LANGUAGES
Anupam Kher Prastut karte hain Bharatvarsha : Kabir in hindi | अनुपम खेर प्रस्तुत करते हैं भारतवर्ष : कबीर  हिन्दी मे |  Audio book and podcasts

Anupam Kher Prastut karte hain Bharatvarsha : Kabir in hindi

Listens
5,436
Comments
14
Duration
00:54:46
Creator

कबीर का शव नहीं मिला, पर फूलों का ही बंटवारा हो गया. उन फूलों से अब मगहर में मज़ार भी है और समाधि भी है. ये कहानी शत-प्रतिशत सही हो तब भी और काल्पनिक हो तब भी, कबीर की तलाश में हमारी मदद करती है. कबीर हमारे बीच अपने शब्दों के ज़रिए ज़िंदा हैं|

  • More like this