया है तो अधिकांश लोग कहेंगे कि ओटोमोबाइल गोडे से चलने वाली गाडी और आंतरिक कम्बस्टन इंजन की सीनर्जी जन सहयोग से जर्मनी के कारण बेंज और अमेरिका में हेनरी फोर्ड ने आधुनिक युग को ये उपहार दिया । फॅस मशीन के बिना व्यापार की कल्पना कर सकते हैं । टेलीफोन के अलावा आज उपलब्ध व्यापारिक उपकरणों में अति दक्ष और कम खर्चीला केवल एक ही उपकरण है वह है फॅमिली फोन का संयोजन कितनी बडी अदालत और कितनी अच्छी सुविधा । पर्सनल कंप्यूटर, पर्सनल कंप्यूटर भी एक सीनर्जी स्टिक उत्पाद है । ऍम और टाइपराइटर का बहुत बढिया संयोजन के प्रारंभ नहीं स्टाॅल । कंप्यूटर के सहसंस्थापक की दूरदृष्टि का ये है परिणाम है । उन्होंने कल्पना कि अब वह दिन दूर नहीं है जब विश्व के प्रत्येक घर, कार्यालय और स्कूल की प्रत्येक टेबल पर एक छोटा सा कम खर्चीला, बहुत ही अधिक शक्तिशाली कंप्यूटर विराजमान होगा । पर्सनल कंप्यूटर में भी सीनर्जी जन का उत्कृष्ट उपयोग हुआ है । फ्रंचाइजी इस पर बहस की जा सकती है कि बीस स्थापति का अत्यंत सफल बिजनेस मॉडल फ्रेंचाइजी है । सफल दुकानों की श्रृंखला और छोटे व्यापारियों का सीनर्जी जम संयोजक ही फ्रंचाइजी है । जैसे सी एस । पिछले पचास वर्षों के दौरान यह धारणा इतनी सफल रही है कि आज कुछ विशेषज्ञों का मत है कि यूनाइटेड स्टेट में बैठी जाने वाली सेवाओं या सामान का एक टी । आई से ज्यादा हिस्सा फ्रेंचाइजी के माध्यम से बेचा जाता है । यह सही है कि इन चार सफल सिनर्जी जमका विश्व पर बहुत बडा प्रभाव पडा है । निश्चय प्रत्येक सिनर्जी जम से एक मिनिट लोगों ने अपार संपत्ति अर्जित की है । लेकिन यह कहना अधिक सही होगा की सूची में अंतिम प्रजाइडिंग ही एक ऐसा माध्यम है जिसकी नकल वो सब व्यक्ति अपने संपत्ति अर्जन के तरीके के रूप में कर सकता है । फॅमिली नकल का सोपन साकार हुआ । यह कर तो सकते हैं कि नए कंप्यूटर बनाने या डिजाइन करने, यह कार डीलर सिर्फ लेने पर चलाने के लिए अथवा फैक्स मशीन बेचने के लिए दुकान है तो बहुत कम लोगों के पास ही धन और दिमाग होता है । वास्तव में आप इन इंटरप्राइजेज की नकल नहीं कर सकते क्योंकि इसके लिए विशिष्ट योग्यता बहुत साधन या दोनों का होना आवश्यक है । साइजिंग का यही सुंदरिया है । परिवार के अनुसार फ्रंचाइजी अनुकरण नहीं हो सके तो वे फ्रंचाइजी नहीं हो सकते । फाॅगिंग उप्भोक्ता के लिए वरदान है क्योंकि फाॅगिंग के साथ एक सफल उत्पाद या सेवा का अनुकरण समय विश्व में सैंकडों या हजारों स्थलों पर किया जा सकता है । मैकडोनाल् इसका आदत सुधार आ रहे हैं । पहला रेस्टोरेंट केवल एक ही शहर में स्थित था सैन बर्नाडिनो कैलिफोरनिया । जिन्होंने भी वहाँ खाया उनमें से अधिकांश ने मैकडोनल भाइयों के सस्ते हैम्बर्ग और फ्रेंचाइजी को हमेशा याद रखा । लेकिन प्रजाइडिंग के पूर्व केवल स्थानीय लोग ही उनके भोजन के स्वाद का आनंद ले सकते थे क्योंकि वह केवल एक ही स्थान पर उपलब्ध था । लेकिन फॅसे देश के प्रत्येक शहर में आपने बर्गर और फ्रेंच फ्राइज को उपलब्ध करा पाना मैकडोनाल् को संभव हो सका । आज एक सौ एक देशों में इक्कीस हजार मैकडोनॉल्ड रेस्टोरेंट है और प्रति दो दिनों के अंतराल से विश्व में कहीं ना कहीं एक नए की शुरुआत हो जाती है हूँ । फ्रंचाइजी मालिक और ऑपरेटर कैसा अनुभव करते होंगे, वे तो आनंद भी बोर होंगे । स्पष्ट है कि हजारों बिजनेस मालिकों के लिए नकल का सोपन फ्रंचाइजी साकार हुआ फाॅगिंग यह कैसे काम करता है? वास्तव में व्यक्तियों के लिए संपत्ति अर्जन हेतु तरीके की नकल करने का एक प्रमाणिक तरीका है फॅमिली । सफल व्यापार का अनुकरण सफल पार्टनरशिप का आदर्श नमूना है । फ्लॅाप दी की शायद सफलतम व्यापारिक खानी है । जब मैकडोनल ने उन्नीस सौ पचास के मध्य में आपने पहले फ्रेंचाइजी की शुरुआत की थी, तो फॅमिली के बारे में लोगों को गलतफहमी हो गई थी और अति गंभीर निवेशकर्ताओं ने भी इसे गलत समझा था । आज केवल पचास वर्षों के बाद ही फ्रेचाइजिंग विश्वप्रसिद्ध चमत्कार है । आश्चर्य नेटवर्क मार्केटिंग मौलिक सीनर्जी जम है । एक्शन के लिए । कल्पना करें कि आप संपत्ति अर्जन के मौलिक सीनर्जी जम के इंसान हैं । सीनर्जी जब इतना विस्मयकारी है, इतना सामर्थ्य साली है कि यह है इस ग्रह पर प्रत्येक व्यक्ति को व्याप्त हो जाएगा और इस प्रक्रिया में उनके जीवन को समृद्ध वहाँ उन्नत कर देगा । आपका सीनर्जी जब इतना अनुकरणीय होना चाहिए कि कोई भी उसकी नकल कर सकें । आपका सीनर्जी जब कम खर्चीला होना चाहिए कि कोई भी उसे संबंध हो सके । आप कैसे एनर्जी जब लीनियर के स्थान पर एक्सॅन ग्रोथ होना चाहिए । आपके सीनर्जी जम को दोनों में व्याप्त होना चाहिए । पुरुष, महिला, युवा और रन धनी । वह गरीब आपका ऍम संपत्ति अर्जन के लिए परम नकल सिस्टम होना चाहिए । मुझे यह बताते हुए अत्यंत प्रसन्नता हो रही है कि एक ऐसा ही मौलिक सीनर्जी जब उपलब्ध है यह स्वर्ग से निश्चित थोडी है विश्व के इतिहास में संपत्ति अर्जन करने के अत्यंत सामर्थ्यवान दो तरीक ों का सर्जन सेल संयोजन यह है फ्रंचाइजी जो फॅमिली बढती है नेटवर्क मार्केटिंग की सीनर्जी जब अपने आप में उत्कृष्ट है । ये है आइसक्रीम का कौन है यह आॅटोमोबाइल हैं । यह फैक्स मशीन है । मेरे सपनों पर ध्यान दीजिए यदि आप समझते हैं कि फॅमिली बडी चीज है तो आपने अभी तक कुछ नहीं देखा है । अध्याय साथ नेटवर्क मार्केटिंग, मौलिक नकल सिस्टम । अभी तक हम इस बात पर सहमत हो चुके हैं कि अनुकरण करना ही फ्रेंचाइजी की सफलता की कुंजी है । और ये है भी कि चक्रवर्ती के द्वारा एक्सॅन ग्रोथ समय का मान रखने वाला संपत्ति अर्जन का एक तरीका है । इसलिए मैंने नेटवर्क को मौलिक सीनर्जी जिनका नाम दिया है । इसमें मनसाई जी की धारणा में से उत्कृष्ट के साथ एक्सॅन ग्रोथ की धारणा में से उत्कृष्ट का संयोजन होता है । यह तो स्वर्ग में निश्चित विवाह ही है । संपत्ति अर्जन के मौलिक नकल सिस्टम नेटवर्क मार्केटिंग का सर्जन करने के लिए इसका संयोजन किस प्रकार से होता है यह सीखने से पूर्व आइए इन दोनों धारणाओं में से प्रत्येक पर हम कुछ क्षण विचार करते हैं । बिन मोल सेवक का ये है उदाहरण हैं । जैसा कि मैंने पहले ही बताया है एक्सॅन ग्रोथ जिसे चक्रवर्ती और दुगुनी करन की धारणा के नाम से भी जाना जाता है । समय का मान रखने वाला संपत्ति अर्जन का एक तरीका है जिसका हजारों वर्षों से धनी लोग लाभ उठाते रहे हैं । बाइबल में भी चक्रवृद्धि के लाभ की महत्वता को प्रतिपादित किया गया है । बिन मोल सेवक का एक दृष्टांत ये सुने भी दिया है दृष्टांत इस प्रकार से एक बहुत बडी संपत्ति का मालिक लम्बी व्यापारी की यात्रा पर जाने की तैयारी कर रहा था । उसने अपने तीन विश्वसनीय सेवकों को बुलाया और प्रत्येक को कुछ रासी सुरक्षित रखने के लिए दी । पहले सेवक को पांच हिस्से मिले, दूसरे सेवक को दो इस से मिलेंगे और तीसरे सेवक को एक हिस्सा मिला । पहले दो सेवकों ने उन्हें प्राप्त राशियों का निवेश कर दिया और जब उनके स्वामी वापिस आए तब तक उन्होंने मूलधन को दोगुना कर दिया था । मालिक नहीं उनकी समझदारी की सराहना की । तीसरे सेवक ने जिसे धन के खो जाने का भय था, उसने मिली संपत्ति को जमीन में दबा दिया । उसने उसे मिली संपत्ति को ही अपने मालिक को वापिस क्या धन का निवेश नहीं करने के कारण मालिक ने सेवक को भला बुरा कहा और उसे तत्क्षण से नौकरी से निकाल दिया? आपके लिए कार्य करने हेतु धन को लगाए । विवेकसम्मत और उत्पादक पूर्ण निर्णयों को लेने के महत्व को इस दृष्टांत में समझाया गया है । चाहे वे वित्तीय निर्णय हूँ या फिर आध्यात्मिक हूँ । अवसर या धन या योग्यता या क्षमता या सहानुभूति से अनुग्रहित होना ही पर्याप्त नहीं होता । वास्तविक मुद्दा तो यह है कि इन अनुग्रह का आप क्या करते हैं, इन्हें जमीन में दबा देते हैं जिससे कि वे एक वैसे ही रही अथवा विवेकपूर्ण तरीके से इनका निवेश करते हैं जिससे कि वे बढे और दुगुनी हो । ऍम विरोध का सामर्थ्य सुस्पष्ट है । आप अपने धन को अपने लिए कार्य करने है तो लगाते हैं जिससे की आप उसे दोगुना और उन्हें दोगुना बार बार कर सकें । चक्रवृद्धि के साथ आपका धन आपके लिए कार्य करता रहता है । उस समय भी जब आप सो रहे होते हैं । चक्रवर्ती विश्व का आठवां आश्चर्य हैं । यह कहते समय आॅस्टिन जानते थे कि वे क्या कह रहे हैं । समय महत्वपूर्ण है । निश्चित ही इसमें कुछ समस्या है अन्यथा संपत्ति अर्जन के एक्सॅन सिस्टम की प्रत्येक व्यक्ति को भी कर सकता था और संसार का प्रत्येक व्यक्ति हमीर होता सही है नहीं । पारंपरिक चक्रवर्ती में दो चुनौतियां होती है और हम में से अधिकांश के लिए ये बडी चुनौतियां होती है । पहली है धन निवेश के लिए सभी खर्चे पूरे हो जाने के बाद हमारे पास कुछ धन से भी बचना चाहिए । बदकिस्मती यह है कि ऐसा कोई कोई ही होता है । किसी कमेडियन ने एक बार कहा था, हम में से अधिकांश का धन माह के प्रारंभ में ही समाप्त हो जाता है । एक औसत व्यक्ति खुशकिश्मत होता है यदि वह मासिक सो डॉलर बता सकें और वर्ष में बारह सौ डॉलर बता सके । क्या यह छोटी सी बचत नहीं है? दूसरे चक्रवर्ती की मार्ग पर आपके धन को बढाने में समय लगता है । बहुत अधिक समय यदि स्टोक मार्केट में दस प्रतिशत की दर से वृद्धि हो तो एक हजार डॉलर को दोगुना होकर दो हजार डॉलर होने में सात साल से अधिक का समय लगता है । यदि आपके पास निवेश करने के लिए केवल थोडा सा ही धन हो या ज्यादा भी हो तो दुगुने करन की धारणा आज आकर्षक नहीं लगती । वास्तविकता यह है कि बहुत सारे लोग चक्रवर्ती के द्वारा अपने धन को दोगुना करके अमीर होने में व्यस्त हैं लेकिन नेटवर्क मार्केटिंग को धन्यवाद । आज फ्रंचाइजी प्रकार का सिस्टम उपलब्ध हैं जिससे आप दसकों के स्थान पर संपत्ति और स्वतंत्रता एक्सॅन रूप में कुछ महीनों और वर्षों में ही अर्जित कर सकते हैं । सिस्टम ही उत्तर है क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग बहुत अधिक अनुकरणीय है । संपत्ति अर्जन के लिए यह है मौलिक कब टिकेट सिस्टम है यह कम खर्चीली फ्रैंचाइज प्रकार की धारणा है जो किसी प्रकार की संभावना नहीं छोडती है । नेटवर्क मार्केटिंग में सफलता के लिए आपके पास काम क्रूज या वेट नी हाउ सन की भांति स्टार योग्यता का होना आवश्यक नहीं है और अल्बर्ट आइंस्टीन या बिल गेट्स की भांति जीनियस होकर जन्म लेने की भी जरूरत नहीं है । मनोरंजन उद्योग के अनुरूप नेटवर्क मार्केटिंग की निर्मित केवल स्टार के चारों ओर ही नहीं होती । इसकी निर्मिति सामन्य लोगों के इर्द गिर्द होती है जो प्रमाणिक सिस्टम की काफी राइटिंग कर ऐस सामान्य परिणामों को प्राप्त करते हैं और फिर दूसरों को भी वैसा ही करने के लिए सिखाते हैं । लेकिन फ्रेंचाइजी को प्रारंभ करने के लिए हजारों डॉलर को खर्च करने के स्थान पर आपको आपने नेटवर्क मार्केटिंग के फ्रेंचाईजी को प्रारंभ करने के लिए केवल कुछ सोच डॉलर्स का ही निवेश करना होता है । इसलिए कुछ लोग नेटवर्क मार्केटिंग को लोगों की फ्रेंचाइजी कहते हैं और इसलिए मैं इसे वैकल्पिक ऍम कहता हूँ । सही योजना की नकल करें एक बडे लाभदायक फ्रेंचाइजी को स्थापित करना और एक बडे लाॅ को स्थापित करना एक जैसा ही है । मास्टर काफी कैटर के रूप में आपकी क्षमता एक योग्यता जिसके संदर्भ में हम सहमत है कि यह आप में है जो आपको इश्वरीय देन है जिससे आपको फायदा उठाना है । केवल अंतर इतना ही है कि नेटवर्किंग के द्वारा आप फ्रेंचाइजी प्रकार की धारणा को नकल करते हैं जो वास्तविक संपत्ति अर्जित करती है । इसके विपरीत नौकरी की नकल से आप ऐसा या आमदनी का अर्जन करते हैं । जब आप किसी फ्रेंचाइजी में आपने धन का निवेश करते हैं या जब आप नेटवर्क मार्किंग व्यापार में अपने समय का निवेश करते हैं तो आप वास्तव में क्या निवेश करते हैं? केवल सिस्टम कई बिलियन डॉलर के इंटरप्राइजेज जैसे मैकडोनाल् से कुछ प्राप्ति का प्रयास करने की अपेक्षा सफलता के उनके ब्ल्यूप्रिंट का अनुगमन करने से क्या ज्यादा समझदारी नहीं है? मैं ऑॅपरेशन अपने फ्रेंचाइजी त्रुटिरहित सिस्टम में उपलब्ध कराते हैं । मैकडोनॉल्ड स्टेट आपके आठ ट्रेनिंग सेंटर का नाम सुनकर लोगों को शायद हसी आ जाएगी । उसे हैम्बर्ग यूनिवर्सिटी के नाम से जाना जाता है । लेकिन मैक्डोनाल्ड के हेडक्वार्टर में शिक्षण और प्रशिक्षण एक गंभीर व्यवसाय हैं । फॅमिली प्राप्त करने के लिए आपको हैम्बर्ग यूनिवर्सिटी में दाखिला लेना होगा और उनके प्रमाणित सिस्टम जो पिछले पचास वर्षों से सफलतापूर्वक काम कर रहा है, को नकल करना सीखना होगा । यदि सिस्टम को काफी कैट करना सीखने के लिए आप इच्छुक नहीं है तो आपको फ्रेंचाइजी नहीं मिलेगी । यह है एकदम स्पष्ट है । अंतिम बात यह है कि मैं ऍम नहीं स्वीकार करता है, फ्रंचाइजी ही विजेता है । यह कहना उचित होगा कि उन्नीस सौ अस्सी से नब्बे के दौरान फाॅगिंग विश्व का सर्वश्रेष्ठ कॉन्सेप्ट था और इंडस्ट्री आज तक उस समर्थकारी को नकदी का उपभोग कर रही है । एंटरप्रेनर में एक दिन के अनुसार उन्नीस सौ में विश्व में पहले पांच लाख चालीस हजार फ्रेंचाइजी ने सात सौ अट्ठावन बिलियन डॉलर का व्यापार किया । सात सौ अट्ठावन बिलियन डॉलर पचास वर्ष पहले ऍम समझा गया । यह है आश्चर्यजनक है की इंडस्ट्री इसी की प्रतिष्ठा का आज भी उपभोग कर रही है । नेटवर्क मार्केटिंग की तुलना फ्रंचाइजी से कैसे करें एक सफल फ्रेंचाइज डर के रोल को नेटवर्क मार्केटिंग अपना आती है । गुणवत्तायुक्त उत्पाद और टर्न की सिस्टम जो निश्चित मार्केटिंग और और प्रशिक्षण सामग्री जैसे ब्लॅक, लेट और इत्यादि से समर्थित होते हैं, की मार्फत नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी फॅमिली सहायता करता है । जब फाॅगिंग और नेटवर्क मार्केटिंग दोनों मिल जाते हैं तो सिस्टम ही सफलता की कुंजी बन जाता है । अनुकरण करने में आपकी क्षमता पर ही आपकी सफलता निर्भर होती है, खोज में नहीं मौजूदा सिस्टम की काफी कटिंग में आप कितने अच्छे होते हैं, उतना ही अधिकार सफल होते हैं । आपने नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी को कब ज्वाइन किया है, इस से कोई मतलब नहीं होता । आप अपनी कंपनी के मुख्य हमेशा बने रहेंगे और आपका प्रत्येक स्वतंत्र डिस्ट्रीब्यूटर ही अपनी कंपनी का मुखिया होता है । मुख्यतय है मुख्य कार्यकारी अधिकारियों का नेटवर्क है फ्रंचाइजी की अपेक्षा नेटवर्किंग की खूबियाँ यद्यपि फाॅगिंग और नेटवर्किंग दोनों ही काफी कैट सिस्टम है, लेकिन फ्रंट साइज की तुलना में नेटवर्किंग कईप्रमुख सुविधाओं का उपभोग करता है । नेटवर्क मार्केटिंग ने अच्छी बातों को फाॅगिंग अनु करनी है योग्य सिस्टम की धारणा से ग्रहण किया है और बाकी को छोड दिया है जिसके परिणामस्वरूप काफी कैट मार्केटिंग को नेटवर्किंग एक नई ऊंचाइयों पर पहुंचा देती है । इसलिए कुछ विशेषज्ञ इसके सन्दर्भ में कहते हैं स्वतंत्र इंटरप्राइजेज के विकास में उठा हुआ कदम एक्सॅन विरोध के साथ फ्रंचाइजी फ्रंचाइजी के अनुरूप ही आपके नेटवर्क का प्रत्येक डिस्ट्रीब्यूटर अपना स्वयं का व्यापार करता है, उत्पादों का डिस्ट्रीब्यूशन करता है और डिस्ट्रीब्यूटरों के नेटवर्क को तैयार करता है । लेकिन फ्रेंचाइजी की तरह नेटवर्क मार्केट इयर के रूप में आपको फ्रेंचाइजी का रोल नहीं निभाना पडता । अपने व्यापार में अन्य लोगों को लगाकर और संपत्ति अर्जन के एक परमाणु तरीके की नकल करना, उन्हें सिखाने के लिए आप पाँच टाइगर का रोल ने वाले का चयन कर सकते हैं । दूसरे शब्दों में आप कितने ही फॅमिली क्यों ना हो, फ्रेंचाइजीज की उन्नति हमेशा लीनियर ग्रोथ में ही नियत है । इसे मैं कुछ उदाहरणों से स्पष्ट करना चाहूंगा । पहले उदाहरण में मान लीजिए कि आप छह फंसाई जिसके मालिक है आप सहित कितने भी अतिरिक्त फ्रेंचाइजीज प्राप्त कर ले परंतु ग्रोथ हमेसा लीनियर आधार पर ही होगी जिसका मतलब ये है कि आप अपने चाॅइस के कुल लाभ से ज्यादा नहीं कमा सकेंगे । दूसरा उदाहरण है । मान लीजिए कि आप स्वतंत्र डिस्ट्रिब्यूटरों के एक बढ रहे नेटवर्क के मुखिया है । कुछ समय के अंदर ही आपने स्वतंत्र है, अच्छे डिस्ट्रीब्यूटरों का नेटवर्क तैयार कर लिया है और स्वयं सीखी हुई नकल का अनुकरण उन्होंने सिखाकर आपने छह डिस्ट्रिब्यूटरों के रूप में स्वयं आपने छह प्रतिरूप तैयार कर लीजिए । इन साहू प्रमुख डिस्ट्रिब्यूटरों में से प्रत्येक इस सिस्टम की काफी कैट करता है और छह नए डिस्ट्रिब्यूटरों को तैयार करता है । और ये है प्रक्रिया सारी रहती है डिस्ट्रीब्यूटरों को तैयार करने तथा आपने अपने संस्थान में क्या क्या है इसकी काफी कैट करना अपने नए व्यक्तियों को सिखाकर आपने अपने व्यापार की लिवरेजिंग हजारों वैकल्पिक फॅसे कर ली है और यह तो केवल बर्फ की सतह पर दिखाई देने वाला हिस्सा है । जब ऍम ग्रोथ की दोगुनी कंदार ना काम करने लगेगी तो क्रोध विस्मयकारी हो जाएगी । एक्सॅन विरोध के समर्थक की वजह से कुछ नेटवर्क मार्केटिंग के पास हजारों की संख्या में संस्थान होते हैं । शायद हजारों से भी कई हो नहीं । इन सभी डिस्ट्रीब्यूटरों में से प्रत्येक के पास अर्जित समेकित उत्पाद पर मात्रा पर प्राप्त कमीशन की कल्पना करें, इसमें कोई आश्चर्य नहीं है । इसलिए कुछ नेटवर्क मार्केट इयर अमीर और प्रसिद्ध व्यक्तियों की तरह जीवन बिताते हैं । केवल संस्तुत करने के लिए ही आप भुगतान प्राप्त करते हैं । हम सभी जानते हैं कि उत्कृष्ट विज्ञापनों वही होता है जिसका प्रचार हम सुबह अपने मुख से करते हैं । क्या यह है? सही नहीं है यही तो हम हम ऐसा करते रहते हैं । यदि हम अच्छी फिल्म देखते हैं जैसे फारेस्ट गम तो अपने साथियों को भी देखने के लिए कहते हैं । लेकिन जब हमारे मित्र देखने जाते हैं तो क्या हमें भुगतान मिलता है? नहीं, बिल्कुल नहीं । इसी प्रकार कुछ लोग अच्छे रेस्टोरेंट की तारीफ करते हैं । जब हम किसी अच्छे रेस्टोरेंट में खाना खाते हैं तो अपने परिवार में मित्रों को उसके संबंध में बताते हैं । लेकिन हमारे मित्रों द्वारा भोजन करने पर क्या रेस्टोरेंट मालिक हमें कमीशन देता है? बिल्कुल नहीं । नेटवर्क मार्केटिंग में आपके उपयोग किए जा रहे उत्पादों और सेवाओं को किसी भी प्रकार संस्तुत करने पर आपको कमिशन मिलता है । यह एक विन विन स्थिति है जिसमें दोनों फायदे में रहते हैं तथा विश्व में यह एक बहुत ही प्रभावी और नैतिक प्रकार की मार्केटिंग हैं । नेटवर्क मार्केटिंग कैसे कार्य करती है? आप जानते ही हैं कि मैकडोनाल्ड ने विश्व भर में फैले अपने बीस हजार से ज्यादा रेस्टोरेंटों के साथ अपना व्यापार प्रारंभ नहीं किया था । उन्होंने तो केवल एक ही रेस्टोरेंट से अपना व्यापार प्रारंभ किया था और फिर पहले के अनुरूप ही दूसरा रेस्टोरेंट प्रारम्भ किया । इसी तरह आप भी ऍसे एक्सॅन विरोध को प्राप्त करना प्रारंभ कर सकते हैं । आपको केवल स्वाॅट अपने आप और एक अन्य व्यक्ति के साथ प्रारंभ करना है । क्या आपको ऐसा लगता है कि आपके व्यापार में प्रति माह एक नए व्यक्ति का समावेश कर पाना आपके लिए संभव है? केवल एक पार्टनर जो स्वतंत्रता, पहचान, खुशियाँ और सुरक्षा में विश्वास करता हूँ । एक पार्टनर जो आपने तथा अपने परिवार के जीवन स्तर को सुधारना चाहता हूँ, एक माह में केवल एक अच्छा व्यक्ति केवल यही इस की जरूरत है । प्रति माह एक व्यक्ति के हिसाब से चार हजार छह में कैसे हो जाते हैं? जब एक बार आपने किसी व्यक्ति का समय वेज आपने नेटवर्क में कर लिया, आप उसके प्रशिक्षक बन जाते हैं । आपको अपनी कंपनी के उत्पादों को बेचने के लिए अपने प्रयास करने की आवश्यकता नहीं होती है । आपको तो केवल नए व्यक्ति को सिस्टम की प्रभावी तरीके से नकल करना सिखाना होता है । अब दूसरे महीने में आपको आपने पहले व्यक्ति को यह ऐसी खाना होगा कि आपने जो कुछ भी किया है, उसकी नकल वह कैसे करें । साथ ही आपको एक नए व्यक्ति का भी समावेश करना होगा । अब आपके पास चार व्यक्तियों का ग्रुप है आप और तीन अन्य सही है । उसके बाद आप अपने स्पोंसर करता के सिस्टम की नकल करने लगते हैं और साथ ही अपनी सुबह की नकल करना अपने नए पार्टनरों को सिखाते हैं । तीसरा मा चौथे माह पांचवें और आगे भी आप यही कार्य जारी रखते हैं । आप के पहले वर्ष की समाप्ति के बाद आपने स्वयं बारह लोगों को स्पोंसर क्या? प्रत्येक माँ के दौरान एक और उनमें से प्रत्येक ने प्रतिमा एक व्यक्ति को स्पोंसर । क्या इसी प्रकार ये है आगे बढा होगा अब पहले वर्ष के अंत में आइए देखते हैं कि एक्सॅन ग्रोथ के एक सामान्य से अनुकरणीय फ्रंचाइजी जैसी धारणा, जिसे नेटवर्क मार्केटिंग कहा जाता है । नहीं आपके बिजनेस को किस प्रकार बनाया है? एक माह में केवल एक व्यक्ति को स्पोंसर वह उनमें से प्रत्येक व्यक्ति द्वारा आपके प्रयासों की नकल कर प्रत्येक माह में एक व्यक्ति को स्पॉन्सर करने से बारह माह के अंत में आपके संगठन में वैकल्पिक फ्रेंचाइजीज के रूप में चार हजार छान में स्वतंत्र बिजनेस करता होंगे । यहीं पर तो इसका विसम में करी रूप नजर आता है । आपके संगठन की बिक्री वॉल्यूम के एक निश्चित प्रतिशत के हिसाब से कंपनी आपको भुगतान करती है । यदि नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी केवल तीन प्रतिशत से अट्ठाईस प्रतिशत के मध्य बिक्री कमीशन का भुगतान करती है तो आप बारह हजार डॉलर से बीस हजार डॉलर प्रतिमाह या अधिक कमा सकेंगे । नेटवर्क मार्केटिंग के संबंध में विवादित तथ्य नेटवर्क मार्केटिंग के सिद्धांत के संदर्भ में हमने बहुत चर्चा कर ली है । इस डायनामिक इंडस्ट्री के संदर्भ में कुछ तथ्यों का अब हम अवलोकन करेंगे । सर्वप्रथम यह है कि नेटवर्क मार्केटिंग सन साइजिंग की तरह पचास वर्ष पुराने इंडस्ट्री है । निर्माता के पास से राहत तक उत्पादों एवं सेवाओं के डिस्ट्रीब्यूशन का ये है एक सामर्थ्यवान प्रभावी तरीका है नेटवर्क मार्केटिंग आज एक सौ पच्चीस देशों में बिजनेस करने का एक सूट स्थापित तरीका है और विश्व भर में लगभग बीस मिलियन लोग किसी ने किसी नेटवर्क मार्केटिंग कंपनी के स्वतंत्र डिस्ट्रीब्यूटर है । लीडर का अनुगमन करें किसी भी इंडस्ट्री का मूल्यांकन करते समय आपको लीडर की ओर देखना चाहिए क्योंकि लीडर की साल से ही इंडस्ट्री की दिशा का पता चलता है । कंप्यूटर सॉफ्टवेयर माइक्रोसॉफ्ट गैर अल्कोहोलिक क्यों में कोका कोला और ऐसे ही अन्य दोनों ही कंपनियां अपनी इंडस्ट्री को उन्नति के मामले में नई दिशा दे रही है । नेटवर्क मार्केटिंग में इंडस्ट्री लीडर ऍफ खेडा निशियन अन्य सभी का नेतृत्व कर रहा है । एम । बी । ए । के पास पीछे तार देशों में ढाई मिलियन डिस्ट्रिब्यूटरों की संख्या है जिनका विदेशी व्यापार ॅ के कुल व्यापार का दो तिहाई है । जापान में आकार और लाभप्रदता के मामले में कोका कोला के बाद एक बहुत तेजी से उन्नति करने वाले विदेशी स्वचालित वाली कंपनी ॅ जापान है । ऍम ने विश्व स्तर पर उन्नीस सौ चौरानवे में पासपोर्ट, तीन बिलियन डॉलर का में छह सौ तीन बिलियन डॉलर का और उन्नीस सौ में छह आठ बिलियन डॉलर का व्यापार किया और वर्तमान में उन्नीस प्रतिशत की दर से वह उन्नति कर रही है अर्थात जिस का मतलब होता है प्रतिवर्ष एक बिलियन डॉलर वो कितना बडा है । हाउस होल्ड और पर्सनल उत्पादों के क्षेत्र में यह है एक विशाल कंपनी है । वार्षिक राजस्व के मामले में प्रॉक्टर एंड गैम्बल के बाद ऍफ का दूसरा नंबर आता है और फॉर्चुन पांच सौ प्रमुख में आने वाले कोलगेट पामोलिव और जाॅनसन से यह आगे है । यह तो स्पष्ट हो चुका है । नेटवर्क मार्केटिंग केवल एक सिद्धांत ही नहीं है और अब ये है विवादात्मक भी नहीं है । बीस वर्ष पहले फ्रेंचाइजी चाहती आज वहाँ नेटवर्क मार्केटिंग है । यह है लोगों की फ्रेंचाइजी बार ना जो कॅाल पडती है और अपनी उन्नति की ऊंचाइयों की ओर इसने बढना प्रारम्भ किया है । विशाल कदमों में थी पिछले कुछ वर्षों के दौरान इंडस्ट्री ने एक अच्छी उन्नति प्रतिष्ठा प्राप्त की है जब मैंने पहले इस इंडस्ट्री के संबंध में उन्नीस सौ नब्बे के दशक के दौरान लिखना प्रारम्भ किया था । नेटवर्क मार्केटिंग बीस बिलियन डॉलर प्रतिवर्ष का व्यापार था । उसके बाद से प्रतिवर्ष दस प्रतिशत की दर से इसमें उन्नति होती गई और उन्नीस सौ छानवे में विश्व स्तर पर इसने सो डॉलर बिलियन की बिक्री को प्राप्त कर लिया है । और सबसे अच्छी खबर यह है की उन्नति की तरफ से मैं तो अभी आनी बाकी है । नेटवर्क मार्केटिंग के स्वर्ण युग में आज हम प्रवेश कर रहे हैं । बीस वर्ष पहले सन साइजिंग जहाँ थी आज वहाँ नेटवर्क मार्केटिंग है जिसका मतलब है कि अभी उत्कृष्टता आनी बाकी है । मैं ऐसा अनुमान इसलिए लगा रहा हूँ क्योंकि नेटवर्क मार्केटिंग के एक्सॅन लाभ की वजह से अगले दशक के दौरान इंडस्ट्री फ्रेंचाइजी बिक्री से आगे निकल जाएगी । यह है एक बहुत बडा झुकाव है । यह विश्वस्तरीय गतिविधि होगी । इसे मैं ईतू गतिविधि का नाम देता हूँ । ई स्क्वेयर से तब प्रिय है, एक्सॅन गृह आधारित इन्टरप्रेनरशिप की लहर है, जो विश्व को अपने आप में समेट रही है । का लाभ लेने के लिए नेटवर्क मार्केटिंग निश्चित ही अपने आप को समर्थन बना चुका है । अब आपको अपने आपसे एक प्रश्न पूछना है । क्या मैं उन लोगों में से एक होंगा जो अगले दशक के दौरान नेटवर्क मार्केटिंग के विषय में अकाली फैलाओ को देखने वाले होंगे? या मैं उन लोगों में से एक होंगा जो उसके फैलाओ को बढाने वाले होंगे और उन प्रक्रिया का लाभ कमाने वाले होंगे? निष्कर्ष अब आपकी बारी है । नकल के संदर्भ पुस्तक का समापन करने का अच्छा तरीका होगा । प्रकृति के सबसे अच्छे नकल की कहानी सुनाना फॅस । इस सुंदर से कीडे का नाम उसे उसके चलने के तरीके से पडा है जो एक के पीछे एक की कतार में चलता है । फॅस अपने आगे वाले फॅार के बहुत बडे कॉपी कैटर होते हैं । वास्तव में केवल वे नकल करना ही जानते हैं । उनकी झुंड में रहने की प्रवर्ति इतनी अधिक शक्तिशाली होती है कि वे एक दूसरे का अनुसरण करते हैं । एक के बाद एक प्रारंभ से अंत तक मीलों तक वर्षों पहले फ्रांस के एक वैज्ञानिक नहीं । इन प्रोसेस नदी कैटरपिलर की झुंड में रहने की परवर्ती के समर्थ है की जांच करने के लिए एक प्रयोग किया । एक बडा वायॅस के मुख्य भोजन पत्तों और ताजे पानी से बढा था केरिम पर बहुत सारे कैटरपिलर उसको छोड दिया । जैसा सोचा गया था वही हुआ फॅसने अपने आगे चलने वाले कॅाल इसके पीछे चलना प्रारंभ कर दिया और इस तरह वे फ्लावर पॉट केरिम का ही चक्कर लगाते रहे । घंटों बिना रुके दिन रात चलते रहे । भोजन और जल कैटरपिलर से केवल कुछ ही इंच की दूरी पर था लेकिन झुंड में उनके चलने की प्रवृत्ति इतनी अधिक शक्तिशाली थी । एक विकेट पिल्लरों से छोडकर अलग नहीं हुआ । लगातार सात दिनों तक चलते रहने के बाद सारे कैटरपिलर थकान से चूर होकर मर गए । आप क्रिकेट के लिए किसको सुन रहे हैं फॅार की बनती हम मानु में भी साथ रहने की प्रवृत्ति बहुत अधिक तेज होती है । इसलिए हम इतने अच्छे क्रिकेटर्स है लेकिन हमारी यहाँ प्रति हमारे सोचने की क्षमता से संकुचित हो जाती है । जब कि कीडे केवल अपने झुंड की दया पर ही पूर्ण आधारित होते हैं । फॅस के विपरीत मानव रूम से अलग हो सकता है । हम ऐसे व्यक्तियों की काफी कटिंग करना बंद कर सकते हैं जिनका सिस्टम हमेंं, घाटे, निर्भरता, शक और बहुत सारे लोगों को संकट में डाल देने वाला हो । या हम ऐसे लोगों की नकल करना प्रारंभ कर सकते हैं जो हमें समृद्धि और सफलता की ओर ले जाएं । आप के बारे में क्या क्या पॅापुलर की बनती है तथा अपने सामने वाले कैटरपिलर की योजना का अंधानुकरण मानव प्रोसेस मेरी कैटरपिलर बनकर पंचानबे प्रतिशत में जाने के लिए कर रहे हैं, जो मत मत प्राइज या सरकारी पेंसर पर जीवन बिताने वाले होते हैं या वास्तविक संपत्ति की ओर ले जाने वाली परमाणु की योजना की नकल कर आप इस झूठ से अलग होना चाहते हैं और पांच प्रतिशत में शामिल होना चाहते हैं । संपत्ति अर्जन के लिए सिस्टम की नकल के हूँ आप काम को क्यों? थोडे और संपत्ति अर्जन करने वाले सिस्टम की नकल क्यों करें? इस प्रश्न का उत्तर एक ही शब्द में दिया जा सकता है स्वतंत्रता, कर्जों से हमेशा के लिए मुक्ति, आप पर काम का ज्यादा वोट डालने वाले बहुत से मुक्ति, अपने खर्चों को पूरा करने के लिए पार्ट टाइम काम करने से मुक्ति, कार्य करने के लिए समय का निर्धारण और अपनी छुट्टियाँ मनमा के गुजारने के लिए स्वतंत्रता, किसी अन्य के स्थान पर अपने सपनों को पूर्ण करने की और छोटी सी धनराशि के लिए पूर्व समय काम करने के दबाव से मुक्ति आपको याद होगा आप जो कुछ चाहते हैं और जब चाहते हैं उसे करने के लिए यथोचित समय और यथोचित धन का होना ही वास्तविक संपत्ति है । वास्तविक संपत्ति फ्री शब्द को फ्री इंटरप्राइज में बदल देता है । मेरे मित्र बिना किसी कारण, इसलिए वास्तविक संपत्ति अर्जन के लिए हमें किसी सिस्टम की काफी कट करना जरूरी है । अब आपकी बारी है आप यह कर सकते हैं । नेटवर्क मार्केटिंग से सफलता के लिए जरूरी सभी हो ना आप में है क्योंकि मास्टर काफी क्षेत्र के रूप में ही आप जन्म हैं । ये है वो है समय है जब आपकी प्रतिशत की श्रेणी से बाहर आ सकते हैं और ऍप्स की भांति एक ही स्थान पर चक्कर लगाने के विपरीत एक ऐसे सिस्टम की काफी कटिंग प्रारंभ कर दीजिए जो आपके लिए संपत्ति का अर्जन करें । इस स्थिति से बाहर निकलने की अब आपकी बारी है तथा वास्तविक संपत्ति पूर्ण स्वतंत्रता का अर्जुन प्रारंभ करें । यह सच है कि आपको ऐसा कुछ करने की आवश्यकता नहीं है जो आप अभी नहीं कर रहे हैं । आपका पिकेटिंग में माहिर है । सही है । आपको ऐसा नहीं लगता कि अब यह समय है । अब आप अपने सपनों के साथ समझौता करने वाले सिस्टम की नकल करने के स्थान पर आप अपने सपनों को साकार करने वाले किसी सिस्टम की नकल करें, यह स्पष्ट है । भविष्य के संबंध में आपका वास्तविक क्या है? वास्तविक संपत्ति का अर्जन करने वाले सिस्टम की नकल के संदर्भ में किसी प्रकार का भय नहीं है । वास्तिक है यह है कि इस विश्व में पंचानबे प्रतिशत लोगों में सम्मिलित हो जाना और मृत प्राइज या परिवार सर्च या सरकार पर आश्रित हो जाना वास्तविक है यह है कि अपने सुनहरे वर्षों में गुजारे लायक पेंशन पर रिटायर हो जाना । वास्तिक है यह है कि जब आप सुबह यह जानती हूँ कि आप कुछ कर सकते हैं, फिर भी आपको सामान्य जीवन स्तर को जीने के लिए विवस होना पडेगा । वास्तिक है यह है कि आपको अपने सपनों को छोडना पडेगा क्योंकि आपने गलत योजना का चयन नकल करने के लिए किया तो उन्हें कभी पूरा नहीं कर सका । मेरे मित्र नकारात्मक विचार वादी व्यक्तियों को अपने सपने कभी चुराने नहीं देने चाहिए । नकारात्मक विचार वादी व्यक्ति फॅार की भांति होते हैं । वे उनके सिस्टम की काफी कैट करने के लिए आपसे कहेंगे जिनका जीवन वेतन चेक से वेतन चेक तक ही होता है और जो शायद दिशाहीन होकर केवल चक्कर ही करता रहता है । अवसरों को कभी खोना नहीं चाहिए । वास्तविक स्थिति को अर्जन कर स्वतंत्र होने की अब आपकी बारी है । लेकिन आपको एक अलग भगवान की काफी कटिंग करना होगी । हमेशा याद रखें, अवसरों को उसी वक्त पकडना चाहिए जब वे आपको दिए जा रहे हूँ । नए की जब आप सोचो कि आप उसके लिए तैयार है जैसे कि मैं हमेशा कहता हूँ अवसरों को कभी खोना नहीं चाहिए । कोई दूसरा उन का लाभ उठाने के लिए तैयार खडा रहता है । इस अवसर को अपने पास से निकलने नहीं देंगे । इसे पकडने का मौका आपका है । आप यह कर सकते हैं । आप एक अच्छे काफी कैटर है । फॅमिली के बाद उपलब्धि इस बडी आर्थिक गतिविधि का लाभ उठाने के लिए आपसे हमको एक मौका दीजिए । आज नेटवर्किंग उस स्थान पर है जहाँ अपन साइजिंग बीस वर्ष पहले थी । सो बिलियन डॉलर प्रतिवर्ष का व्यापार जो आने वाले दशक दौरान बढकर सात हजार बिलियन डॉलर का हो जाएगा । इंतजार नहीं करें । इससे संबंध होने के लिए इससे अच्छा समय कभी नहीं होगा । पांच प्रतिशत में आने के लिए अब आपकी बारी है । किसी दूसरे से पहले आप इस अवसर का लाभ उठा लेंगे । आप एक अच्छे काफी बेहतर है । आपकी योग्यता इससे सफलता प्राप्त कर सकेगी । इससे अच्छा समय कभी नहीं होगा । यह आपके योग्य है । संपत्ति अर्जन की अपनी राह की कॉपी कहत करने की अब आपकी बारी है । धन्यवाद । आप का दिन शुभ हो ।

Details
Click for Full Hindi Audiobook - https://anchor.fm/hindiaudiobook कर्जों से मुक्ति बॉस से मुक्ति तनाव से मुक्ति बर्क हेजेज द्वारा लिखित पुस्तक कॉपीकैट मार्केटिंग 101 संपत्ति प्राप्त करने का असली रास्ता जानने के बारे में व "नेटवर्क मार्केटिंग" व्यवसाय की आवश्यकता के बारे में एक प्रेरक पुस्तक है। इसका एक प्रेरक वाक्य है: “हमेशा से आप जो करते रहे है, यदि आप हमेशा वही करते रहेंगे तो, आपको वही सब मिलेगा जो आपको हमेशा से मिलता रहा है।“ Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges in Hindi, is one of our best motivational audiobooks available in Hindi from our catalogue. This Audiobook is created by MS Ram. MS Ram is well known for his motivational audiobooks. This Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges audio will fill you with all the positive vibes and make you ready to spend your day on a positive note. Sit back. Calm yourself. Close your eyes. Experience the world of motivation; some few words can sparkle life with magic. Listening to Motivational audiobooks is one of the best ways to rejuvenate your inner-self. We understand that our users emotionally connect with the audios more when it is in their language. Hence we offer a variety of motivational audiobooks in different languages like Hindi, Gujarati, Telugu, Marathi, Bangla etc. These audiobooks are available for free and can be downloaded and saved on our app. And the best part is that you can access it while travelling, while working out in the gym, and literally doing anything, anywhere at any point of time be it early morning or late night. So, stream, download, and enjoy the ad-free experience. Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges ,हमारी सूची में उपलब्ध हिंदी में उपलब्ध सबसे अच्छे प्रेरक ऑडियोबुक में से एक है। यह ऑडियोबुक MS Ram द्वारा प्रस्तुत की गई है। MS Ram एक प्रमुख प्रस्तोता है जो उनके प्रेरक ऑडियोबुक के लिए मशहूर है। यह Copycat Marketing 101 Written by Burk Hedges ऑडियो आपको सभी सकारात्मक उर्जा से भर देगा और आपको एक सकारात्मक नोट पर अपना दिन बिताने के लिए तैयार कर देगा। आराम से बैठे। अपने आपको शांत करें। अपनी आँखें बंद करें। प्रेरणा की दुनिया का अनुभव करें। कुछ शब्द जादू की तरह जीवन में रंग भर सकते हैं। मोटिवेशनल ऑडियोबूक को सुनना आपके भीतर के आत्म-कायाकल्प के लिए अच्छा है। हम समझते हैं कि हमारे उपयोगकर्ता भावनात्मक रूप से ऑडिओ से अधिक जुड़ते हैं जब यह उनकी भाषा में होता है। इसलिए हम विभिन्न भाषाओं जैसे हिंदी, गुजरती, तेलुगू, मराठी, बंगला आदि में विभिन्न प्रकार के प्रेरक ऑडियोबुक प्रदान करते हैं। ये ऑडियोबुक मुफ्त में उपलब्ध हैं और हमारे ऐप पर डाउनलोड किए जा सकते हैं। और सबसे अच्छी बात यह है कि आप इसे यात्रा करते हुए, जिम में वर्कआउट करते हुए और शाब्दिक रूप से कहीं भी, किसी भी समय कहीं भी इसे सुबह या देर रात को सुन सकते हैं। तो, विज्ञापन-मुक्त अनुभव को स्ट्रीम करें, डाउनलोड करें और आनंद लें।