BlogAbout us

Made with  in India

है दिल का क्या कसूर | लेखक - अर्पित अग्रवाल in hindi |  हिन्दी मे |  Audio book and podcasts

है दिल का क्या कसूर | लेखक - अर्पित अग्रवाल in hindi

मिलिए सिद्धार्थ से, एक अच्छा वकील लेकिन एक बुरा इंसान। मिलिए राहुल से, एक अच्छा इंसान लेकिन एक बुरा डॉक्टर। और मिलिए शुचि से, एक अच्छी इंसान और एक बाकमाल डॉक्टर। शुचि सिद्धार्थ को एक अच्छा इंसान और राहुल को एक अच्छा डॉक्टर बनाना चाहती थी लेकिन मुंबई में हुए बम विस्फोट ने उनकी ज़िन्दगियों को उलट दिया। सुनें इस क्रांतिकारी कहानी को यह जानने के लिए कि कैसे सिद्धार्थ अदालत से एक अनोखी जनहित याचिका पारित करवाता है और कैसे राहुल एक बहुत अनोखी सर्जरी करने में कामयाब होता है उस लड़की को बचाने के लिए जिससे वो प्यार करते हैं। Follow Arpit Agrawal to get updates on his next book. • Facebook – arpit194 • Instagram – arpit1904 Voiceover Artist : Ruby Producer : Kuku FM Author : Arpit Agrawal ‘Take my heart forever’ is written by Arpit Agarwal. The story revolves around two male and a female protagonist who hail from two of the greatest professions i.e. Law and Medicine in precise. Dr. Rahul met Dr. Shuchi when they first met and Dr. Rahul fell in love with Dr. Shuchi. Gradually, they develop mutual feelings for each other. Another character Siddhartha is portrayed as a good lawyer but falling short of empathy and humanity. However, he also falls in love with Dr. Shuchi. The connection between the two male characters is Shuchi. Shuchi tries to make a good human out of Siddhartha and a good doctor out of Dr. Rahul. As the story moves ahead, the story takes a turn and the lives of the three changes. The story takes us through the horrific incidents that we ever witnessed in the history i.e. Mumbai attacks. The author takes you on a journey revealing the poor medical condition of India, injustice by power corrupts, and terrorism. Listen to the audiobook of ‘Take my heart forever’ in Hindi. You can either listen to it online or download it for free. 'है दिल का क्या कसूर' किताब अर्पित अग्रवाल ने लिखी है। कहानी दो पुरुष और एक महिला नायक के इर्द-गिर्द घूमती है जो दो महानतम व्यवसायों यानी कानून और चिकित्सा में है। डॉ राहुल जब पहली बार डॉ शुचि से मिले थे तो डॉ राहुल को डॉ शुचि से प्यार हो जाता है । धीरे-धीरे इनके बीच एक-दूसरे के लिए आपसी भावनाएं विकसित होती है। एक और, चरित्र सिद्धार्थ, एक अच्छे वकील के रूप में चित्रित किया है, लेकिन सहानुभूति और मानवता में क्षीण है। हालांकि, वह भी डॉ शुचि से प्यार करते है । दो पुरुष पात्रों के बीच का संबंध शुचि है । शुचि सिद्धार्थ को एक अच्छा इंसान और डॉ राहुल को एक अच्छा डॉक्टर बनाने की कोशिश करती है । जैसे-जैसे कहानी आगे बढ़ती है, कहानी एक मोड़ लेती है और तीनों की जिंदगी बदल जाती है। कहानी हमें उन भयावह घटनाओं के माध्यम से ले जाती है जो हमने कभी इतिहास यानी मुंबई हमलों में देखी थीं । लेखक आपको भारत की खराब चिकित्सा स्थिति, सत्ता द्वारा अन्याय और आतंकवाद का खुलासा करने वाली यात्रा पर ले जाता है । हिंदी में 'है दिल का क्या कसूर' की ऑडियोबुक सुनिए।आप या तो इसे ऑनलाइन सुन सकते हैं या मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं।

  • Episodes

1 Episode 2 mins

Introduction | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

2 Episode 14 mins

Chapter - 1 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

3 Episode 8 mins

Chapter - 2 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

4 Episode 14 mins

Chapter - 3 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

5 Episode 20 mins

Chapter - 4 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

6 Episode 11 mins

Chapter - 5 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

7 Episode 10 mins

Chapter - 6 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

8 Episode 8 mins

Chapter - 7 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

9 Episode 7 mins

Chapter - 8 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

10 Episode 12 mins

Chapter - 9 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

11 Episode 10 mins

Chapter - 10 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

12 Episode 7 mins

Chapter - 11 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

13 Episode 13 mins

Chapter - 12 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

14 Episode 11 mins

Chapter - 13 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

15 Episode 9 mins

Chapter - 14 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

16 Episode 5 mins

Chapter - 15 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

17 Episode 10 mins

Chapter - 16 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

18 Episode 12 mins

Chapter - 17 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

19 Episode 6 mins

Chapter - 18 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

20 Episode 12 mins

Chapter - 19 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

21 Episode 12 mins

Chapter - 20 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

22 Episode 9 mins

Chapter - 21 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

23 Episode 3 mins

Chapter - 22 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

24 Episode 16 mins

Chapter - 23 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

25 Episode 10 mins

Chapter - 24 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

26 Episode 18 mins

Chapter - 25 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

27 Episode 11 mins

Chapter - 26 | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal

28 Episode 4 mins

Conclusion | है दिल का क्या कसूर | Hai Dil Ka Kya Kasoor by Arpit Agrawal