हॉरर स्टोरीज़ व ऑडियो बुक के लिये पॉडकास्ट विवरण कैसे लिखें?  

विवरण या डिस्क्रिप्शन एक ऐसी चीज़ होती है, जो बिना बोले आपके काम का प्रचार करती है।आपका विवरण जितना आकर्षक होगा, आपको उतने ज्यादा लिसनर मिलेंगे। एक क्रियेटर होने के नाते आपका पॉडकास्ट बेहतरीन तो होना ही चाहिये, पर साथ ही आपका विवरण भी बढ़िया होना चाहिए। यह आपके पॉडकास्ट को दिखने में बहुत प्रोफेशनल भी बनाता है।

कहानियां लगभग सभी को पसंद होती हैं। हॉरर स्टोरीज़ और ऑडियो बुक भी पॉडकास्ट लिसनर्स के बीच खूब पसंद की जा रही हैं। अगर आप हॉरर स्टोरीज़ या ऑडियो बुक बनाते हैं, तो आपको ये लेख अंत तक पढ़ना चाहिये। इस लेख में हम आपको बतायेंगे कि हॉरर स्टोरीज़ और ऑडियो बुक के लिये विवरण कैसे लिखें।

हॉरर स्टोरीज़ के लिये पॉडकास्ट विवरण horror stories/हॉरर स्टोरीज़

हॉरर स्टोरीज़ सुनने के अनुभव को और बेहतर करने के लिये उसके विवरण के साथ प्रयोग किया जा सकता है। हॉरर स्टोरीज़ के विवरण रहस्‍यमय होना चाहिये। कहानी की शुरूआत की कुछ सामान्य लाइनें लिखें। इसके बाद बीच-बीच से दो – तीन लाइन उठाकर लिखें और अंत में विवरण को एक सस्पेंस के साथ छोड़ दें। सस्पेंस डरावना लगना चाहिए। शब्दावली ऐसी प्रयोग करें, जो सुनने में शुद्ध और डरावनी लगे। आप साहित्यिक हिंदी का भी प्रयोग कर सकते हैं।

हॉरर स्टोरीज़ अक्सर लोग रात में सुनते हैं। इसलिये आपके विवरण को पढ़कर आपकी कहानी की भयावहता का अंदाजा लग जाना चाहिए।  विवरण जितना ज्यादा डरावना और भयावह लगेगा, उतना ही लोगों के उस पॉडकास्ट पर क्लिक करने की संभावना बढ़ जायेगी। आपका  विवरण अधिकतम 5 से 7 लाइन का होना चाहिए। इस से ज्यादा का विवरण नहीं होना चाहिए।

हॉरर स्टोरीज़ के  विवरण में हमेशा अधूरापन होना चाहिए। भाषा मानक और डरावनी होनी चाहिए। आकर्षक शैली में  विवरण लिखा जाना चाहिए। पढ़ने वाले को एक बार में पढ़कर ही कहानी के डरावनेपन का अंदाजा लग जाना चाहिए। आप उदाहरण के लिये कुकू एफएम पर मौजूद भूतिया चौराहा कहानी सुन सकते हैं व साथ ही इसके विवरण को भी पढ़ सकते हैं।

ऑडियो बुक के लिये विवरण

audiobooks/ ऑडियो बुक

ऑडियो बुक आजकल की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में सबका बहुत-सा समय बचाने का काम कर रही हैं। और साथ ही सबको पसंद भी खूब आ रही हैं। पॉडकास्ट प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध ऑडियो बुक्स के विवरण पढ़ कर आप जान सकते हैं कि ऑडियो बुक्स के लिये किस तरह का विवरण लिखा जाना चाहिये।

किताबें कई तरह की होती हैं। कुछ किताबें सेल्फ हेल्प होती हैं, कुछ पाठ्यक्रम से संबंधित, तो वहीं कुछ कहानियों पर आधारित होती हैं। ऑडियो बुक के विवरण में शुरूआती लाइन में ये जरूर बतायें कि वह किस श्रेणी की किताब है। उसके बाद उसके रचनाकार का नाम भी बतायें।

ऑडियो बुक का  विवरण लिखने के लिये उस किताब की खासियत का भी वर्णन करें। साथ ही यह भी बतायें कि उस ऑडियो बुक को सुनकर लिसनर को क्या नया सीखने को मिलेगा। ऑडियो बुक का विवरण लगभग दो पैराग्राफ तक हो सकता है। इसकी भाषा सामान्य होनी चाहिए। भाषा में ज्यादा हेर-फेर या कठिन शब्दों का प्रयोग नहीं होना चाहिए। जिस तरह की भाषा किताब या पॉडकास्ट में प्रयोग हुयी है, बिल्कुल वही भाषा विवरण में होनी चाहिए।

इस तरह आप किसी भी ऑडियो बुक या हॉरर स्टोरीज़ का विवरण लिख सकते हैं। पॉडकास्ट पर विवरण लिखने से उसे पढ़ने वाले के दिमाग में पॉडकास्ट की छवि बनती है। पॉडकास्ट सुनने वाले आधे से ज्यादा लोग विवरण जरूर पढ़ते हैं। ताकि लिसनर आपके कॉन्टेंट के प्रति आकर्षित हो और आपके पॉडकास्ट को ज्यादा से ज्यादा सुने। आपका विवरण आपकी रीच और लिसनिंग टाइम भी बढ़ाता है। इसलिये आपको आपका विवरण इस तरह लिखा जाना चाहिए, कि पढ़ने वाला एक बार में पढ़कर ही आपके पॉडकास्ट को सुनने के लिये उत्सुक हो जाये। वह बस विवरण पढ़कर ही आपका पॉडकास्ट सुनने के लिये आ जाये।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *