बुरी आलोचना से कैसे बचें?

पॉडकास्टिंग में आने वाली सभी अच्छी चीजों के साथ बाकी क्षेत्रों की तरह कुछ बुरी चीजें जैसे नकारात्मक या बुरी आलोचना भी आती है। अब ये पूरी तरह कलाकार पर निर्भर करता है कि वह कैसे इस नकारात्मकता को लेता है। वह चाहे तो इससे अपने कॉन्टेंट में सुधार ला सकता है या चाहे तो इन से हतोत्साहित हो सकता है।

क्यों?

कोई व्यक्ति बहुत से तरीकों से नकारात्मक रिव्यू दे सकता है। हम मोटे तौर पर इसको दो कैटेगरी में बांट सकते हैं :

  1. रचनात्मक आलोचना
  2. बिना कारण आलोचना

तो इस लेख में हम बहुत से उन तरीकों के बारे में बात करेंगे, जिनसे हम इन रिव्यूज़ को कैसे बिना प्रभावि हुये इस्तेमाल करें, ये जानेंगे।

प्रतिक्रिया

आप इन आलोचनाओं पर अलग अलग तरीकों से प्रतिक्रिया दे सकते हैं। यह उस आलोचना या कॉमेंट पर निर्भर करता है। यदि आप के कॉन्टेंट को नहीं, बल्कि आपकी व्यक्तिगत रूप से बुरी आलोचना की जा रही है तो आप को ये सुझाव दिया जाता है कि बस उस कॉमेंट को रिपोर्ट करें और हटा दें।

लेकिन यदि कॉन्टेंट पर कोई टिप्पणी हुयी है, तो आप को सही भाषा में उसका रिप्लाई करना चाहिए। इससे दूसरे लोग भी आप के व्यवहार की प्रशंसा करेंगे और साथ ही आपको भी ये एहसास होगा कि किसी भी परिस्थिति में खुद को सर्वज्ञ नहीं समझना है।

नजरअंदाज़

बुरी आलोचना किसी भी सीमा तक भी जा सकते हैं। लेकिन उनका उद्देश्य सिर्फ आपको नीचा दिखाना होता है । आप इनको नजरअंदाज करें और इनपर ध्यान न दें। ज्यादातर लोग ध्यान खींचने के लिये ऐसे कॉमेंट्स करते हैं। तो आप को ये खुद तय करना है कि किस लिसनर के कॉमेंट्स पर ध्यान देना है और किसको नजरअंदाज करना है।

सीखना

सीखने के लिये कहीं से भी कुछ मिले उसे ग्रहण कर लेना चाहिये। आप अपने कॉमेंट्स में आये सुझावों को देखें और कोशिश करें कि उन सुझावों पर अमल करें। ये आप को तो बेहतर बनायेगा ही,साथ ही आप के पॉडकास्ट को बेहतर बनाने में भी सहायता करेगा।

सच्चाई

कुछ लोग होते हैं जो उन चीज़ों के बारे में कॉमेंट करते हैं, जिन्हें आप जानते हैं। हम इसी तरह के संसार में रहते हैं। तो प्रभावित करती है बजाएं ये जानें कि आप को हर नकारात्मकता से खुद को दूर रखना है और साथ ही अपनी ऑडियंस के लिए काम करते जाना है।

टिप्पणी मांगें

चाहे अच्छी टिप्पणी हों या बुरी आलोचना, हमेशा होनी चाहिए।इससे आप ये जान पाते हैं कि आप के कॉन्टेंट में क्षमता है, वो बेहतर है या नहीं। आप बहुत से पहलुओं पर काम कर के खुद को बेहतर बना सकते हैं। कॉमेंट्स या रिव्यूज़ मांगने से आपके कॉन्टेंट को प्रमोशन मिलता है। इससे ऑडियंस आप के कॉन्टेंट को ज्यादा सुनते हैं। कॉमेंट्स आप के कॉन्टेंट को प्रमोट कैसे करते हैं, ये जानने के लिये यहां क्लिक करें

समानताओं को देखें

अगर आप एक ही बात या कारण पर काफी सारी बुरी आलोचना देख रहे हैं तो आपको ये जानना होगा कि इसके पीछे कोई कारण तो है। तो ये सुनिश्चित करें कि आप को जब भी मौका मिले, तो उस कमी को दूर करने की कोशिश करें।

बुरी आलोचना से खुद को बचाने के तरीके

आखिरकार हम इंसान हैं, जिनमें बहुत सारी भावनायें होती हैं। हम ये भी जानते हैं कि जब भावनायें जरूरत से ज्यादा हो जायें तो उनसे कैसे निपटना है। हम बिना कुछ किये हार नहीं मान सकते। तो नीचे कुछ तरीके हैं, जो आपको नकारात्मकता में भी सहारा देंगे और अपने लक्ष्य की तरफ ध्यान देने में मदद करेंगे।

प्रशंसा का फोल्डर

हमारा व्यवहार ही एेसा होता है कि हमें नकारात्मक चीजें ज्यादा प्रभावित करती है बजाए सकारात्मकता या प्रशंसा के। इसलिए अपने आप के लिए एक प्रशंसा का फोल्डर बनाएं जिसे आप तब जाकर पढ़ सकें, जब कोई बुरी आलोचना आपको परेशान करे।

लक्ष्य को ध्यान में रखें

लक्ष्य को ध्यान में रखें

आप को ये ध्यान रखना है कि आपने ये पॉडकास्ट उन हजारों लाखों लोगों के लिये शुरू किया है जो आपके साथ जुड़ने वाले हैं। इस बात से फर्क नहीं पड़ता कि कुछ लोग आप के काम को पसंद नहीं कर रहे। इसको ऐसे समझें कि आप का कॉन्टेंट उनकी समझ और दायरे के बाहर है, जो कि पूरी तरह एक सामान्य स्थिति है। आप हर किसी को संतुष्ट नहीं कर सकते। यह संभव भी नहीं है।

आखिर में बस ये ध्यान रखें कि बुरी आलोचना को देखने के बहुत से तरीके हो सकते हैं लेकिन आप वही चुने जो आपके लिए फायदेमंद हो। कभी हार ना माने क्योंकि 100% लक्ष्य हासिल करना जरूरी नहीं है। आप अपने लिए कॉन्टेंट बनाते हैं और उनके लिए कॉन्टेंट बनाते हैं जो आपके साथ हैं ।आप जो भी करें उसमें अपनी खुशी ढूंढें, इससे आप ऐसी ऑडियंस को आकर्षित करेंगे जो हमेशा आपके साथ रहेगी।


1 Comment

Anjali RT · September 1, 2020 at 9:31 am

Your comments and suggestions are precious for my growth

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *