‘सीजन पॉडकास्टिंग’ पॉडकास्टिंग का अनोखा पहलू

अक्सर जब लोग पॉडकास्टिंग शुरू करते हैं, तो वो अपने इस नए सफर को लेकर बहुत ही उत्साहित होते हैं। लेकिन बीतते वक़्त के साथ धीरे-धीरे यह उत्साह कम होता जाता है, और ऐसे में व्यक्ति उस स्थिति पर पहुँच जाता है, जहाँ उसके मन में ख्याल आता है, कि नहीं आज रिकॉर्डिंग का मन नहीं हैं। और ऐसे ही धीरे-धीरे हम ऑडियो रिकॉर्डिंग में अपनी दिलचस्पी खोने लगते हैं। वहीं कई बार अपनी व्यस्त ज़िन्दगी के चलते भी कई क्रिएटर पॉडकास्टिंग की ओर अपना ध्यान नहीं दे पाते।

हालांकि, एक पॉडकास्टर होने के नाते अपनी पॉडकास्टिंग में देरी करना सही नहीं होगा। खैर, आपकी इस मुश्किल को आसान बनाने के लिए आज हम इस लेख में बात करेंगें सीजन पॉडकास्टिंग के बारे में।

बता दें, सीजन पॉडकास्टिंग, पॉडकास्टिंग का एक ऐसा हैं, जो यक़ीनन आपकी पॉडकास्टिंग के इस सफर को बेहतर बना देता हैं।

पॉडकास्ट सीज़न क्या हैं?

पॉडकास्ट सीज़न टीवी पर आने वाले उन्हीं कार्यक्रमों की तरह हैं, जो सीजन 1, सीजन 2 आदि के रूप में प्रस्तुत होते हैं। पॉडकास्ट सीजन में अपने कॉन्टेंट को अलग-अलग भाग में पॉडकास्ट में अपलोड करते हैं।

बता दें, पॉडकास्टर का प्रत्येक सीज़न को लेकर एक अलग फोकस हो सकता है, या फिर पॉडकास्टर एक ही शो को ब्रेक के साथ जारी रख सकते हैं।

पॉडकास्ट सीजन कैसे काम करते हैं?

पॉडकास्ट सीजन में पॉडकास्टर हर हफ्ते एक एपिसोड अपलोड करने के बजाय, अपने कॉन्टेंट को 5, 10 या अपने मुताबिक एपिसोड में बांटकर सीजन के माध्यम से पेश करते हैं।

हर सीजन में कितने एपिसोड रहेंगें यह बात पूरी तरह से पॉडकास्टर पर निर्भर करता है। लेकिन एक सही पॉडकास्ट के लिए जरुरी है, कि एपिसोड की उतनी संख्या का इस्तेमाल किया जाए, जो आपके कॉन्टेंट को खास बना सके। साथ ही पॉडकास्ट का दूसरा सीजन कितने वक़्त में आएगा, यह फैसला करने का हक भी पॉडकास्टर को ही होता है।

कौन-से पॉडकास्ट सीजन के रूप में बेहतर होते हैं?

कुछ पॉडकास्ट दूसरे पॉडकास्ट की तुलना में सीजन पॉडकास्ट के रूप में ज्यादा बेहतर होते हैं, जैसे कि:

एजुकेशनल पॉडकास्ट

पॉडकास्टिंग सीजन में एजुकेशनल पॉडकास्ट काफी सफल पॉडकास्ट रहा है। एजुकेशनल पॉडकास्ट का उद्देश्य लिसनर को शिक्षित और नए स्कील सिखाने में लाभदायक होता है। एजुकेशनल पॉडकास्ट की प्रस्तुति बेहतरीन और विश्वसनीय लिसनर को एकत्रित करने का मददगार तरीका होता है।

मनोरंजन पॉडकास्ट

यदि आपका शो शिक्षित होने के बजाय मनोरंजन पर आधारित है, तो भी आप इसे सीजन पॉडकास्ट के प्रारूप में प्रस्तुत कर सकते हैं। इसके लिए आपको बस आपके सीजन में एक सामान्य डोर तलाशने की ज़रूरत है, ताकि आपका एक सीज़न अन्य सीजन से जुड़ा रहे।

गाइडलाइन्स बनाएं

guidelines

सीजन पॉडकास्ट आपके पॉडकास्ट के तरीके को आसान बनाता है, और आपका कीमती समय भी बचाता है।

लेकिन तभी जब आप सीजन पॉडकास्ट के लिए शुरू से ही गाइडलाइन्स तैयार कर लेते हैं। इससे आपको आगे चलकर परेशानी नहीं होगी। साथ ही ‘अब क्या करना है’ ऐसा कुछ सोचने में आपका वक़्त भी ख़राब नहीं होगा

क्या सीजन पॉडकास्टिंग का लिसनरशिप पर असर होता है?

सीजन पॉडकास्टिंग का ज़िक्र होते ही कई पॉडकास्टर के मन में सबसे बड़ा सवाल यही आता है, कि कहीं ब्रेक के चलते वो अपनी लिसनरशिप ना खो दें। हालांकि ऐसा होना मुमकिन भी है, अगर आपके पॉडकास्टिंग सीजन के पहले सीजन का अंत अच्छे से ना किया जाये तो….

लेकिन अगर सीजन का अंत करने से पहले लिसनर को आने वाले सीजन की जानकारी दी जाये और कुछ सस्पेंस क्रिएट किया जाये, तो यक़ीनन आपके लिसनर को आपके दूसरे सीजन का इंतज़ार जरूर रहेगा।

सीजन पॉडकास्टिंग के फायदे

सीजन के रूप में पॉडकास्टिंग करना उन सभी लोगों के लिए फायदेमंद होता है, जो अपने कार्यों के साथ अपनी पॉडकास्टिंग का सफर जारी रखना चाहते हैं। साथ ही सीजन पॉडकास्टिंग आपको आपके कॉन्टेंट पर फोकस करने में सहायता करता है। यह आपको समय निकालने और खुद को तारोताजा करने का अवसर देता है। सीजन पॉडकास्टिंग की खास बात यह है, कि यह आपको अपने अगले सीजन को और बेहतर बनाने का मौका देती है।

इसलिए यदि आप पॉडकास्ट शुरू करने के बारे में सोच रहे हैं, लेकिन समय की कमी और अधिक काम होने की वजह से पॉडकास्ट करने में सक्षम नहीं हो पा रहे, तो सीजन पॉडकास्टिंग आपके लिए लाभदायक है।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *